scriptRussia Ukraine war heart wrenching stories of Ukrainians | धमाके दहला रहे, बिल्डिंग थरथरा रही... आखिर कहां छिपें? यूक्रेनी लोगों की आपबीती उन्हीं की जुबानी | Patrika News

धमाके दहला रहे, बिल्डिंग थरथरा रही... आखिर कहां छिपें? यूक्रेनी लोगों की आपबीती उन्हीं की जुबानी

यूक्रेन में रूस के हमले के कारण हालात बेहद गंभीर हैं। लोगोंछुपकर रह रहे हैं और धमाकों से दहले हुए हैं।

नई दिल्ली

Updated: February 27, 2022 04:13:52 pm

यूक्रेन पर रूस ने 24 फरवरी को हमला किया था जिससे वहाँ हालात बेहद खराब है। लोग डरे हुए हैं और छुपे हुए हैं। कुछ छुपने के लिए कहाँ जाए ये नहीं समझ पा रहे। कई यूक्रेन के निवासी सोशल मीडिया के जरिए अपनी हालत बयां कर रहे हैं और युद्ध को जल्द से जल्द खत्म कर शांति की अपील कर रहे हैं। वहाँ से लौटे भारतीय छात्रों ने भी अपनी आपबीती बताई है। यूक्रेन के निवासी अपने घरों को छोड़कर जाएं तो कहाँ जाएं ? हजारों कीव निवासी बम से बचने के लिए मेट्रो स्टेशनों में रात बिता रहे हैं क्योंकि रॉकेट से हो रहे हमलों और विस्फोटों ने शहर को हिलाकर रख दिया। रूस के हमले से यूक्रेन में जो हालात हैं उसपर यूक्रेन के विदेश मंत्री ने कहा, "पिछली बार हमारी राजधानी में इस तरह की स्थिति का सामना 1941 में किया था जब नाजी जर्मनी ने हमला किया था,"
Russia Ukraine war heart wrenching stories of Ukrainians
Russia Ukraine war heart wrenching stories of Ukrainians
आज हम अपने लेख में यूक्रेन की जनता किस हाल में उसपर प्रकाश डालेंगे:

मीडिया से बातचीत करते हुए केन्सिया नाम की एक महिला ने कहा, "कल मैं विस्फोटों के शोर से उठा, मैंने आग की लपटें देखीं। यह डरावना था।" इस महिला ने आगे कहा, "मुझे बहुत, बहुत, बहुत गुस्सा आ रहा है क्योंकि यह स्थिति सामान्य नहीं है। यह मेरा देश है, यह मेरी भूमि है, यह मेरा शहर है। और अब हम सभी यूक्रेनियन पर हमले हो रहे हैं। कई शहरों पर हमले हो रहे हैं।"
ukraine_4.jpg
मीडिया से बातचीत में एक 65 वर्षीय नागरिक ने कहा, "मैं भाग रहा था और एक बैग पकड़े हुए था और दर्द महसूस कर रहा था, फिर मैंने देखा कि मेरे बैग से खून बह रहा है, मेरे अंगूठे में चोट लगी थी।"
twitter2.jpg
माइकल नाम के एक अन्य निवासी ने मीडिया से बातचीत में कहा, "हमारे पास हमारे सभी कागजात हैं। हमारे पास कुछ कपड़े हैं, भोजन हैं, और हम जाने के लिए तैयार हैं। लेकिन मेरा अनुमान है कि हम जीतेंगे, क्योंकि हमारी सेना लड़ने के लिए काफी मजबूत है।"
यह भी पढ़ें

यूक्रेन में लड़कियों में सैनिकों का खौफ, छात्राओं ने बताईं रशियन आर्मी की करतूतें

ट्विटर पर Anna नाम की एक यूजर ने ट्वीट कर आपबीती सुनाते हुए ट्वीट किया और लिखा, "बहुत जोरदार धमाका हुआ, हमारी बिल्डिंग थरथरा गई, हम बाथरूम में छुपे हैं और खुद को बच्चों के बिस्तर के गद्दों से ढका हुआ है।"

एक Nlo47 नाम की यूक्रेन की यूजर ने ट्वीट कर लिखा, "मैं उम्मीद कर रही थी कि मैं आज घर पर रह सकूँगी, लेकिन मुझे तुरंत शेल्टर में जाना पड़ा। ये काफी डरावना है, फिल्मों से भी भयंकर मैं आपको तस्वीर शेयर नहीं कर सकती।"
यूक्रेन के राष्ट्रपति लगातार युद्ध को रोकने के लिए प्रयास कर रहे हैं। अमेरिका समेत कई देश यूक्रेन की मदद के लिए सामने आए हैं परंतु ये जंग कब तक चलेगी कोई नहीं जानता। इस जंग से काफी नुकसान हो रहा है और लोग छुपकर रहने को मजबूर है। जंग यदि जल्दी नहीं रुकी तो यहाँ आम जीवन को फिर से पटरी पर लाना और कठिन हो जाएगा।

यह भी पढ़ें

रूस,यूक्रेन युद्ध के नाम पर मुनाफाखोरी का धंधा, 28 रु तक बढ़े तेल के दाम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यताअलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाई'माता-पिता भारतीय नागरिकता भलें छोड़ दें, गर्भ में मौजूद बच्चे को नागरिकता वापस पाने का हक' - मद्रास हाईकोर्टज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद : वाराणसी कोर्ट की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, शुक्रवार को होगी सुनवाईAssam Flood Situation: बाढ़ का जायजा लेने पहुंचे BJP विधायक को जवान ने पीठ पर लादकर नाव तक पहुंचाया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.