बांग्लादेश: आश्रम में रहने वाले हिंदू पुजारी का कातिल निकला ISIS, गला रेतकर तड़पता छोड़ा

बांग्लादेश में एक आश्रम में रहने वाले हिंदू बुजुर्ग नित्यारंजन पांडे की हत्या की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली है। आतंकियों की ऑनलाइन गतिविधियों पर निगरानी रखने वाली एक संस्था ने शनिवार को यह जानकारी दी।

By:

Published: 11 Jun 2016, 11:22 PM IST

बांग्लादेश में एक आश्रम में रहने वाले हिंदू बुजुर्ग नित्यारंजन पांडे की हत्या की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली है। आतंकियों की ऑनलाइन गतिविधियों पर निगरानी रखने वाली एक संस्था ने शनिवार को यह जानकारी दी। पिछले एक सप्ताह में अल्पसंख्यकों की हत्या की यह तीसरी वारदात है, जिसकी जिम्मेदारी इस आतंकी संगठन ने ली है। 



अमेरिकी निगरानी सेवा ने शनिवार को बताया कि आइएस की अम्क न्यूज एजेंसी में यह दावा किया गया है।गौरतलब है कि पबना जिले के हिमायतपुर कस्बे स्थित ठाकुर अनुकूल चंद्र सत्संग परमतीर्थ आश्रम में नित्यारंजन पांडे (60) बीते 40 साल से सेवा कार्य कर रहे थे। शुक्रवार सुबह वह किसी काम से निकले, लेकिन आश्रम से 200 गज की दूरी पर हमला करके उनका गला रेत दिया गया। कुछ देर तड़पने के बाद उनकी मौत हो गई थी।



(DEMO PIC)





हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned