यहां मिला दुनिया के अंत का संकेत! 2000 साल में पहली बार हुआ ऐसा... लोगों में बढ़ा खौफ

यहां मिला दुनिया के अंत का संकेत! 2000 साल में पहली बार हुआ ऐसा... लोगों में बढ़ा खौफ

Vinay Saxena | Publish: Sep, 11 2018 04:36:06 PM (IST) | Updated: Sep, 11 2018 04:36:07 PM (IST) अजब गजब

इजरायल में जल्द ही दुनिया के अंत का संकेत करने वाली रहस्यमयी लाल बछिया के पैदा होने की चर्चा जोरों पर है।

नई दिल्ली: दुनियाभर में अलग-अलग कई एेसी भविष्यवाणी हो चुकी हैं, जो महज एक भविष्यवाणी ही बनकर रह गई। ताजा मामला इजरायल का है, जहां जल्द ही दुनिया के अंत का संकेत करने वाली रहस्यमयी लाल बछिया के पैदा होने की चर्चा जोरों पर है। बछिया के जन्म को लेकर दुनिया के अंत का दावा किया जा रहा है। माना जा रहा है कि 2000 सालों में पहली बार इजरायल में लाल बछिया ने जन्म लिया है। लाल बछिया की खबर सोशल मीडिया पर भी तेजी से वायरल हो रही है। कुछ इसको लेकर डरे आैर सहमे हैं तो कुछ इसे पूरी तरह अंधविश्वास बता रहे हैं।

दुनिया के सर्वनाश का संकेत


मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ईसाई और यहूदी धर्म ग्रंथों में लाल बछिया का पैदा होना दुनिया के सर्वनाश का संकेत है। हालांकि, येरुशलम स्थित टेंपल इंस्टीट्यूट की ओर से कहा गया है कि नवजात बछिया का गहन परीक्षण किया जा रहा है।बछिया के पैदा होने की घोषणा खुद टेंपल इंस्टीट्यूट ने यूट्यूब पर की है और यह भी बताया है कि बछिया का परीक्षण जारी है। वहीं, लोगों में को यह आशंका भी सताने लगी है कि शत्रु देशों की सेनाएं परस्पर एक-दूसरे के खिलाफ भिड़ने की तैयारी में हैं और जल्द ही दुनिया का खात्मा हो जाएगा।

बछिया पर चल रहा परीक्षण


बताया जा रहा है कि बछिया के परीक्षण के बाद एक्सपर्ट बताएंगे कि बछिया पूरी तरह लाल है या नहीं। चर्चा है कि किसी देवदूत ने कहा था कि पहली लाल गाय के पैदा होने के साथ ही दुनिया का विनाश हो जाएगा। ईसाइयों और यहूदियों में दुनिया के अंत से जुड़ी भविष्यवाणियों में लाल गाय सबसे महत्वपूर्ण चीज है। बाइबिल में कहा गया है कि धरती पर पूर्ण रूप से लाल बछिया के जन्म लेने का मतलब है कि यहूदी मसीहा ने जन्म ले लिया है।

Ad Block is Banned