scriptTwitter Controversy: India-China agents were working for Twitter | Twitter Controversy : भारत-चीन के एजेंट ट्विटर के लिए कर रहे थे काम, अमरीकी सीनेट के सामने व्हिसलब्लोअर के विस्फोटक खुलासे | Patrika News

Twitter Controversy : भारत-चीन के एजेंट ट्विटर के लिए कर रहे थे काम, अमरीकी सीनेट के सामने व्हिसलब्लोअर के विस्फोटक खुलासे

ट्विटर के पूर्व सुरक्षा प्रमुख पीटर "मुज" ज़टको ने मंगलवार को अमरीकी सीनेट को बताया कि ट्विटर के पेरोल पर चीन की खुफिया सेवा से "कम से कम एक एजेंट" काम कर रहा था और कंपनी ने जानबूझकर भारत को भी कंपनी रोस्टर में एजेंटों को जोड़ने की अनुमति दी थी। इस कारण संभावित रूप से इन देशों को उपयोगकर्ताओं के बारे में संवेदनशील डेटा तक पहुंच प्रदान की गई थी। यूजर्स की गोपनीयता पर सवाल उठाने वाले ये विस्फोटक खुलासा जेटको ने ऐसे समय में किए हैं, जबकि मस्क और ट्विटर में लीगल वार चल रहा है।

जयपुर

Published: September 14, 2022 11:37:52 am

जाने-माने साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ और ट्विटर के व्हिसलब्लोअर पीटर मुज जैटको ने सनसनीखेज दावा किया है कि भारत और चीन के एजेंट ट्विटर के वेतनभोगी कर्मचारी बतौर काम कर थे। उन्होंने यह भी कहा कि कंपनी ने जानबूझकर भारत को कंपनी के स्टाफ में एजेंटों को जोड़ने की अनुमति दी। ये एजेंट ट्विटर यूजर्स के संवेदनशील डाटा संबंधित देशों को देते थे। जैटको ने ये चौंकाने वाले खुलासे सीनेट की न्यायिक समिति के सामने पेश होते वक्त किए। जैटको ने समिति के सदस्य अमेरिकी सांसदों के समक्ष कहा कि इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की साइबर सुरक्षा कमजोर है। यूजर्स की गोपनीयता खतरे में है।
jetko_twiiter.jpg
ट्विटर के पूर्व सुरक्षा प्रमुख रहे हैं जैटको

जैटको ने ये चौंकाने वाले खुलासे सीनेट की न्यायिक समिति के सामने पेश होते वक्त किए। जैटको ने समिति के सदस्य अमेरिकी सांसदों के समक्ष कहा कि इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की साइबर सुरक्षा कमजोर है। यूजर्स की गोपनीयता खतरे में है। ट्विटर के पूर्व सुरक्षा प्रमुख रहे जैटको ने यह भी दावा किया कि चीन का कम से कम एक खुफिया एजेंट इस साइट पर काम कर रहा था।
अपने स्वयं के निदेशक मंडल को भी गुमराह कर रहा ट्विटर का नेतृत्व

ट्विटर के खिलाफ उनके द्वारा लगाए गए आरोपों की गवाही के लिए जैटको सीनेट की समिति के समक्ष पेश हुए। उन्होंने अमेरिकी सांसदों से कहा कि ट्विटर का नेतृत्व जनता, सांसदों, नियामकों और यहां तक कि अपने स्वयं के निदेशक मंडल को भी गुमराह कर रहा है। शपथपूर्वक गवाही देते हुए जैटको ने कहा कि वे नहीं जानते कि ट्विटर के एजेंटों के पास कौन सा डाटा है और वह कहां रहता है। उन्होंने कहा कि यदि तालेनुमा सुरक्षा व्यवस्था नहीं है, तो इससे फर्क नहीं पड़ता कि उसकी चाबी किसके पास है।
मस्क द्वारा लगाए जा रहे आरोपों की भी पुष्टि

यही नहीं, पूर्व ट्विटर सुरक्षा प्रमुख ने आरोप लगाया है कि ट्विटर ने अपनी निजता सुरक्षा नीतियों और बॉट खातों की वास्तविक संख्या के बारे में नियामकों को गुमराह किया है। गौर करने वाली बात ये है कि ये कुछ परेशान करने वाले खुलासे करने वाले और कोई नहीं बल्कि ये एक सम्मानित साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ हैं और ट्विटर के व्हिसलब्लोअर पीटर "मुज" ज़टको हैं, जो कंपनी के खिलाफ अपने आरोप लगाने के लिए सीनेट न्यायपालिका समिति के सामने पेश हुए थे।
प्लेटफॉर्म कमजोर साइबर सुरक्षा से ग्रस्त

जाटको ने सांसदों से कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कमजोर साइबर सुरक्षा से ग्रस्त है जो इसे "किशोरों, चोरों और जासूसों" द्वारा शोषण के लिए कमजोर बनाता है और अपने उपयोगकर्ताओं की गोपनीयता को खतरे में डालता है।
"मैं आज यहां हूं क्योंकि ट्विटर नेतृत्व जनता, सांसदों, नियामकों और यहां तक कि अपने स्वयं के निदेशक मंडल को गुमराह कर रहा है," जाटको ने अपनी शपथ गवाही शुरू करते हुए कहा।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

वायु सेना छोड़ राजनीति में आए झारखंड के पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए भरा नामांकनलोन लेना हुआ महंगा, RBI ने लगातार चौथी बार 0.50 फीसदी बढ़ाया रेपो रेट, ज्यादा चुकाना होगी EMIअरविंद केजरीवाल का चौंकाने वाला दावा! अब राघव चड्ढा होंगे गिरफ्तारकांग्रेस आलाकमान ने दिखाए सख्त तेवर, गहलोत-पायलट खेमे को लेकर लिया ये बड़ा फैसलादिग्विजय नहीं भरेंगेे नामांकन, कांग्रेस अध्यक्ष पद की दावेदारी पर संशय बरकरारएक माह में ही काबुल में एक और भीषण आतंकी हमला, निशाने पर शिया-हजारा समुदाय, दो दर्जन से अधिक छात्रों की हत्यारेलवे ने शुरू की अच्छी सर्विस, अब ट्रेन में सोते समय नहीं छूटेगा आपका स्टेशन, जानिए कैसे मिलेगी जानकारीWeather Report: दिल्ली सहित इन राज्यों से विदा हुआ मानसून, जानिए इस वर्ष कितनी कम हुई बारिश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.