सपनों का आशीयाना बनाने के लिए रखे थे लाखों रुपए, दीमक कर गए चट

बड़ी संख्या में लोग आज भी किराए के घर में रहते है।
मकान बनाने के लिए उम्र गुजर जाती है।
अपने सपनों के घर के लिए लोग दिन और रात एक करते देते है।

 

By: Shaitan Prajapat

Published: 17 Feb 2021, 05:07 PM IST

नई दिल्ली। इंसान की मूलभूत आवश्यकता रोटी, कपड़ा और मकान की होती है। रोटी और कपड़ा तो आसानी से हासिल कर लेते है। लेकिन मकान बनाने के लिए उम्र गुजर जाती है। बड़ी संख्या में लोग आज भी किराए के घर में रहते है। आज महंगी के जमाने में मकान बनाने के लिए एक— एक पैसा बचाते है। अपने सपनों के घर के लिए लोग दिन और रात एक करते देते है। लेकिन इतना सब कुछ करने के बाद भी किस्मत में खुद का घर नहीं लिखा हो तो नहीं बनता है। एक ही कुछ एक कारोबारी के साथ हुआ है। उसने खुद के लिए एक आलीशान घर बनाने के लिए बहुत सारे पैसे जमा किए थे। लेकिन लाखों रुपए रद्दी हो गए।

घर बनाने के लिए जमा किए थे पैसे
आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले के माइलवारम में बिजली जमालय नाम का कारोबारी सूअरों को खरीदने और बेचने का काम करता था। बिजली को इससे जो भी लाभ होता उन पैसों को वह बैंक की बजाय अपने घर में जमा करता था। वह अपने घर में एक ट्रंक में रखता था। वह बहुत सारे पैसे जमा करने के बाद खुद के लिए एक आलीशान घर बनाना चाहता था। बहुत दिनों बाद कारोबारी ने एक दिन ट्रंक खोला। फिर जो नजारा देखने को मिला वह देखकर वह हैरान रह गया। नया घर बनाने का अरमानों पर पानी फिर गया। आपको भी यह जानकर ताजुब होगा कि ट्रंक में करीब 5 लाख रुपए जमा किए थे। जिनको दीमक लगने से वह रद्दी बन गए।

यह भी पढ़े :— ’कालू बेवफा चायवाला’ के बाद सामने आया ’दिल टूटा आशिक’ चाय कैफे, लोगों की उमड़ी भीड़

 

लाखों रुपए हो गए रद्दी
ट्रंक में अपने लाख रुपए को रद्दी के रूप में देखकर वह बहुत दुखी और निराश हो गया। उन्होंने अपने कड़ी मेहनत कर एक—एक पाई बचाई थी। लेकिन उसके आखों के सामने लाख रुपए रद्दी का ढ़ेर बन गया। उन पैसे की ऐसी हालत हो गई कि अब वह किसी के काम नहीं आ सकते। क्योंकि सभी नोट कट—फट और सड़ गए थे। इसके बाद कारोबारी ने वो पैसे बच्चों को खेलने के लिए दे दिए। बच्चों के पास इतने सारे फटे नोट कर किसी ने पुलिस को शिकायत कर दी। इसके बाद उनके सिर पर एक ओर नई मुश्किल आ गई। जांच करने पर पुलिस को ट्रंक में बहुत सारे पैसों में दीमक लगे हुए थे। पुलिस ने उसे जब्त कर कारोबारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

Show More
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned