scriptAfter jagannath darshan Do darshan of Sakshi gopal in puri | जगन्नाथ पुरी के दर्शन के बाद इस मंदिर के जरुर करें दर्शन, वरना अधूरी रह जाएगी आपकी यात्रा | Patrika News

जगन्नाथ पुरी के दर्शन के बाद इस मंदिर के जरुर करें दर्शन, वरना अधूरी रह जाएगी आपकी यात्रा

जगन्नाथ पुरी के दर्शन के बाद इस मंदिर के जरुर करें दर्शन, वरना अधूरी रह जाएगी आपकी यात्रा

Published: July 02, 2018 01:45:55 pm

हिन्दू धर्म में मंदिरों का बहुत महत्व है। जगन्नाथ पुरी से महज 15 किलोमीटर की दूरी पर साक्षी गोपाल मंदिर बना हुआ है। यह मंदिर उड़ीसा प्रांत के प्रसिद्ध शहर पुरी के पास ही बना हुआ है। साक्षी गोपाल मंदिर बहुत प्रसिद्ध है। मंदिर को लेकर लोगों की धारणा है कि जो श्रद्धालु पुरी में जगन्नाथ स्वामी के दर्शन करने आएगा उस की यह यात्रा तब ही संपूर्ण होगी जब व्यक्ति साक्षी गोपाल मंदिर के भी दर्शन करेगा। जो भी श्रृद्धालु पुरी में पहुंचकर जगन्नाथ स्वामी के दर्शन करते हैं उसके बाद वे इस मंदिर में माथा टेकने जरुर जाते हैं। साक्षी गोपाल के दर्शन से पहले हर श्रद्धालु मंदिर के पास बने चंदन के सरोवर में स्नान करते हैं उसके बाद ही दर्शन करते हैं।

jagannath
jagannath

काफी रोमांचक है मंदिर से जुड़ी कथा

साक्षी गोपाल मंदिर की खूबसूरती की तारिफ करते ही बनती है, इसकी इमारत बहुत सुंदर और मनोभानव है। जिस तरह मंदिर अद्भुत है उसी तरह उसकी कथा भी काफी रौचक है। पौराणिक कथाओं के अनुसार कहा जाता है कि एक धनवान ब्राह्मण अपनी आयु के अंतम पड़ाव पर था। तब उसने तीर्थ यात्रा करने के लिए सोचा और वह वृंदावन जाने के लिए चल पड़ा। तभी उस के साथ एक गरीब ब्राह्मण लड़का भी चलने लगा। यह उस समय की बात है जब तीर्थ यात्राएं पैदल करनी पड़ती थी व आपने खाने-पीने की व्यवस्था भी स्वयं को करनी पड़ती थी। जब वे दोनों यात्रा के लिए निकले तब उस गरीब लड़के ने उस बुर्जुग ब्राह्मण की बहुत अच्छी देखभाल की। उस लड़के की सेवा से खुश होकर वृंदावन के गोपाल मंदिर में उस ब्राह्मण ने अपनी कन्या का रिश्ता उस गरीब लड़के से पक्का कर दिया तथा वापस जाकर इस कार्य को पूरा करने का वचन भी दे दिया।

jagannath

जब वे दोनों पुरी से यात्रा कर लौट रहे थे तब उस ब्राह्मण लड़के ने उस बुजुर्ग ब्राह्मण लड़के को भगवान गोपाल जी के सामने किया वादा याद करवाया। ब्राह्मण द्वारा अपने घर पर यह बात बताने पर परिवार वाले इस रिश्ते से सहमत नहीं हुए और उस गरीब लड़के की इस बात को लेकर बहुत बेइज्जती की। इस बेइज्जती तथा वादा खिलाफी से दुखी हो कर वह लड़का पचांयत के पास गया तो पंचों की ओर से इस बात का सबूत मांगा गया। लड़के ने कहा कि विवाह के वादे के समय गोपाल भगवान वहां मौजूद थे। गरीब लड़के की इस बात से पंचों ने भी खूद हंसी उड़ाई गई। अपने सच को साबित करने के लिए वह लड़का फिर वृदावन पहुंच गया। यहां पहुंच कर उसने भगवान गोपाल जी से अपनी पूरी दर्द कहानी सुनाई तथा हाथ जोड़कर विनती की कि अब आप ही मेरे साथ जाकर पंचायत को सारी बात समझा सकते हैं।

jagannath

उस गरीब लड़के के इस विश्वास को देखकर गोपाल जी बहुत प्रसन्न हुए और उसके साक्षी यानी गवाह बनने को तौयार हो गए। गोपाल जी ने लड़के से कहा कि तुम आगे-आगे चलना मैं तुम्हारे पीछे चलुंगा और मेरे धुंगरुओं की आवाज़ तुम्हारे कानों तक आती रहेगी। तुम इस दौरान पीछे मुडकर मत देखना वना मैं वहीं स्थिर हो जाउंगा। लड़का मान गया तथा दोनों पूरी की ओर चल पड़े। चलते-चलते जब वह अट्टक के नजदीकी गांव पुलअलसा के पास पहुंचे तो रेतला रास्ता शुरु हो गया लेकिन रेतले रास्ते के कारण घुंगरूओं की आवाज आना बंद हो गई। तभी लड़के ने पीछे पलट कर देखा और गोपाल जी वहीं स्थिर हो गए। अपने भगवान की स्थिरता को देखकर वह लड़का परेशान हो गया पर भगवान जी ने उस लड़के को कहा कि तुम परेशान न हो और जाकर पंचायत को यहां ले आअो। वह गरीब लड़का गया ओर पंचायत को वहां ले आया, जहां गोपाल जी खड़े थे। पंचायत के आने पर गोपाल जी ने वह सारी बात बताई जो की उस धनवान ब्राह्मण ने उस गरीब लड़के से बोली थीं। भगवान गोपाल जी के गवाह बनने से उस गरीब लड़के का विवाह धनवान ब्राह्मण की लड़की से संपन्न हुआ और भगवान गोपाल वहीं समा गए।

तभी से आज तक उनकी याद में यहां साक्षी गोपाल मंदिर बना है। यह इस बात का गवाह है की जो भक्त अपने भगवान पर भरोसा रखते हैं। भगवान भी संकट के समय उनका साथ देते हैं तथा अपना हाथ देकर संकट से उन्हें उभार लेते हैं। इसी के बाद से जगन्नाथ पुरी के दर्शन के बाद यहां दर्शन करना जरुरी माना जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाCM अरविंद केजरीवाल ने किया सवाल- 'मनरेगा, किसान, जवान… किसी के लिए पैसा नहीं, कहां गया केंद्र सरकार का धन'SCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगसझारखंड BJP ने बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को गिफ्ट में भेजा पेन, कहा - '10 लाख नौकरी देने वाली फाइल पर इससे करें हस्ताक्षर'ममता बनर्जी को एक और झटका, अब पशु तस्करी केस में TMC नेता अनुब्रत मंडल को CBI ने किया गिरफ्तारCoal Scam: कोयला घोटाले मामले में ED ने पश्चिम बंगाल के 8 आईपीएस ऑफिसर को जारी किया समनजम्मू-कश्मीर के रामबन में लैंडस्लाइड व बादल फटने से दो लोगों की मौत, हिमाचल के कुल्लू में कई दुकानें बहीं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.