बीकानेर. 'गणराज हिण्डो ले मैं तुझको हिंडाऊंला, करूं तिलक भाल चंदन का...लड्डुअन का भोग लगाऊंगा' जैसे भजनों के बीच सिद्धि के दाता गणेशजी के जन्मोत्सव पर श्रद्धालुओं ने शुक्रवार को मोदक का भोग लगाया। घर-घर में गणेशजी की पूजा-अर्चना की गई। मुख्य प्रवेश द्वार पर स्थापित गणेशजी का दही-दूध, पंचामृत स्नान के बाद शृंगार किया और मोदक का भोग लगाया गया। शहर के गणेश मंदिरों में अल सुबह से ही श्रद्धालुओं की लंबी कतारें लगी रही।

 

बूंदी का वितरण
नत्थूसर गेट स्थित बड़ा गणेश मंदिर में पुजारी कैलाश रामावत के सान्निध्य में तड़के साढ़े चार बजे गणेश की प्रतिमा का 150 किलो पंचामृत से स्नान कराया और चांदी के वर्क, पुष्प मालाओं, केशर-चंदन से विशेष शृंगार किया। दोपहर 12 बजे महाआरती हुई। इस अवसर पर 150 किलो बूंदी का वितरण किया गया। मंदिर में सुबह से देर रात तक दर्शनार्थियों का तांता लगा रहा। मंदिर के बाहर दुकानें भी सज गई, जहां श्रद्धालुओं की भीड़ रही।

 

तीन चरणों में पूजन
इक्कीसिया गणेशजी मंदिर में पुजारी नृसिंहदास, बाबूलाल स्वामी के सान्निध्य में तीन चरण में पूजन किया गया। चांदी के वर्क से शृंगार किया गया। नत्थूसर गेट बाहर स्थित पीरूदान किराड़ू बगीची में गणेशजी का पंचामृत अभिषेक के बाद शृंगार व पूजन किया गया।धर्मनगर द्वार के बाहर रत्ताणी व्यासों की बगीची में गणेश का विशेष शृंगार किया गया।

 

चार धाम का जल
कोटगेट सट्टा बाजार स्थित श्री ब्राह्मण स्वर्णकार गणेश मंदिर में सुबह शुभ मुहूर्त में चार धाम से लाए गए जल से अभिषेक किया। दोपहर 12 बजे पंचामृत से अभिषेक के बाद महाआरती की गई। 501 किलो बूंदी व 1001 किलो पंचामृत का वितरण किया।

 

विशेष शृंगार
जस्सूसर गेट रोड स्थित सिद्धि विनायक का चांदी के वर्क से विशेष शृंगार किया गया। पंडित शंकर लाल पारीक, दाऊलाल, नारायण लाल व गिरीराज पारीक ने पूजा-अर्चना की। जूनागढ़ के गणेश मंदिर, दाऊजी मंदिर स्थित आदि गणेश, मोहता रसायनशाला परिसर के गणेश मंदिर, उदयरामसर स्थित गणेश धोरा मंदिर में दर्शनार्थियों की भीड़ रही। अपना घर आश्रम एवं जिला उद्योग संघ के तत्वावधान में गणेश चतुर्थी का पर्व मनाया गया। इस मौके पर जिला उद्योग संघ अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पचीसिया, अमित जांगिड़, सुभाष मित्तल आदि मौजूद थे।

 

विशेष पूजा-अर्चना
गणेश चतुर्थी पर्व पर शुक्रवार को गणेश धोरा स्थित श्रीगणेश की मूर्ति को विशेष श्रृंगार कर पूजन किया गया। महाआरती हवन व महाप्रसाद का आयोजन किया गया। गुरुदेव शिवप्रसाद शर्मा के सान्निध्य में श्रीगणेश की वंदना हुई। जोशीवाड़ा स्थित हनुमान मंदिर परिसर में शुक्रवार से 85 वां गणेश महोत्सव शुरू हुआ। भगवान गणेश की प्रतिमा का पूजन कर आरती की गई।

 

गंगाशहर में रिद्धि-सिद्धि गणेश मंदिर में पं. नारायण शर्मा के सान्निध्य में गणेश प्रतिमा का रुद्राभिषेक किया गया। इस अवसर पर पूनमचंद बच्छ, नेमीचंद पंचारिया आदि मौजूद थे। रत्ताणी व्यासों के चौक में युवा प्रकोष्ठ समिति की ओर से दस दिवसीय महोत्सव का आगाज हुआ। आदित्य नारायण पुरोहित ने पूजा-अर्चना कराई। गणेश जी को 21 किलो मोदक का भोग लगाया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned