scriptRussia is now India's second large supplier of Crude Oil | घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम: अब रूस है भारत का दूसरा सबसे बड़ा क्रू़ड ऑयल आपूर्तिकर्ता, सऊदी अरब से 19 डॉलर प्रति बैरल तक सस्ता दिया तेल | Patrika News

घटेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम: अब रूस है भारत का दूसरा सबसे बड़ा क्रू़ड ऑयल आपूर्तिकर्ता, सऊदी अरब से 19 डॉलर प्रति बैरल तक सस्ता दिया तेल

महंगाई के मोर्चे पर आम आदमी के लिए दो राहत की खबरें हैं। तमाम अंतरराष्ट्रीय दबावों को धता बताते हुए भारत अब रूस से कहीं बहुत अधिक कच्चा तेल का आयात कर रहा है। प्राप्त ऑंकड़ों के अनुसार भारत ने जून माह में रूस से सऊदी अरब से भी अधिक कच्चा तेल खरीदा है और वो सस्ते दामों पर। दूसरे तरफ ओपेक प्लस देशों ने कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने का निर्णय लिया है। जिसके बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दामों में गिरावट का रुख है।

जयपुर

Published: August 05, 2022 11:29:31 am

भारत को कच्चे तेल की आपूर्ति और इसके दामों को लेकर तेल आपूर्तिकर्ता देशों में भारी संघर्ष शुरू हो गया है। रूस ने भारत के लिए क्रूड ऑयल के दाम अपने ओपेक + के सहयोगी देश सऊदी अरब से 10 से 15 प्रतिशत तक कीमत कम कर दी है, जिससे मॉस्को के लिए सबसे बड़े कच्चे तेल आयातकों में से एक में अपनी बाजार हिस्सेदारी को विस्तार करने का मार्ग प्रशस्त हो गया है। वहीं खबर है कि ईरान भी भारत में अपने कच्चे तेल निर्यात का मार्ग प्रशस्त करना चाहता है।
crude_oil_2.jpg
अप्रेल से जून के दौरान भारत को सस्ते में मिला कच्चा तेल

भारत सरकार के आंकड़ों के आधार पर ब्लूमबर्ग न्यूज एजेंसी द्वारा किए गए विश्लेषण के अनुसार, अप्रैल से जून के दौरान सऊदी क्रूड की तुलना में रूसी कच्चा तेल भारत को सस्ते में मिला है और मई माह में ये छूट लगभग 19 डॉलर प्रति बैरल रही। यही नहीं, प्राप्त आँकड़ो के अनुसार, रूस ने जून में भारत को दूसरे सबसे बड़े आपूर्तिकर्ता के रूप में सऊदी अरब को भी पीछे छोड़ दिया है, जो कि इसके पहले इराक के ठीक पीछे दूसरे नंबर पर था।
भारत और चीन आगे आकर खरीद रहे रूसी कच्चा तेल

यूक्रेन -रूसी युद्ध के बाद से भारत और चीन रूसी कच्चे तेल के इच्छुक उपभोक्ता बन गए हैं क्योंकि अधिकांश अन्य खरीदारों ने यूक्रेन पर आक्रमण के बाद इसके कच्चे तेल बैरलों से किनारा कर लिया है। वहीं भारत जो अपनी कच्ची तेल जरूरतों का 85% आयात करता है, को सस्ती आपूर्ति कुछ आर्थिक राहत प्रदान करती है क्योंकि भारत को इन दिनों पहले ही तेज मुद्रास्फीति और रिकॉर्ड व्यापार घाटे के अंतर का सामना करना पड़ रहा है।
रिकॉर्ड स्तर पर है कच्चे तेल का आयात बिल

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, वैश्विक कीमतों में उछाल के साथ-साथ ईंधन की मांग में बढ़ोतरी के बाद दूसरी तिमाही में देश का कच्चे तेल का आयात बिल बढ़कर 47.5 अरब डॉलर हो गया है। इसकी तुलना में पिछले साल की समान अवधि में भारत के कच्चे तेल का आयात बिल 25.1 बिलियन डॉलर था, जब कीमतें और वॉल्यूम कम थे।
सऊदी अरब और इराक मुड़े अब यूरोप की ओर

सउदी अरब और इराक भी अपना बाजार पूरी तरह तरह गंवा नहीं रहे हैं क्योंकि वे अब एशिया के बजाय यूरोप को अधिक तेल की आपूर्ति कर रहे हैं। जून की बात करें तो जून में सऊदी क्रूड की तुलना में रूसी तेल की छूट कुछ कम हो गई, लेकिन तब भी रूसी बैरल लगभग 13 डॉलर सस्ता था। जून में भारत को रशियन क्रूड की औसतन लागत लगभग 102 डॉलर रही।
2021 में सऊदी अरब था कच्चे तेल का दूसरा सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता

गौर करने की बात ये है कि इसकी तुलना अगर मार्च के दामों से करें तो रूसी तेल भारत के लिए केवल 13 डॉलर अधिक महंगा था। हालांकि भारत की अधिकांश मासिक आपूर्ति फरवरी के अंत में आक्रमण से पहले ही तय हो गई होगी। पूरे साल की बात करें तो 2021 में सऊदी अरब भारत का दूसरा सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता था, जबकि रूस नौवां सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता था और इराक भारत का सबसे बड़ा कच्चे तेल का आपूर्तिकर्ता था और उसने इस साल जून तक उस स्थान को बनाए रखा है।
मार्च के बाद रूस से भारत का आयात 10 गुना बढ़ा

ओपेक उत्पादक देश इराक का तेल मई में रूसी बैरल की तुलना में लगभग 9 डॉलर प्रति बैरल अधिक था, लेकिन अन्य सभी महीनों में रूस के तेल की तुलना में सस्ता ही था। जबकि मार्च के बाद से रूस से भारत का आयात दस गुना बढ़ गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Train Accident: महाराष्ट्र के गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को मारी टक्कर; 50 से अधिक यात्री घायलदिल्ली में आज पीएम मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक, मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेजगुलाम नबी ने कांग्रेस को दिया झटका, ठुकराया JK कैंपेन कमेटी का पद, बताया ये कारणकलकत्ता हाईकोर्ट की कड़ी टिप्पणी, कहा - 'पश्चिम बंगाल में बिना पैसे दिए नहीं मिलती सरकारी नौकरी'Pro Boxing : रायपुर में आज दिखेगा मुक्केबाजी का रोमांच, विजेंदर सिंह व इलियासु सुले होंगे आमने-सामनेस्टूडेंट्स के लिए ये हैं सस्ते इलेक्ट्रिक स्कूटर, डेली यूज़ के लिए बन सकते हैं बेस्ट ऑप्शनJammu-Kashmir News: शोपियां में फिर आतंकी हमला, CRPF के बंकर पर ग्रेनेड अटैकओडिशा के 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात, ODRAF और NDRF की टीमों को किया गया तैनात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.