scriptQueen Elizabeth II Death: From India's first Prime Minister Nehru | Queen Elizabeth II Death: भारत के पहले प्रधानमंत्री नेहरू से लेकर पीएम मोदी से थी मुलाकात, जयपुर-उदयपुर का भी किया था दौरा | Patrika News

Queen Elizabeth II Death: भारत के पहले प्रधानमंत्री नेहरू से लेकर पीएम मोदी से थी मुलाकात, जयपुर-उदयपुर का भी किया था दौरा

ब्रिटेन की महारानी क्वीन एलिजाबेथ-द्वितीय का गुरुवार को 96 साल की उम्र में बालमोरल में निधन हो गया। वह ब्रिटेन पर सबसे लंबे समय तक काम करने वाली महारानी थीं। उन्होंने ब्रिटेन पर 70 सालों तक शासन किया। महारानी एलिजाबेथ संभवत: दुनिया के किसी देश की एक मात्र राजकीय प्रमुख थीं जिन्होंने भारत के पहले पीएम जवाहरलाल नेहरू से लेकर भारत के मौजूदा पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी।

जयपुर

Updated: September 09, 2022 12:35:00 pm

Queen Elizabeth II UP Visit: ब्रिटेन की महारानी क्वीन एलिजाबेथ-द्वितीय का गुरुवार को 96 साल की उम्र में बालमोरल में निधन हो गया। वह ब्रिटेन पर सबसे लंबे समय तक काम करने वाली महारानी थीं। उन्होंने ब्रिटेन पर 70 सालों तक शासन किया। उन्होंने पहली बार 1952 में गद्दी संभाली थीं। क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर पीएम मोदी समेत दुनियाभर के नेताओं ने शोक व्यक्त किया है। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय और उनके पति प्रिंस फिलिप तीन बार भारत आए थे। इस दौरान उन्होंने यूपी का भी दौरा किया था।
elizabeth_2_modi_and_nehru.jpg
तीन बार आए थे भारत

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय और उनके पति प्रिंस फिलिप तीन बार भारत आए थे। सबसे पहले साल 1961, फिर 1983 और फिर 1997 में उन्होंने भारत का दौरा किया था। साल 1961 में भारत दौरे पर आईं क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय यूपी आई थीं। ब्रिटेन का शाही जोड़ा ताजमहल का दीदार करने पहुंचा था। इसके अलावा उन्होंने बंबई (मुंबई), बनारस (वाराणसी), उदयपुर, जयपुर, बैंगलोर (बेंगलुरु), मद्रास (चेन्नई) और कलकत्ता (कोलकाता) की भी यात्रा की थी।
राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने किया था स्वागत

जब दिवंगत महारानी 1961 में पहली बार भारत पहुंचीं, तो 21 जनवरी, 1961 को तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद, उपराष्ट्रपति डॉ एस राधाकृष्णन और प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू ने हवाई अड्डे पर महामहिम और प्रिंस फिलिप का स्वागत किया। 1961 में गणतंत्र दिवस परेड में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय सम्मानित अतिथि थीं। इस तस्वीर में, वह भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद के साथ चलती हुई दिखाई दे रही थीं। उन्होंने तत्कालीन प्रधान मंत्री जवाहरलाल द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भारी भीड़ को भी संबोधित किया था।
जयपुर और उदयपुर का भी किया था दौरा

महारानी ने अपने पति प्रिंस एडवर्ड के साथ जयपुर का दौरा किया, जहां उनका पारंपरिक भारतीय तरीके से स्वागत किया गया। जयपुर के तत्कालीन महाराजा सवाई मान सिंह द्वितीय के साथ रानी ने सिटी पैलेस के पास एक हाथी की सवारी की। महारानी एलिजाबेथ ने आगरा में ताजमहल का भी दौरा किया। गेटवे ऑफ इंडिया पर रानी1961 के अपने दौरे के दौरान शाही जोड़े ने मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया का दौरा किया।
महारानी ने कही थी ये बड़ी बात
महारानी ने भारत में मिली ‘गर्मजोशी और आतिथ्य’ की खूब तारीफ भी की थी। उन्होंने अपने एक संबोधन में कहा था, “भारतीयों की गर्मजोशी और आतिथ्य भाव के अलावा भारत की समृद्धि और विविधता हम सभी के लिए एक प्रेरणा रही है। महारानी ने 1983 में राष्ट्रमंडल शासनाध्यक्षों की बैठक (चोगम) में हिस्सा लेने के लिए भारत की यात्रा की थी। इस दौरान उन्होंने मदर टेरेसा को ऑर्डर ऑफ द मेरिट की मानद उपाधि से नवाजा था।
आजादी के 50वीं वर्षगांठ पर भी आई थीं भारत

भारत की उनकी अंतिम यात्रा देश की आजादी की 50वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में हुई थी। इस दौरान उन्होंने पहली बार औपनिवेशिक इतिहास के ‘कठोर दौर’ का जिक्र किया था। उन्होंने कहा था, “यह कोई रहस्य नहीं है कि हमारे अतीत में कुछ कठोर घटनाएं हुई हैं। जलियांवाला बाग एक दुखद उदाहरण है।” महारानी और उनके पति ने बाद में 1919 में नरसंहार के गवाह बने अमृतसर के जलियांवाला बाग का दौरा किया था।। इस दौरान उन्होंने शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की थी।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

गाय को टक्कर मारने से फिर टूटी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की बॉडी, दो दिन में दूसरी ऐसी घटनाभैंस की टक्कर से डैमेज हुई वंदे भारत ट्रेन, मजबूती पर सवाल उठे तो सामने आया रेलवे मंत्री का जवाबगाज़ियाबाद में दिन-दहाड़े डकैती, कारोबारी की पत्नी-बेटी को बंधक बनाकर 17 लाख के ज़ेवर और 7 लाख रुपए नकद लूटेउत्तरकाशी हिमस्खलन में बरामद किए गए 7 और शव, मृतकों की संख्या बढ़कर 26 हुई, 3 की तलाश जारीNobel Prize 2022: ह्यूमन राइट एक्टिविस्ट एलेस बियालियात्स्की समेत रूस और यूक्रेन की दो संस्थाओं को मिला नोबेल पीस प्राइजयुद्ध का अखाड़ा बनी ट्रेन! सीट को लेकर भिड़ गईं महिलाएं, जमकर चले लात-घूसे, देखें वीडियोलद्दाख में लैंडस्लाइड की चपेट में आए 3 सैन्य वाहन, 6 जवानों की मौतउत्तर से दक्षिण भारत तक बारिश का अलर्ट, कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में बारिश जारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.