scriptUS Secretary of State Antony Blinken told the reason for pending visa | अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने बताई भारत से जुड़े लंबित वीजा मुद्दों की वजह और कब तक होगा हल | Patrika News

अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने बताई भारत से जुड़े लंबित वीजा मुद्दों की वजह और कब तक होगा हल

locationजयपुरPublished: Sep 28, 2022 09:51:28 am

Submitted by:

Swatantra Jain

भारत और अमरीका के बीच संयुक्त प्रेस वार्ता के दौरान अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने मंगलवार को भारत को आश्वासन दिया कि अमरीका भारतीय नागरिकों के वीजा आवेदनों के बैकलॉग पर “फिर पुराने स्तर पर लौटने की दिशा में” कर रहा है और कहा कि इस संबंध में बाइडेन प्रशासन की एक योजना है जो आने वाले महीनों में लागू होगी।ब्लिंकन ने एक प्रेस वार्ता में कहा, लंबित वीजा अवधि का मुख्य कारण कोविड समस्या रहा है। उन्होंने कहा कि, जब भारत से जुड़े वीजा बैकलॉग की बात आती है तो मैं कहूँगा कि हमारे पास एक योजना है।

s_jaishankar_s_jayshankar_antony_blinken.jpg
अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने मंगलवार को आश्वासन दिया कि अमेरिका भारतीय नागरिकों के वीजा आवेदनों के बैकलॉग को पुराने स्तर पर लाने के लिए “ काम कर ” कर रहा है और कहा कि बाइडेन प्रशासन के पास एक योजना है जो आने वाले महीनों में लागू होगी। उन्होंने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल के चलते हमासे सामने समस्या थी कि किसी भी समय हमारे दूतावासों में अधिकतम कितने लोग हो सकते हैं आदि। लेकिन अब हम वास्तव में अपने संसाधनों को बहुत दृढ़ता से पुराने स्तर पर ले जाने के संकल्प के साथ काम कर रहे हैं।
ब्लिंकन ने एक प्रेस वार्ता में कहा, जब भारत से जुड़े वीजा बैकलॉग को सुलझाने की बात आती है तो, मैं कहूंगा कि हमारे पास एक योजना है, मुझे लगता है कि आप आने वाले महीनों में इसे देखेंगे। अमरीकी विदेश मंत्री की यह टिप्पणी तब आई जब उन्होंने वाशिंगटन में विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात के बाद दोनों देशों की संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित किया।
अमरीका में भारतीयों की चुनौतियों के बारे में बताया: जयशंकर
इस वार्ता के दौरान के भारत के विदेश मंत्री एस जय शंकर ने अमरीका में काम करने और रहने के लिए वीजा प्राप्त करने में भारतीयों को जिन चिंताओं और चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, उनके बारे में बताया। बता दें, अमरीकी विदेश विभाग की वेबसाइट से पता चलता है कि नई दिल्ली में वाणिज्य दूतावास में वीजा नियुक्ति के लिए औसत वेटिंग अवधि विजिटर वीजा के लिए 833 दिन और छात्र वीजा के लिए 430 दिन है। अगर अमरीका के वीजा के लिए मुंबई से आवेदन किया जाता है तो यूएस वीज़ा अपॉइंटमेंट के लिए औसत प्रतीक्षा समय विज़िटर वीज़ा के लिए 848 दिन और छात्र वीज़ा के लिए 430 दिन है।
भारत और अमरीका की साझेदारी दुनिया की चुनौतियों के मद्देनजर सबसे निर्णायक

अमरीका के विदेश सचिव ब्लिंकन ने, इस बैकलॉग के लिए कोविड -19 महामारी को दोषी ठहराया और कहा कि "मैं इसके प्रति बेहद संवेदनशील हूं।" ब्लिंकन ने कहा कि "वीजा जारी करने की हमारी क्षमता में नाटकीय रूप से गिरावट आई है। ब्लिंकन ने कहा कि, आखिरी चीज जो हम करना चाहेंगे कि वो ये कि ये समस्या और मुश्किल न हो। उन्होंने कहा कि, इसके विपरीत, हम इसे सुविधाजनक बनाना चाहते हैं। इसलिए हमारे साथ आप भी कुछ सहन करें। उन्होंने कहा कि, ये
यह अगले कुछ महीनों और चलेगा, लेकिन हम इस पर बहुत ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।" ब्लिंकन ने कहा। इसके अलावा संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, ब्लिंकन ने यह भी कहा कि भारत और संयुक्त राज्य अमरीका के बीच साझेदारी दुनिया में उन भागादरियों में है जिनके सबसे निर्णायक परिणाम दिखेंगे।
उन्होंने कहा कि भागीदारी, दुनिया की किसी भी वैश्विक चुनौती का समाधान करने के लिए है, जिसका आज हम सामना कर रहे हैं - स्वास्थ्य, सुरक्षा, जलवायु परिवर्तन, खाद्य सुरक्षा और स्वतंत्र और खुली अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था को बनाए रखना। ब्लिंकन ने कहा कि, पिछले वर्षों में, हमने उस साझेदारी को द्विपक्षीय रूप से बढ़ाने में वास्तविक प्रगति की है - QUAD और G20 जैसे संस्थानों और संयुक्त राष्ट्र में अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के माध्यम से।"
भारत संभालेगा जी-20 और सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता
ब्लिंकन ने भारत की आगामी अध्यक्षता पर बोलते हुए कहा कि, भारत दिसंबर में ग्रुप ऑफ ट्वेंटी (G20) की अध्यक्षता संभालेगा। भारत के दिसंबर में UNSC में अध्यक्षता करने और अगले साल G20 में अध्यक्षता संभालने के साथ, हम और अधिक वैश्विक सहयोग और कार्रवाई को एक साथ चलाने के लिए सक्षम होंगे।" बता दें, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इसके पहले क्वाड बैठक में ब्लिंकन से मुलाकात की थी, जिसमें भारत, अमरीका, ऑस्ट्रेलिया और जापान के विदेश मंत्रियों की भागीदारी देखी गई।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

श्रद्धा मर्डर केस : FSL दफ्तर के बाहर आफताब की वैन पर तलवार से हमला, 4-5 लोगों ने बनाया निशानागुजरात चुनाव: अरविंद केजरीवाल पर पथराव, सूरत में रोड शो के दौरान मचा हड़कंप'सद्दाम' जैसा लुक पर हिमंता बिस्व सरमा की सफाई, कहा- दाढ़ी हटा लें तो 'नेहरू' जैसे दिखेंगे राहुलदिल्ली में श्रद्धा मर्डर जैसा एक और केस, शव के टुकड़े कर फ्रिज में रखा, मां-बेटा गिरफ्तारपायलट और गहलोत की कलह से भारत जोड़ो यात्रा पर नहीं पड़ेगा फर्क : राहुल गांधीCM भूपेश बघेल बोले- बलात्कारी को बचाने में लगी हुई है भाजपा, ED-IT को लेकर कही ये बातऋतुराज गायकवाड़ ने एक ओवर में 7 छक्के जड़कर बनाया विश्व रिकॉर्ड, युवराज को भी छोड़ा पीछेगुजरात चुनाव में 'आप' को झटका, वसंत खेतानी भाजपा में शामिल केजरीवाल निराशा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.