scriptपाकिस्तान में ‘गधों’ की कमी नहीं, जानिए कैसे इस मुल्क की इकोनॉमी चला रहे ये गधे?  | number of donkeys is increasing in Pakistan | Patrika News
विदेश

पाकिस्तान में ‘गधों’ की कमी नहीं, जानिए कैसे इस मुल्क की इकोनॉमी चला रहे ये गधे? 

Donkey in Pakistan: पाकिस्तान अब बेरोजगारों से ज्यादा इन गधों की आबादी हो गई है। रिपोर्ट बताती है कि साल 2021-22 में गधों की आबादी 5.7 मिलियन थी जो 2022-23 में बढ़कर 5.8 मिलियन हो गई और फिर 2023-24 में और बढ़कर 5.9 मिलियन हो गई। 

नई दिल्लीJun 12, 2024 / 05:03 pm

Jyoti Sharma

number of donkeys is constantly increasing in Pakistan

Donkey in Pakistan: पाकिस्तान में अब बेरोजगारों से ज्यादा गधों की संख्या हो गई है। वहां पर गधे (Donkey) इतनेे जरूरी हो गए हैं कि लगातार साल दर साल उनकी संख्या बढ़ाई जा रही है। मंगलवार को जारी हुई पाकिस्तान के आर्थिक सर्वेक्षणों से पता चला कि वहां पर एक साल में ही गधों की संख्या अप्रत्याशित रूप से बढ़ गई है। पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 15-24 साल के युवाओं में सबसे ज्यादा 11.1 प्रतिशत बेरोजगारी दर है। पाकिस्तान अब बेरोजगारों से ज्यादा इन गधों की आबादी हो गई है। रिपोर्ट बताती है कि साल 2021-22 में गधों की आबादी 5.7 मिलियन थी जो 2022-23 में बढ़कर 5.8 मिलियन हो गई और फिर 2023-24 में और बढ़कर 5.9 मिलियन हो गई। 

पाकिस्तान में इतने गधों का होता क्या है?

पाकिस्तान (Pakistan) के गधे पाक से ज्यादा चीन के काम आते हैं। पाकिस्तान ये गधे चीन (China) को निर्यात करता है और वहां से मोटी रकम उठाता है। इस कंगाल में पाकिस्तान में कमाई का यही (Donkey) एक बड़ा हिस्सा है। इसलिए यहां के हर तीसरे घर में आपको गधों की पालन दिखेगा। यहां की सड़कों में, गलियों में लोगों से ज्यादा गधे मिलेंगे। क्योंकि ये गधे ही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को चला रहे हैं। 

पाकिस्तान में बेरोज़गारी

2020-21 के श्रम बल सर्वेक्षण के बाद पाकिस्तान में कोई रोज़गार सर्वेक्षण नहीं किया गया है। जिसके मुताबिक कुल श्रम बल 71.8 मिलियन है, जिसमें ग्रामीण क्षेत्रों में 48.5 मिलियन और शहरी क्षेत्रों में 23.3 मिलियन है।
नियोजित श्रम बल 67.3 मिलियन है। 45.7 मिलियन ग्रामीण और 21.5 मिलियन शहरी, जबकि 4.5 मिलियन बेरोज़गार हैं। बेरोज़गारी का अनुपात महिलाओं में ज़्यादा है, जहाँ 14.4 प्रतिशत महिलाएँ बेरोज़गार हैं जबकि 10 प्रतिशत पुरुष बेरोज़गार हैं।

आर्थिक संकट में पाकिस्तान

पाकिस्तान की आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के कहती है कि 2024 के दौरान, पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था ने पिछले साल के 0.21 प्रतिशत संकुचन के मुकाबले 2.38 प्रतिशत की जीडीपी बढ़ोतरी की है।

Hindi News/ world / पाकिस्तान में ‘गधों’ की कमी नहीं, जानिए कैसे इस मुल्क की इकोनॉमी चला रहे ये गधे? 

ट्रेंडिंग वीडियो