ISIS ने तीन हजार साल पुराने मंदिर को विस्फोट से उडाया

ISIS ने तीन हजार साल पुराने मंदिर को विस्फोट से उडाया

Ambuj Shukla | Updated: 09 Jun 2016, 11:40:00 PM (IST) विश्व

संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से दिखाए गए उपग्रह चित्र में बताया गया है कि आईएस आईएस ने धमाकों से बुद्धि के बेबीलोन भगवान के मंदिर के मुख्य द्वार सहित विभिन्न स्थलों को क्षति ग्रस्त कर दिया है।

संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से दिखाए गए उपग्रह चित्र में बताया गया है कि आईएस आईएस ने धमाकों से बुद्धि के बेबीलोन भगवान के मंदिर के मुख्य द्वार सहित विभिन्न स्थलों को क्षति ग्रस्त कर दिया है।



13 वीं शताब्दी ईसा पूर्व यह मंदिर सीरियाई शहर निर्मूल के तीस किमी दक्षिण में स्थित था। यह एक आधुनिक शहर था, जो कि कट्टरपंथी इस्लामिक स्टेट आतंकवादियों के कब्जे में जून 2014 से था। इसे उड़ाने का वीडियो इस्लामिक स्टेट की ओर से जारी किया गया था।



वीडियो की तिथि स्पष्ट नहीं थी।जानकारी के अनुसार, धमाकों के अलावा आईएसआईएस ने इसके प्राचीन दरवाजें को गिराने के लिए बुलडोजर का भी उपयोग किया था।वीडियो में एक आदमी को कहते हुए दिखाया गया है कि यह सब विनाश लोगों को इस्लाम के अलावा अन्य किसी धर्म की पूजा करने से रोकने के लिए किया गया है।



खासकर उन सभी समूह को चेतावनी दी गई है जो कि सुन्नी इस्लाम के अलावा किसी अन्य को पूज रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने उत्तरी इराक में पलमारियां में भी असीरियाई और रोमन युग साइटों को नष्ट कर दिया है।



माना जा रहा है कि यहां की कलाकृतियों की बिक्री से आईएसआईएस धन जुटा रहा है।पुरातत्वविदों का कहना है कि इस्लामिक स्टेट ने पिछले दो वर्षों में ऐतिहासिक स्थलों का जमकर विनाश किया है।



इससे दुनिया के साझा इतिहास को बेहिसाब नुकसान हुआ है। हालांकि अब संयुक्त राष्ट्रों की फौज इस्लामिक स्टेट को इन पुरातत्व स्थलों से दूर करने के लिए प्रयास कर रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned