हालात चुनौतीपूर्ण परन्तु भारत हमेशा अफगानिस्तान के साथ: जयशंकर

उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान से हमारे संबंध हमेशा वहां के लोगों के साथ ऐतिहासिक रिश्तों से निर्धारित होते रहे हैं। यह आगे भी जारी रहेगा। विश्व का मानस बनाने में किसी छोटे से समूह से ज्यादा बहुराष्ट्रीय प्लेटफॉर्म कारगर साबित हुए हैं।

By: सुनील शर्मा

Published: 14 Sep 2021, 11:03 AM IST

नई दिल्ली। अफगानिस्तान गंभीर मानवीय संकट के दौर से गुजर रहा है और भारत हमेशा की तरह अफगान के साथ है। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा है कि अफगानिस्तान नाजुक व चुनौतीपूर्ण हालात से गुजर रहा है। अफगानिस्तान के राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक व सुरक्षा हालात व मानवीय जरूरतों में बड़े बदलाव हुए हैं।

विदेश मंत्री ने ये बातें संयुक्त राष्ट्र द्वारा सोमवार को आयोजित उच्च स्तरीय बैठक में कहीं। यह वर्चुअल बैठक अफगानिस्तान के मानवीय हालात की समीक्षा के लिए की गई।

यह भी पढ़ें : Quad Summit 2021: मोदी समेत चार शीर्ष नेता होंगे शामिल, 24 सितंबर के इस समारोह के लिए वाशिंगटन जा सकते हैं पीएम

गरीबी बढ़ेगी तो उसका त्रासदीपूर्ण असर
जयशंकर ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने हाल ही में आकलन किया है कि अफगानिस्तान में गरीबी का स्तर मौजूदा 72 फीसदी से बढ़कर 97 फीसदी होने का खतरा है। ऐसा होने पर क्षेत्रीय स्थिरता पर उसका त्रासदीपूर्ण असर होगा।

अमरीका द्वारा अपनी सेनाएं वापस बुलाए जाने के बाद अफगानिस्तान 20 वर्ष पुरानी स्थिति में पहुंच गया है। वहां तालिबान के कब्जे के बाद शरीया कानून की स्थापना की गई है। महिलाओं, बच्चों आदि पर अनेक अमानवीय प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : हिन्दी आज ज्ञान शून्य : समझना होगा कि भाषा विषय भी है, ज्ञान भी और संस्कृति भी

उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान से हमारे संबंध हमेशा वहां के लोगों के साथ ऐतिहासिक रिश्तों से निर्धारित होते रहे हैं। यह आगे भी जारी रहेगा। विश्व का मानस बनाने में किसी छोटे से समूह से ज्यादा बहुराष्ट्रीय प्लेटफॉर्म कारगर साबित हुए हैं। वहां सहायता पहुंचाने का माहौल बनाने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय को एक साथ पहल करनी होगी।

अफगानिस्तान में किसी तरह की मानवीय सहायता के मार्ग में यातायात और सुरक्षित गलियारे का मुद्दा बड़ी अड़चन बना हुआ है। इसका समाधान तुरंत होना चाहिए। युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र की केन्द्रीय भूमिका वाले किसी भी कार्य का भारत लगातार समर्थन करता रहा है।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned