इस गुफा के अंदर का रहस्य जानकर नासा के वैज्ञानिक भी हुए हैरान, बोले- अंदर मत जाना नहीं तो...

  • इस गुफा में हैं कई प्राकृतिक चीजें
  • वैज्ञानिकों को भी हैरान करती है गुफा

Prakash Chand Joshi

December, 0412:25 PM

नई दिल्ली: दुनिया में कई ऐसी गुफाएं हैं, जिनका रहस्य आज तक नहीं सुलझा। ये गुफाएं लोगों समेत खुद वैज्ञानिकों को काफी हैरान करती है। ये गुफाएं कहीं भी हो सकती है, लेकिन इन तक पहुंचना बेहद कठिन होता है। ऐसी ही कई गुफाएं भारत में भी मौजूद हैं। आज हम आपको ऐसी ही एक गुफा ( cave ) के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में जानकर खुद नासा के वैज्ञानिक भी हैरान हैं।

shiv2.png

ये हैं दिल दहला देने वाले 10 सबसे चर्चित रेप केस, जिन्हें आज भी नहीं भूल पाया है ये देश

दरअसल, आज भी ऐसा माना जाता है कि भगवान शिव अपने परिवार के साथ कैलाश पर्वत पर रहते हैं। वहां उनके साथ माता पार्वती, कार्तिकेय एवं भगवान गणेश भी रहते हैं। वे सपरिवार कैलाश पर्वत पर आज भी विराजमान हैं। लेकिन एक और ऐसी मान्यता है जिसके अनुसार भगवान शिव कैलाश पर्वत पर नहीं, बल्कि जम्मू-कश्मीर की एक गुफा में रहते हैं। ये गुफा जम्मू-कश्मीर के लोगों में काफी प्रसिद्ध है और स्थानीय लोगों के अनुसार यह गुफा भगवान शिव का निवास स्थान है। इस गुफा को शिवखोड़ी के नाम से जाना जाता है। दरअसल यह गुफा नहीं, एक प्रकार की सुरंग लगती है, जिसके बारे में कहा गया है कि यह दूसरे छोर पर सीधा अमरनाथ की गुफा में जाकर खुलती है।

shiv3.png

जम्मू से लगभग 140 कि.मी. की दूरी पर ऊधमपुर नामक जगह पर भगवान शिव की यह चमत्कारी गुफा स्थित है। शिवखोड़ी नाम की इस गुफा के भीतर जाने की कोई भी हिम्मत नहीं करता, लेकिन इसके दर्शन करने के लिए रोजाना बड़ी तादाद में श्रद्धालु आते हैं। दरअसल ऐसा कहा जाता है कि जो भी व्यक्ति इस गुफा के अंदर गया है, वो आज तक वापस लौटकर नहीं आया। अगर आप अमरनाथ की यात्रा पर जा रहे किसी भी श्रद्धालु से इस गुफा के बारे में पूछेंगे, तो वह इसके बारे में जरूर जानता होगा। क्योंकि अमरनाथ धाम की यात्रा करने वाले इस गुफा के दर्शन अवश्य करके जाते हैं।

shiv4.png

मान्यता है इस गुफा का अमरनाथ गुफा से ही संबंधित होना। कहा गया है कि गुफा का दूसरा छोर बाबा अमरनाथ जी की गुफा में जाकर ही खुलता है। लेकिन यह कितना सच है इसका पता लगाने के लिए इसके भीतर कोई नहीं जाता। स्थानीय लोगों का तो यह तक कहना है कि प्राचीन समय में साधु-संत इसी गुफा से होकर बाबा अमरनाथ जाते थे। भगवान शिव का निवास कही जाने वाली शिव खोड़ी गुफा 3 मीटर ऊंची और 200 मीटर लंबी है। यह गुफा 1 मीटर चौड़ी और 2 से 3 मीटर ऊंची भी है। इस गुफा की एक और खास बात है, जो इसे भी बाबा अमरनाथ गुफा की तरह चमत्कारी बनाती है। दरअसल जिस प्रकार से बाबा अमरनाथ जी की गुफा का शिवलिंग प्राकृतिक है, उसी प्रकार से इस गुफा का शिवलिंग भी अपने-आप ही बना है।इसे किसी ने भी बनाया नहीं है, किंतु अंतर इतना है कि यह शिवलिंग बर्फ से नहीं बना है। यह शिवलिंग चट्टान द्वारा लिए गए आकार की वजह से बना है, जिसे स्वयं भगवान शिव का आशीर्वाद मानकर लोग इसकी पूजा-अर्चना करते हैं।

Show More
Prakash Chand Joshi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned