क्यूबिकल आकार के मल को देख हैरान थे साइंटिस्ट, इस रहस्य से खुल गया पर्दा

नेवला जैसा दिखने वाले इस जीव का नाम है वॉमबैट (Wombat)।

ऑस्ट्रेलिया और तस्मानिया में पाया जाता है यह जीव

By: Pratibha Tripathi

Published: 30 Jan 2021, 10:41 PM IST

नई दिल्ली। ज्यादातर किसी भी जीव का मल सिलेन्ड्रिकल आकार के होते हैं लेकिन ऑस्ट्रेलिया में काफी समय से क्यूबिकल आकार के मल के मिलने से वैज्ञानिक परेशान थे। आपको बतादें मल पर अध्ययन करने वालों को स्कैटोलॉजिस्ट कहते हैं। ऐसे वैज्ञानिकों को बीते कुछ सालों से चौकोर मल दिखई दे रहा था।वैज्ञानिक इस बात से हैरान थे कि आखिरकार ये किस जीव का मल है।

काफी खोजबीन के बाद स्कैटोलॉजिस्ट (Scatologist) डेविड हू और उनके अमेरिकी साथियों ने क्यूब जैसा मल करने वाले जीव का आख़ीर पता लगा ही लिया। जिस जीव का मल क्यूब जैसा होता है वह ऑस्ट्रेलिया और तस्मानिया में पाया जाता है।

नेवला जैसा दिखने वाले इस जीव का नाम है वॉमबैट (Wombat)। यह जीव एक मीटर तक लंबा होता है और इसका वजन 20 से 35 किलो तक होता है। वैज्ञानिकों की माने तो वामबैट शाकाहारी होते हैं।

वैज्ञानिकों ने जाना चौकोर मल की वजह
वॉमबैट (Wombat) की आंतें इंसानों या दूसरे जानवरों की आंतों से अलग यानी गोल या सिलेंड्रिकल ना हो कर इनकी आंतें दो कड़े और दो लचीले पार्ट में होती हैं। ऐसे में जब मल इस जीव की आंतों से निकलता है तो आंतों की विशेष बनावट की वजह से चौकोर या क्यूब के आकार में बदल जाता है। रात में खाना खोजने वाले वॉमबैट (Wombat) के पाचन की प्रक्रिया भी काफी धीमी होती है। इन्हें एक बार खाना पचाने और मल त्याग करने में 8 से 14 दिन वख्त लगता है।

वैज्ञानिकों की माने तो एक वयस्क वॉमबैट (Wombat) एक रात के दरम्यान 2 सेंटीमीटर आकार के 80 से 100 तक मल त्याग कर सकता है। ऑस्ट्रेलिया और तस्मानिया के जानकार तो यह भी मानते हैं कि वॉमबैट (Wombat) अपने मल की गंध से एक दूसरे से कम्यूनिकेट करते हैं। हालांकि यह बात अभी भी आपुष्ट है।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned