मोटिवेशन : संवेदनशील होने के बहुत सारे फायदे भी हैं

Amanpreet Kaur

Publish: Dec, 08 2017 12:10:59 (IST)

Work & Life
मोटिवेशन : संवेदनशील होने के बहुत सारे फायदे भी हैं

कभी-कभी संवेदनशील लोगों को यह अहसास ही नहीं होता कि वे कितने खुशनसीब हैं।

संवेदनशीलता एक बेहतरीन और अनोखी चीज है। कभी-कभी संवेदनशील लोगों को यह अहसास ही नहीं होता कि वे कितने खुशनसीब हैं। अगर आप संवेदनशील नहीं हैं तो आप कभी एक सच्ची इंसान नहीं बन सकतीं। हालांकि, एक संवेदनशील शख्स होना थोड़ा मुश्किल है लेकिन इस गुण के अपने कुछ फायदे भी हैं-

इंट्यूटिव

जरूरी है कि आप अपने इस व्यवहार को पसंद करें और खुद के लिए अच्छा महसूस करें। इंट्यूशन आपका आंतरिक गाइड होता है, जो आपको किसी भी एक्शन की पूरी तस्वीर दिखाने में मदद करता है। खुद के साथ यह गहरा रिश्ता आपको दूसरे लोगों को अलग तरह से समझना सिखाता है। साथ ही, ऐसे लोग समस्याओं के साथ बेहतर तरीके से डील करते हैं।

सबकी परवाह

जो लोग ज्यादा संवेदनशील होते हैं, वे ज्यादा केयरिंग भी होते हैं। वे अपनी और दूसरों की काफी परवाह करते हैं। याद रखें कि जितना ज्यादा आप ध्यान रखेंगी और परवाह करेंगी, आप उतनी ही मजबूत होंगी। संवेदनशील लोग, बेघर पशुओं की भी मदद करते हैं।

दूसरों की भावनाओं की कद्र

संवेदनशील लोग हमेशा दूसरों की भावनाओं की कद्र करते हैं। अगर आप भी ऐसा करती हैं तो जान लें कि यह आपका एक शक्तिशाली गुण है। हालांकि, गुस्सैल लोगों से आने वाली नकारात्मक भावनाओं और डिस्ट्रेस से आपको सावधान भी रहना चाहिए।

आंतरिक दुनिया से जुड़ाव

संवेदनशील लोगों के पास हर स्थिति के बारे में एक खास नजरिया और भावना होती है। वह अपनी अंदर की आवाज पर ध्यान देते हैं और उसे कभी नजरअंदाज नहीं करते। अगर आप भी संवेदनशील हैं तो आप भी अपनी भावनाओं और आंतरिक मन से जुड़ी होंगी। यही वजह है कि आप कोई भी काम बहुत ही समझदारी और सावधानी के साथ करती हैं।

संवेदनशीलता-रचनात्मकता

अगर आप संवेदनशील हैं तो हो सकता है कि आप क्रिएटिव यानी रचनात्मक भी हों। बहुत से संवेदनशील लोग इंट्रोवर्ट होते हैं और यही उनकी रचनात्मकता को बढ़ावा देता है। ऐसे लोगों के पास दुनिया को देखने और उसे समझने का एक अनोखा और रचनात्मक नजरिया होता है।

सच्चा व्यक्तित्व

संवेदनशील लोग अपने व्यक्तित्व को लेकर वास्तविक होते हैं। वे कभी दिखावा नहीं करते और न ही अपने व्यक्तित्व को लेकर झूठ बोलते हैं। वे जैसे हैं, वैसे ही खुद को स्वीकार करते हैं। ईमानदारी उनका एक बहुत महत्वपूर्ण गुण होती है। ऐसे लोग खुले दिल के होते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

अगली कहानी
1
Ad Block is Banned