scriptIsrael Hamas War: जहां जान बचाने के लिए छिपे थे फिलिस्तीनी, वहां इजरायल का हमला, 20 मासूम बच्चों समेत 70 की मौत | Bodies of 70 Palestinians found in Gaza's Jabaliya refugee camp | Patrika News
विदेश

Israel Hamas War: जहां जान बचाने के लिए छिपे थे फिलिस्तीनी, वहां इजरायल का हमला, 20 मासूम बच्चों समेत 70 की मौत

Israel Hamas War: इस मामले में गाज़ा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इजरायली सैनिकों ने फिलिस्तीनियों को सामूहिक तरीके से सजा दी है। उनके घरों में आग लगा दी कुछ पर बम बरसा दिए।

नई दिल्लीJun 01, 2024 / 03:07 pm

Jyoti Sharma

Bodies of 70 Palestinians found in Gaza's Jabaliya refugee camp

Bodies of 70 Palestinians found in Gaza’s Jabaliya refugee camp

Israel Hamas War: गाज़ा में अब शांति होने वाली है लेकिन इस शांति से पहले गाज़ा पूरी तरह अपन सर्वनाश देख रहा है। यहां रोज़ फिलिस्तीनी (Palestinian) मारे जा रहे हैं और अब तो हद ही हो गई क्योंकि जिस जगह से इजरायली सेना (IDF) वापस जा चुकी है अब वहां पर भी फिलिस्तीनियों के शव मिल रहे हैं। ऐसी ही एक रिपोर्ट उत्तरी गाज़ा के जबालिया शरणार्थी कैंप से आई है। यहां पर बीते दिन कम से कम 70 फिलिस्तीनियों के शव निकाले गए हैं। इसी जगह से इज़राइल (Israel) ने लगभग तीन हफ्ते के हमले के बाद अपनी सेना को वापस बुला लिया है। 

20 बच्चों समेत 70 के मिले शव

गाज़ा (Gaza) के स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक एम्बुलेंस और नागरिक सुरक्षा दल ने इस कैंप से 20 बच्चों समेत लगभग 70 शवों को निकाला, जबकि लापता लोगों की तलाश चल रही है। बताया जा रहा है कि इन लोगों की इजरायल (Israel) के हवाई ऑपरेशन में मौत हुई है। 
जैसे ही ये इजरायली सेना यहां से गईं वैसे ही यहां से भागे लोग अपने-अपने घरों को गए और जब ये लोग अपने इलाकों में गए और वहां का जो हाल देखा तो उनकी चीखें निकल गई। यहां सारे घर, सड़कें, जल आपूर्ति सिस्टम और सीवेज जैसे बुनियादी ढांचे नष्ट हो चुके थे। चारों तरफ सिर्फ मलबा ही बिखरा हुआ था। 

इजरायल ने की सामूहिक हत्या 

मंत्रालय ने कहा कि इजरायली सैनिकों ने फिलिस्तीनियों को सामूहिक तरीके से सजा दी है। उनके घरों में आग लगा दी कुछ पर बम बरसा दिए। 

UN ने भी दिया बयान 

इस मामले पर संयुक्त राष्ट्र यानी UN ने भी बयान दिया है जिसमें कहा गया कि उन्हें जबालिया कैंप से एक भयानक रिपोर्ट मिली है। जहां कई बच्चों समेत बड़ी संख्या में लोगों ने शरण ली हुई थी लेकिन उन्हें भी इजरायली सेना छोड़ा नहीं।

इजरायल अब चाहता है शांति

बता दें कि  गाजा़ में बीते 8 महीने से जंग लड़ रहे इजरायल ने आखिरकार युद्ध खत्म करने को हामी भर दी है। यही नहीं इजरायल (Israel) ने गाज़ा में युद्ध रोकने के लिए एक शांति प्रस्ताव भी रखा है जिसे अमेरिका के जरिए दुनिया के सामने जारी किया गया है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने कहा है कि अब गाजा़ में शांति बनाने का। इजरायल इस युद्ध को रोकने के लिए मान गया है और उसने एक शांति प्रस्ताव भी रखा है।  

क्या है शांति प्रस्ताव में?

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने कहा कि इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने हमास के बंधक बनाए हुए लोगों को छोड़ने की शर्त पर ही गाज़ा में युद्ध रोकने की बात कही है। बाइडेन ने कहा कि ये प्रस्ताव 6 सप्ताह के चरण के साथ शुरू होगा जिसमें गाजा (Israel-Hamas War) के सभी आबादी वाले क्षेत्रों से इजरायली सेना की वापसी होगी।

Hindi News/ world / Israel Hamas War: जहां जान बचाने के लिए छिपे थे फिलिस्तीनी, वहां इजरायल का हमला, 20 मासूम बच्चों समेत 70 की मौत

ट्रेंडिंग वीडियो