scriptOMG! दुनिया से 7 साल पीछे चल रहा ये देश, अब मना रहा 2017 का न्यू ईयर  | Ethiopia New Year | Patrika News
विदेश

OMG! दुनिया से 7 साल पीछे चल रहा ये देश, अब मना रहा 2017 का न्यू ईयर 

इस देश का नया साल 11 सितंबर से शुरू होता है। पूरी दुनिया के इतने आगे बढ़ जाने के बावजूद इस अफ्रीकी देश के 7 साल पीछे चलना किसी को भी समझ नहीं आ रहा है। हर कोई इस पर हैरानी जता रहा है।

नई दिल्लीJul 05, 2024 / 04:50 pm

Jyoti Sharma

Ethiopia New Year

Representative Image

Ethiopia New Year: ये पूरी दुनिया 2024 में जी रही है लेकिन इस विश्व का एक ऐसा देश है जो वर्तमान से 7 साल पीछे चल रहा है। जी हां आपको जानकर हैरानी होगी कि इस देश में अब 2017 के न्यू ईयर की तैयारी की जा रही है। दुनिया से 7 साल पीछे चलने वाला ये देश अफ्रीकी देश इथियोपिया (Ethiopia) है। यहां पर 11 सितंबर को 2017 का न्यू ईयर मनाया जाएगा। यानी इथियोपिया अभी भी 2016 में ही जी रहा है। 

क्यों पीछे चल रहा ये देश?

इथियोपिया (Ethiopia) पूरी दुनिया से 7-8 साल पीछे इसलिए है क्योंकि वो जिस कैलेंडर का पालन करते हैं वो ग्रेगोरियन कैलेंडर (Gregorian Calendar) नहीं है जिसके मुताबिक पूरी दुनिया चलती है। दरअसल इथियोपिया गीज़ कैलेंडर (Ge’ez Calendar) का पालन करता है, जो प्राचीन कॉप्टिक कैलेंडर से लिया गया है। इस कैलेंडर में 13 महीने, 30 दिनों के 12 महीने और एक अंतरालीय महीना होता है जिसे पगुमे के नाम से जाना जाता है, जिसमें आमतौर पर 5-6 दिन होते हैं, ये इस बात पर निर्भर करता है कि यह लीप वर्ष है या नहीं। ये बिल्कुल वैसा है जैसा ग्रेगोरियन कैलेंडर में फरवरी के महीने में होता है।

कब से शुरू होता है नया साल 

इथियोपियाई कैलेंडर का नया साल मेस्केरेम 1 से शुरू होता है, जो ग्रेगोरियन कैलेंडर के मुताबिक गैर-लीप वर्ष में 11 सितंबर है। यानी जब 2024 के मुताबिक दुनिया में 11 सितंबर का दिन आता है उस दिन इथियोपिया अपना नया साल मनाती है वो भी सात साल पहले का। 

इथियोपिया क्यों नहीं मानता ग्रेगोरियन कैलेंडर

अब सवाल आता है कि दुनिया के इतने आगे बढ़ने के बाद भी इथियोपिया 7 साल पीछे क्यों जी रहा? क्यों उसने ग्रेगोरियन कैलेंडर को नहीं अपनाया है? तो इसका जवाब है कि इथियोपिया अपने प्राचीन कैलेंडर का पालन करने को गर्व समझता है जो इस देश की संस्कृति का एक अहम हिस्सा है। इथियोपिया का गीज़ कैलेंडर का ये बताता है कि वो वर्तमान वैश्वीकरण और औपनिवेशिक प्रभाव से अपनी पहचान की सुरक्षा करने में सफल रहा है जो कई देशों के लिए एक सीख है। 

Hindi News/ world / OMG! दुनिया से 7 साल पीछे चल रहा ये देश, अब मना रहा 2017 का न्यू ईयर 

ट्रेंडिंग वीडियो