मौत के बाद इसलिए कराहने लगता है इंसान का मृत शरीर, अंदर ही अंदर होता रहता है ये सबकुछ

मौत के बाद इसलिए कराहने लगता है इंसान का मृत शरीर, अंदर ही अंदर होता रहता है ये सबकुछ

Arijita Sen | Publish: Feb, 06 2019 01:23:52 PM (IST) अजब गजब

ऐसा शरीर में गैस बनने और मांसपेशियों के शिथिल हो जाने के चलते ऐसा होता है।

नई दिल्ली। मौत के बाद शरीर का कोई अस्तित्व नहीं होता है। उसे निर्जीव मान लिया जाता है जिसके चलते अन्तिम संस्कार के तहत उस मृत देह को जला दिया जाता है या जमीन में दफना दिया जाता है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि इंसान की मृत्यु के बाद भी उसके शरीर के कुछ अंग घंटों जीवित रहते हैं और अपना काम करते रहते हैं। शायद यही वजह है कि मरने के बाद भी कुछ अंगों को दान में दिया जा सकता है। आइए जानते हैं बॉडी में ऐसे कौन कौन से अंग हैं जो मौत के बाद भी जीवित रहते हैं।

 

dead body

1. मरने के बाद भी इंसान के बाल और नाखून बढ़ते रहते हैं। दरअसल, मरने के बाद त्वचा धीरे-धीरे सख्त होने लगती है और पीछे की ओर खींच जाती है फलस्वरूप नाखून बढ़े हुए लगते हैं और बाल भी बाहर की ओर अधिक निकले हुए दिखाई देते हैं।

2. मौत होने के 24 घंटे तक इंसान की त्वचा की कोशिकाएं जीवित रहती हैं।

 

dead body

3. रक्त संचार बंद हो जाने के कारण मौत के बाद इंसान का दिमाग काम करना बंद कर देता है, लेकिन इसके बावजूद शरीर में ऐसे कई हिस्से होते हैं जहां स्नायु संस्थान के सक्रिय होने की संभावना बनी रहती हैं। इसके तहत नर्व ब्रेन को संदेश भेजने के बजाय स्पाइनल कॉर्ड को सिग्नल भेजने लगती हैं जिससे मांसपेशियों में हरकत और ऐंठन दिखाई देने लगती है।

4. मौत होने पर मांस पेशियां सख्त हो जाती हैं जिस वजह से वोकल कॉर्ड्स के अकडने लगते हैं और अजीब तरह की आवाजें सुनाई देती हैं। इसे कभी-कभार लोग भूत प्रेत से जोड़कर देखते हैं जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है।

 

dead body

5. मूत्र उत्सर्जन के काम को इंसान का दिमाग नियंत्रित करता है। दिमाग जब काम करना बंद कर देता है तो यहां की मांसपेशियां रिलैक्स हो जाने की वजह से मौत के बाद भी पेशाब निकल जाती है।

6. न केवल पेशाब बल्कि मौत के बाद पुरुषों में वीर्य का स्त्राव होता है और तो और यौनांग भी खड़ा हो सकता है। इंसान का ह्दय जब शरीर के अंदर खून को रोकता है तो ये सारा खून एक छोटे से एरिया में एकत्रित हो जाता है। मौत के बाद कैलशियम की वजह से झिल्ली पारगम्य हो जाने की वजह से कोशिकाएं उतनी ज्यादा फैल नहीं पाती है जाती है जितना कि आयन (एक मॉलीक्युलर जो इलेक्ट्रिकली चार्ज होता है) बाहर आते हैं। जब ये आयन बाहर आते हैं तो मसल्स सिकुड़ने लगती हैं और शरीर कड़ा होने लगता है और इन चीजों का स्त्राव होने लगता है।


7. ऐसा अकसर देखा गया है कि मौत के बाद गर्भवती महिलाओं का भ्रूण बाहर आ जाता है। दरअसल ऐसा शरीर में गैस बनने और मांसपेशियों के शिथिल हो जाने के चलते ऐसा होता है।


8. मृत्यु के बाद इंसान के अंदर पाचन क्रिया सक्रिय रहती है।

 

 

 

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned