यह अनोखा सफेद पेंट गर्मी में खत्म कर देता है एयर कंडीशनर की ज़रूरत

सूरज की 99 फीसदी रोशनी को परावर्तित कर सकता है 'सबसे सफेद' पेंट ।
यह सुपर सफेदी गर्मी  की तपिश से राहत दिलवा सकती है ।

By: विकास गुप्ता

Published: 17 Apr 2021, 08:34 PM IST

इंडियाना। गर्मी  में सफेद रंग राहत देता है क्यों कि यह सूरज की रोशनी को परावर्तित करता है। शोधकर्ताओं ने अब ऐसा 'सबसे सफेद' पेंट बनाने का दावा किया है, जिससे इमारतों को पेंट कर दिया जाए तो एयर कंडीशनर की जरूरत ही घट जाए। अमरीका के इंडियाना में पर्ड्यू यूनिवर्सिटी के रिसर्चर ने दावा किया है  कि सूरज की रोशनी को 99.9 फीसदी अवशोषित करने वाले 'सबसे काले' रंग 'वेंटाब्लैक' को टक्कर देते हुए यह नया 'सबसे सफेद' पेंट सूरज की रोशनी को 99 फीसदी परावर्तित करता है। शिउलीन रुआन सहित शोधकर्ताओं की टीम ने कैल्शियम कार्बोनेट की बजाय बेरियम सल्फेट से यह अल्ट्रा-वाइट पेंट बनाया है, जो इसे अब तक की सबसे अधिक सफेदी देता है। इसे अगर कूलर पर पेंट कर दिया जाए तो हवा कहीं अधिक ठंडी हो जाएगी। इसी तरह इस नए पेंट का उपयोग 1,000 वर्ग फीट के छत क्षेत्र को क वर करने के लिए किया जाए तो छत को 10 किलोवाट की कूलिंग के बराबर पावर मिल सकती है।

इतनी घट जाती है गर्मी-
पेंट की सफेदी के असर को शोधकर्ताओं ने बाहरी परिवेश में परखा।  रात में आसपास के परिवेश की तुलना में पेंट की गई सतह 19 डिग्री फारेनहाइट अधिक ठंडी पाई गई। वहीं दोपहर की चिलचिलाती धूप में इससे पेंट की गई सतह, अपने आसपास के तापमान से 8 डिग्री फारेनहाइट कम पाई गई। फिलहाल, पेंट पर और प्रयोग चल रहे हैं। इसके बाद इसका वाणिज्यिक उत्पादन किया जा सकता है।

कैसे बना यह पेंट 'सबसे सफेद' -
इस पेंट के 'सबसे सफेद' होने के पीछे दो वजह हैं। पहली, पेंट में बेरियम सल्फेट रासायनिक यौगिक की उच्च सांद्रता है, जिसका उपयोग फोटो पेपर व सौंदर्य प्रसाधन की सफेदी में होता है। दूसरा कारण यह है कि टीम ने इस रासायनिक यौगिक के विभिन्न आकार के कणों का उपयोग किया है, सभी आकार अलग-अलग मात्रा में प्रकाश परावर्तित करते हैं। इससे यह सुनिश्चित होता है कि पेंट अधिक से अधिक प्रकाश को परावर्तित करे।  

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned