जिम्बाब्वे: हिरासत में लिए गए राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे, सेना ने कहा- तख्तापटल नहीं

जिम्बाब्वे की सत्ता संकट में है।सत्तारुढ़ पार्टी का दावा है कि राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे को हिरासत में लिया गया है। जबकि सेना ने तख्तापलट से इनकार किया

By: Chandra Prakash

Updated: 15 Nov 2017, 02:01 PM IST

हरारे: जिम्बाब्वे की सत्ता पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। जिम्बाब्वे की सत्तारुढ़ पार्टी ने दावा किया है कि तख्तापटल के बाद राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे को हिरासत में ले लिया गया है। खबर है कि मुगाबे के परिवार के सदस्यों कों भी गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं दूसरी ओर सेना के एक जनरल ने टीवी पर कहा है कि जिम्बाब्वे में किसी तरह का सैन्य तख्तापलट नहीं हुआ है। राष्ट्रपति का परिवार पूरी तरह सुरक्षित है।

 

सरकारी टीवी के दफ्तर पर कब्जा

राजधानी हरारे में हुए तीन धमाकों के बाद सरकारी न्यूज चैनल के दफ्तर पर सैनिकों ने कब्जा कर लिया है। टीवी का प्रसारण पर रोक दिया गया है। इसके साथ ही सड़कों पर टैंक निकल चुके हैं। जिससे लोग दहशत में हैं।

सेना ने दी सत्ता को चेतावनी
बता दें कुछ समय पहले राष्ट्रपति मुराबे ने उप राष्ट्रपति को पद से बर्खास्त कर दिया था। जिसके बाद जिम्बाब्वे के सेना प्रमुख ने सत्ता में सैन्य हस्ताक्षेप भी चेतावनी दी। इसके बाद सत्ताधारी पार्टी ने उनपर देशद्रोह की गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा दिया। इसी वजह से सेना हरकत में आ गई। जनरल कॉन्स्टेंटिनो चिवेंगा ने चेतावनी दी है कि सत्ताधारी पार्टी में चल रही उथल पुथल को खत्म करने के लिए सेना हस्तक्षेप करेगी।

 

 

Zimbabwe

सड़कों पर निकले बख्तरबंद वाहन
तनाव मंगलवार से बढ़ा है जब बख्तरबंद वाहन हरारे के बाहर की सड़कों पर तैनात कर दिए गए थे और इनका यहां तैनात होने का उद्देश्य भी स्पष्ट नहीं था। बुधवार की सुबह तीन बड़े धमाके भी सुने गए हैं। सरकार ने सेना पर विश्वासघाती बर्ताव करने का आरोप भी लगाया है।


राष्ट्रपति आवास के बाहर धमाके
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रपति रॉबर्ट मुराबे के हरारे स्थित आवास के बाहर कुछ समय पहले करीब 40 राऊंड गोलियां चली हैं। सैनिकों ने राष्ट्रपति के आवास को चारो तरफ से घेर लिया है। आशंका जताई जा रही है 37 साल का शासन जाता देख राष्ट्रपति ने अपने अंगरक्षकों से खुद की रक्षा के लिए फायरिंग करवाई है।


अमरीका और ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी
इसी बीच अमरीका और ब्रिटेन ने अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की है। यूएस एंबेसी ने ट्वीट कर कहा है कि यहां अनिश्चितता चल रही है, आगे की सूचना तक आप सुरक्षित स्थानपर रहें। तो ब्रिटिश सरकार ने कहा कि अनिश्चित राजनैतिक माहौल को देखते हुए सभी ब्रिटिश नागरिक अपने घरों में ही सुरक्षित रहें।

Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned