scriptBritain to enter recession this year says Experts | श्रीलंका के बाद इस देश पर मंडरा रहा खतरा, 15 लाख परिवार भुखमरी के कगार पर | Patrika News

श्रीलंका के बाद इस देश पर मंडरा रहा खतरा, 15 लाख परिवार भुखमरी के कगार पर

Britain Recession: रूस-यूक्रेन में जारी युद्ध का असर पूरी दुनिया पर पड़ रहा है। अब ब्रिटेन में हालात खराब होने वाले हैं। एक रिसर्च के मुताबिक यहाँ महंगाई के कारण 15 लाख परिवार भुखमरी के कगार पर आ जाएंगे।

Updated: May 12, 2022 07:28:47 am

रूस-यूक्रेन में जारी जंग का असर पूरी दुनिया पर पड़ रहा है। सबसे अधिक कच्चे तेल की कीमतों पर पड़ा है जिसके दाम आसमान छू रहे हैं। कई देशों में आर्थिक मंदी जैसे हालात हो गए हैं और महंगाई ने आम जनता का हाल इन देशों में बेहाल कर रखा है। ब्रिटेन में महंगाई 30 वर्षों के उच्चतम स्तर पर पहुँच गई है और लाखों लोगों के लिए एक समय भी अपना पेट भर पाना मुश्किल हो रहा है। एक रिसर्च के मुताबिक Britain में अगले एक साल में 15 लाख परिवार भुखमरी के कगार पर आ जाएंगे। उनकी स्थिति ऐसी नहीं होगी कि वो अपने आम खर्चो के बिल भी चुका सकें।
Britain to enter recession this year says Experts
Britain to enter recession this year says Experts
National Institute of Economic and Social Research की रिपोर्ट में क्या है?
NIESR के मैक्रोइकॉनॉमिक्स के उप निदेशक, बैंक ऑफ इंग्लैंड के पूर्व अर्थशास्त्री, स्टीफन मिलार्ड ने कहा, "ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था के लिए समय मुश्किल है।"

NIESR का अनुमान है कि लगभग 1.5 मिलियन ब्रिटिश परिवार जोकि पूरे देश की कुल जनसंख्या का लगभग 5% है, उन्हें जल्द ही भोजन और बिजली के बिलों को चुकाने में कठिनाई का सामना करना पड़ेगा क्योंकि खर्चे उनकी आय से अधिक बढ़ गए हैं।

ऋषि सुनक से की अपील
NIESR ने ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सुनक से इसे लेकर उचित कदम उठाने की अपील की है। NIESR ने सरकार को बेरोजगारों और कम वेतन पाने वाले लोगों के लिए अपना मुख्य कल्याणकारी लाभ - यूनिवर्सल क्रेडिट - 25 पाउंड ($ 31) प्रति सप्ताह बढ़ाना चाहिए ताकि बढ़ते बिलों को ऑफसेट करने में मदद मिल सके। वहीं, ब्रिटेन के वित्त मंत्रालय का कहना है कि सरकार लोगों की मदद के लिए हरसंभव कोशिश कर रही है।
यह भी पढ़ें

Sri Lanka crisis: श्रीलंका में हालात बेकाबू! सशस्त्र बलों को देखते ही गोली मारने के आदेश

बता दें श्रीलंका में भी आर्थिक हालात इतने बिगड़ चुके हैं कि लोग सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं। महंगाई ऐसे है कि एक किलो दूध और ब्रेड के लिए भी हजारों रुपये देने पड़ रहे हैं। सरकार ने हालात को काबू करने के लिए देश में इमरजेन्सी की घोषणा कर दी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

मंकीपॉक्स पर WHO की आपात बैठक में अहम खुलासा: यूरोप में अब तक 100 से अधिक मामलों की पुष्टि, जानिए 10 अपडेटकैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी, भारत में ठीक नहीं हालात, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा हैकर्नाटक में बड़ा हादसाः बारातियों से भरी गाड़ी पेड़ से टकराई, 7 की मौत, 10 जख्मीजल्द ही कमर्शियल फ्लाइट्स शुरू करेगा जेट एयरवेज, DGCA ने दी मंजूरीफिर महंगी हुई CNG: राजस्थान में दाम सबसे अधिक, Diesel - CNG के दाम में अब मात्र 12 रुपए का अंतर'मैं क्रिकेट खेलना छोड़ दूंगा'- Virat Kohli ने रिटायरमेंट का संकेत देकर चौंकायाअकाली दल के दिग्गज नेता व पंजाब के पूर्व मंत्री तोता सिंह का निधन, सरपंच से पार्टी प्रेसिडेंट तक ऐसा था सफरभीषण सडक़ हादसा: पूर्व सांसद के भतीजे समेत 4 की मौत, गैसकटर से काटकर निकाले गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.