scriptRape accused punishment in America china Saudi Arabia and north korea | उत्तर कोरिया में रेपिस्ट को गोलियों से भून कर टुकड़े-टुकड़े कर दिए जाते हैं, जानिए अरब अमरीका, चीन समेत तमाम देशों में उन्हें क्या दी जाती है सजा | Patrika News

उत्तर कोरिया में रेपिस्ट को गोलियों से भून कर टुकड़े-टुकड़े कर दिए जाते हैं, जानिए अरब अमरीका, चीन समेत तमाम देशों में उन्हें क्या दी जाती है सजा

पाकिस्तान ने देशभर में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कड़े कानून को मंजूरी दी है। इस कानून से आदतन बलात्कारियों को केमिकल के जरिए नपुंसक भी बनाया जाएगा। पाकिस्तान में बढ़ती बलात्कार की घटनाओं के बाद इमरान खान सरकार पर कठोर कानून लागू करने का दबाव था। अब बलात्कार के मामलों के लिए अलग से कोर्ट बनाई जाएगी और उसमें फास्ट-ट्रैक सुनवाई भी होगी।

 

नई दिल्ली

Published: November 19, 2021 07:07:04 pm

नई दिल्ली।

रेप के बढ़ते मामलों से दुनियाभर के तमाम छोटे-बड़े देश परेशान हैं। इस पर काबू पाने के लिए सभी जरूरी उपाय किए गए, मगर केसों की संख्या में कमी नहीं आई तो वहां की सरकारों मजबूरन सख्त कानून लागू करने पड़े। पाकिस्तान में भी ऐसा ही कदम उठाया गया है, जिसके तहत वहां दोषी को नपुंसक किए जाने का प्रावधान तय किया गया है।
rape.jpg
भारत में भी बलात्कार के दुर्लभतम मामलों में फांसी की सजा का प्रावधान है। आइए जानते हैं दुनियाभर में कुछ देशों में रेपिस्टों को दी जाने वाली सजा के बारे में-

चीन में रेप के दोषियों को सीधे फांसी की सजा दी जाती है। इसके अलावा कई मामलों में ऐसे दोषियों को बिजली के झटके देकर भी मारा गया है। चीन में रेपिस्टों के प्राइवेट पार्ट को विकृत करने की सजा का भी प्रावधान है। चीन ने कभी भी अपने देश में मौत की सजा पाए लोगों की संख्या का खुलासा नहीं किया है। हालांकि, माना जाता है कि इस देश में हर साल सैकड़ों लोगों को कई अलग-अलग अपराधों में मौत की सजा दी जाती है।
यह भी पढ़ें
-

अंतरिक्ष में भी हैं कई गहरे समुद्र, जानिए वैज्ञानिकों को किस ग्रह पर नजर आ रहे संकेत

सऊदी अरब अपने कठोर कानूनों के लिए जाना जाता है। इस देश में रेप के दोषी को सरेआम चौराहे पर तलवार से गला काट दिया जाता है। इसके अलावा दोषी को पत्थर मारने और फांसी देने का भी प्रावधान है। ये सभी सजाएं जनता के सामने दी जाती है, जिससे लोगों के अंदर जुर्म को लेकर खौफ पैदा होता है। इतना ही नहीं, सऊदी अरब चोरी के दोष में अपराधी का हाथ तक काट देता है। इस सजा को लागू करने के लिए सऊदी अरब में इस्लामिक पुलिस बड़ी भूमिका निभाती है।
इराक में रेप के दोषियों को काफी निर्मम तरीके से मौत की सजा दी जाती है। सद्दाम हुसैन के कार्यकाल के दौरान कई रेपिस्टों को पत्थर मारकर मौत की सजा दी गई थी। इसमें दोषियों को तबतक पत्थर मारा जाता है, जबतक उनकी मौत न हो जाए। अपराधियों के दिलों में खौफ पैदा करने के लिए पत्थर मारने वालों में पीड़ित के परिवारवालों और आम लोगों को भी शामिल किया जाता है।
यह भी पढ़ें
-

तूफानी बारिश के साथ मिस्र में आसमान से टपके हजारों जहरीले बिच्छू! काटने से एक घंटे में हो रही मौत, 500 लोग अस्पताल में भर्ती, 3 की मौत

किम जोंग उन के शासन वाले उत्तर कोरिया में रेप का जुर्म साबित होने के बाद सीधे मौत की सजा दी जाती है। इसके लिए दोषियों को तत्काल सेना के फायरिंग स्कॉड के सामने पेश किया जाता है। जहां उन्हें रायफल या एंटी एयरक्राफ्ट गन से भून दिया जाता है। एंटी एयरक्राफ्ट गन से तो अपराधियों के शरीर के टुकड़े-टुकड़े हो जाते हैं। कुछ मामलों में तो उत्तर कोरिया में रेपिस्टों को सरेआम सिर में गोली मार दी जाती है।
अमरीका में भी रेपिस्टों को मौत की सजा देने का प्रावधान है। इस देश में दो तरह के कानून हैं। पहला स्टेट लॉ (राज्य का कानून) और दूसरा फेडरल लॉ (केंद्र का कानून)। अगर रेप के केस की सुवनाई फेडरल लॉ के अंतर्गत होती है तो रेपिस्ट को 30 साल की सजा दी जा सकती है। वहीं, स्टेट यानी राज्य के कानून हर राज्य में अलग-अलग हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.