CHINA-TAIWAN : चीन से ताइवान की सुरक्षा कैसे कर सकता है अमरीका

-भारत के बाद दक्षिण चीन सागर के इस देश से ड्रैगन की अदावत
-2.3 करोड़ की आबादी वाला ताइवान स्वतंत्र राष्ट्र है, पर चीन अपना हिस्सा मानता है।
-7.5 अरब डॉलर का व्यापार था ताइवान-भारत-के बीच 2019 में, अब कम हुआ

By: pushpesh

Published: 19 Oct 2020, 12:07 AM IST

जयपुर. भारत के साथ टकराव के बीच अब दक्षिण चीन सागर के देश ताइवान पर चीन अपना संयम खो रहा है। उधर ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग वेन को अमरीका से चार दशक पहले देश की सुरक्षा को लेकर हुए समझौते पर भरोसा है। लेेकिन वे अमरीकी चुनाव में संभावित सत्ता परिवर्तन से आशंकित हैं। हालांकि अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन ने चीन को कड़े शब्दों में चेतावनी जरूर दी है।

अमरीका और ताइवान के बीच पिछले चार दशक से राजनयिक संबंध नहीं हैं। लेकिन ‘ताइवान रिलेशन एक्ट’ 1979 के तहत उसकी सुरक्षा के लिए जवाबदेह है। इसी वजह से अमरीका में ताइवानी राजदूत हिसियाओ बी खिम ने पिछले दिनों जोर देकर कहा कि चीन से बढ़ते खतरों के बीच अमरीका को ताइवान के प्रति अपनी मंशा को साफ करना चाहिए। ज्ञातव्य है कि ताइवान को लेकर चीन और अमरीका के बीच हमेशा टकराव रहा है। चीन ताइवान को अपना एक हिस्सा मानता है और उसे पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना में मिलाने की इच्छा रखता है, तो अमरीका ताइवान की स्वतंत्रता को बचाए रखना चाहता है। पिछले दिनों चीन ने ताइवान के सैन्य अभ्यास और चीन की जासूसी करते पकड़े गए ताइवानी व्यापारी के कबूलनामे को टीवी पर प्रसारित किया। इस तनातनी के बाद हिसियाओ ने कहा, हमें अमरीका के रुख का इंतजार है। हालांकि इस वर्ष अमरीका, ताइवान को लेकर चीन को कई बार चेता चुका है।

बाइडेन का रुख ताइवान की चिंता
पिछले वर्ष ट्रेड वॉर के बाद चीन-अमरीका के बीच दूरियां बनीं और इस वर्ष महामारी में उल्लेखनीय सफलता के बाद ताइवान ने पूरी दुनिया में सुर्खियां बटोरी। इसके बाद दोनों देश फिर करीब आए तो चीन भी आंखें तरेर रहा है। ट्रंप ने ताइवान के साथ हथियार बेचने का सौदा किया है। जबकि जो बाइडेन ताइवान के साथ रिश्तों की पुनर्समीक्षा चाहते हैं। उपराष्ट्रपति रहते बाइडेन का रुख चीन के प्रति नरम रहा था। 2001 में एक लेख में बाइडेन ने लिखा था कि ताइवान का समर्थन और बल प्रयोग अलग विषय हैं।

Show More
pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned