Hariyali amavasya: आज रोपें ये विशेष पौधा, सालभर घर आएगी खुशहाली और पैसा

Hariyali amavasya:आज बन रहे बहुत ही विशेष संयोग

By: Tanvi

Updated: 01 Aug 2019, 12:48 PM IST

1 अगस्त, गुरुवार के दिन हरियाली अमावस्या ( Hariyali Amavasya ) को ज्योतिषशास्त्र के अनुसार बेहद शुभ संयोग बन रहे हैं। इस दिन दोपहर 12 बजकर 12 मिनट तक गुरु और पुष्य नक्षत्र ( pushya nakshatra ) के संयोग से गुरु पुष्य योग बन रहा है। इसके साथ ही इस सभी प्रकार की सिद्धि प्रदान करने वाला सर्वार्थ सिद्धि योग, अमृत पुष्य योग और सिद्धि योग भी बना है। इस शुभ मौके पर व्यक्ति अपने अच्छे समय को ला लकता है। इस दिन किए गए उपाय बहुत ही फायदेमंद साबित होंगे और आपको इसका करोड़ों गुना फल भी प्राप्त होगा। तो आइए जानते हैं क्या करें इस दिन...

Sawan: सावन में इस विशेष उपाय से करें श्री कृष्ण को प्रसन्न, कृष्ण जैसी संतान का मिलेगा वरदान

hariyali amavasya 2019

हरियाली अमावस्या के दिन अपनी राशि अनुसार लगाएं पौधे ( rashi anusar upay ) ....

मेष - आम, अकौआ, नीम
वृषभ- पलाश, पारस पीपल
मिथुन- अपामार्ग, वट
कर्क- पलाश, अशोक, वट
सिंह- खैर, शीशम, मीठा नीम
कन्या-आंवला, अमरुद
तुला- जायसम, कटहल, गूलर
वृश्चिक-करंज, खैर, आंवला
धनु- पीपल, गूलर
मकर- शमी, बांस
कुंभ- शमी, खेजड़ी
मीन- पीपल, पलाश

364 दिन बाद खुलेगा इस मंदिर का द्वार, कर लें दर्शन वरना फिर करना होगा 364 दिन इंतजार

hariyali amavasya 2019

हरियाली अमावस्या से होती है हिंडोला उत्सव की शुरूआत

हरियाली अमावस्या का पर्व प्रकृति के संरक्षण और पौधरोपण के लिए खास माना जाता है। इस दिन वृक्षों की पूजा की जाती है और सदैव उनकी रक्षा का संकल्प लिया जाता है। इसके अलावा इस दिन से हिंडोला उत्सव की शुरुआत हो जाएगी। इस दौरान रोजाना अलग-अलग स्वरूपों में राधा-कृष्ण मंदिरों में उनका श्रंगार किया जाता है और रक्षाबंधन यानी पूर्णिमा तक यह मनाया जाता है।

इसके साथ ही हरियाली अमावस्या के दिन से महाराष्ट्रीयन समाज का सावन माह भी शुरू हो जाता है। इसी दिन से वे पूजा-अर्चना करते हैं व सावन सोमवार का व्रत भी रखते हैं।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned