इस शख्स के कान के अंदर कॉकरोच ने बसा रखी थी पूरी कॉलोनी, लेकिन उसके बाद हुआ ऐसा....

  • चीन से सामने आया है ये मामला
  • डॉक्टर भी कान के अंदर देखकर हैरान रह गए

Prakash Chand Joshi

November, 0802:20 PM

अजब गजब

नई दिल्ली: हमारे शरीर का हर एक अंग बेहद जरूरी और संवेदनशील है। चाहे वो आंख, कान, नाक हाथ-पांव आदि कुछ भी हो। बात अगर कान की ही करें तो एक छोटा का भी कण अगर कान के अंदर चला जाए, तो खुजली कर-करके परेशानी होती है। लेकिन जरा सोचिए कि अगर किसी के कान में कॉकरोच ( cockroach ) हो तो फिर, चौंकिए मत जनाब क्योंकि ऐसा ही एक डरा देने वाला मामला सामने आया है।

cock1.png

दरअसल, चीन ( China ) के एक व्यक्ति को सोते समय दाहिने कान में तेज दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल लाया गया। जहां इलाज के दौरान उसके कान में एक मादा कॉकरोच और उसके दस से ज्यादा जिंदा बच्चे मिले। रिपोर्ट के अनुसार, 24 साल का ल्वू पिछले महीने ग्वांगडोंग प्रांत के हुआंग जिले के सनेह अस्पताल में डॉक्टरों के पास गया। अस्पताल के एक ईएनटी (नाक-कान-गले का डॉक्टर) विशेषज्ञ ने कहा कि 'उसने बताया कि उसका कान बहुत दुखता है, उसे ऐसा महसूस होता है कि कोई उसके कान को अंदर से खरोंच और खा रहा है। इससे काफी परेशानी हो रही है।'

राम मंदिर के ऐतिहासिक फैसले में इस प्रधानमंत्री का था बड़ा हाथ, दिखाई थी ये बड़ी हिम्मत

cock2.png

विशेषज्ञ ने कहा, 'मुझे 10 से ज्यादा कॉकरोच के जीवित बच्चे कान के अंदर मिले जो कान के अंदर इधर-उधर घुम रहे थे।' अस्पताल ने कहा कि काले और भूरे रंग वाली मादा कॉकरोच की तुलना में बच्चों का रंग हल्का था और वो छोटे थे। विशेषज्ञ ने ल्वू के कान से चिमटी की सहायता से बड़े शरीर वाली मादा कॉकरोच से पहले एक-एक कर छोटे आकार के बच्चों को बाहर निकाला। अस्पताल के ईएनटी प्रमुख ली जिन्युआन ने स्थानीय मीडिया को बताया कि ल्वू को अपने बिस्तर के पास अधूरे भोजन के पैकेट रखने की आदत थी। इसी के चलते कॉकरोच जैसे जीव आकर्षित होते हैं।

Show More
Prakash Chand Joshi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned