scriptChina-manufactured vaccines ineffective amid rising corona cases | कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच चीनी वैक्सीन बेअसर साबित हो रही है, लोगों में संक्रमण दर बढ़ा | Patrika News

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच चीनी वैक्सीन बेअसर साबित हो रही है, लोगों में संक्रमण दर बढ़ा

Chinese Vaccine: चीन में कोरोना के मामलों उछाल बना हुआ है। इस बीच एक चीन दवरा निर्मित वैक्सीन की प्रभावकारिता पर सवाल उठ रहे हैं क्योंकि वैक्सीन लगवा चुके लोगों में गंभीर संक्रमण की शिकायतें सामने आ रही हैं।

Updated: June 25, 2022 05:36:35 pm

चीन में सबसे पहले कोरोना ने दस्तक दी थी जिसके बाद वो चीन ही था जिसने कम समय में अपनी कोरोना वैक्सीन का निर्माण किया था। जब पूरी दुनिया कोरोना से जूझ रही थी चीन ने काफी हद तक कोरोना पर काबू पा लिया था और अपनी जनता को वैक्सीन लगाने का काम शुरू कर दिया था। एक बार फिर से कोरोना ने चीन में अपने पैर पसारने शुरू किये तो चीन की हालत पतली होने लगी है। यहाँ हालात इतने खराब हो चुके हैं कि वैक्सीन ले चुके लोगों को भी संक्रमण अपनी चपेट में ले रहा है। या यूं कहें चीनी वैक्सीन कोरोना की जंग में बेअसर होती दिखाई दे रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों से परेशान बीजिंग सरकार ने कोरोना आउट्ब्रेक की चेतावनी जारी कर दी है। इस बीच चीन द्वारा निर्मित वैक्सीन की प्रभावकारिता की भी पोल खुल गई है।
China-manufactured vaccines turn out ineffective amid rising corona cases
China-manufactured vaccines turn out ineffective amid rising corona cases
चीनी वैक्सीन की प्रभावकारिता कम
एशिया के दो बड़े देश भारत और चीन के बीच वैक्सीन निर्माण को लेकर कड़ी टक्कर देखने को मिली थी। भले ही चीन ने पहले वैक्सीन का निर्माण कर लिया, लेकिन प्रभावकारिता के मामले में भारतीय वैक्सीन कहीं आगे है। WHO के अनुसार दोनों वैक्सीन लेने वालों में इसकी प्रभावकारिता 99.30 फीसदी है, जबकि चीन का केवल 79 फीसदी ही है।

चीनी वैक्सीन Omicron पर बेसर
द लैंसेट इंफेक्शियस डिजीज जर्नल में प्रकाशित एक चीनी अध्ययन में सामने आया है कि चीनी वैक्सीन ओमिक्रॉन के अब वेरिएंट को डिटेक्ट करने में असक्षम है। चीनी अधिकारियों ने वायरल ट्रांसमिशन को कम करने के लिए जीरो-कोविड नीति सहित हर संभव प्रयास किये हैं ताकि कोरोना पर काबू किया जा सके, लेकिन सब बेअसर रहा।

वैक्सीन ले चुके लोगों की हालत खराब
देश में कोरोना के बढ़ते मामलों से आम जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। चीन में लगभग 400 मिलियन लोग कोरोना की चपेट में हैं जिनमें से अधिकतर लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है। अस्पतालों में मरीजों की संख्या आए दिन बढ़ रही है। यहाँ तक कि शांघाई में लॉकडाउन के कड़े नियम लागू हैं।
यह भी पढ़ें

पॉजिटिविटी दर बढक़र हुई 2 प्रतिशत, जिले में मिले 90 संक्रमित

कई देश उठा चुके हैं चीन की वैक्सीन के प्रभावकारिता पर सवाल
ब्राजील, बहरीन, UAE और इंडोनेशिया जैसे देशों ने चीनी वैक्सीन ली थी, लेकिन बाद में इन सभी देशों ने वैक्सीन की प्रभावकारिता पर सवाल उठाए थे।

सऊदी अरब ने तो पिछले वर्ष ही घोषणा कर दी थी कि वो चीनी वैक्सीन को मान्यता नहीं देगा। ये फैसला पाकिस्तान के लिए बड़ा सिरदर्द बन गया था जो चीनी वैक्सीन को धड़ल्ले से खरीद रहा था। चीन ने पिछले वर्ष फिलीपींस को एक हजार सिनोफार्म वैक्सीन दान की थी लेकिन फिलीपींस ने इसे ठुकरा दिया था। हालांकि, चीन की कूटनीतिक दबाव में फिलीपींस ने बाद में चीन की एक वैक्सीन का इस्तेमाल जारी कहा था।
खुद चीनी लोग चीनी वैक्सीन से डरे हुए थे
चीन की वैक्सीन पर बाहरी देश के भरोसे की बात तो छोड़िए खुद उसके अपने नागरिक इससे दूर भाग रहे थे। ऐसे में चीनी नागरिकों को चीन द्वारा निर्मित वैक्सीन लगवाने वाले लोगों के लिए चीन ने फ्री के अंडे, सुपरमार्केट के वाउचर और किराने के प्रोडक्टस पर स्पेशल ऑफर देना शुरू किया था। इसी से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि चीनी वैक्सीन पर खुद चीनी नागरिकों को भरोसा नहीं है।

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक चीनी वैक्सीन विशेषज्ञ ने दावा किया था कि , सिनोफार्म कोरोनावायरस वैक्सीन दुनिया में सबसे असुरक्षित है और इसके साइडइफेक्ट्स भी काफी हैं।

यह भी पढ़ें

बूस्टर डोज लगाने में लोग बरत रहे भारी लापरवाही, कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कॉमनवेल्थ गेम्स के पदकवीरों से आज करेंगे मुलाकातTrump Search Warrant: एफबीआई ने ट्रंप के मार-ए-लागो आवास से जब्त की Top Secret फाइलें, हो सकती है 5 साल की सजामनीष सिसोदिया का BJP पर निशाना, कहा - 'रेवड़ी बोलकर मजाक उड़ाने वाले चला रहे दोस्तवादी मॉडल'सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद बोले तेजस्वी यादव- 'नीतीश जी का हमसे हाथ मिलाना BJP के मुंह पर तमाचे की तरह''स्मोक वार्निंग' के कारण मालदीव जा रही 'गो फर्स्ट' की फ्लाइट की हुई कोयंबटूर में इमरजेंसी लैंडिंगHimachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.