script कतर में मिली थी 8 पूर्व नौसेनिक अधिकारियों को मौत की सजा, अब घर वापसी की जगी उम्मीद | 8 former naval officers were given death sentence in Qatar now there is hope of returning home | Patrika News

कतर में मिली थी 8 पूर्व नौसेनिक अधिकारियों को मौत की सजा, अब घर वापसी की जगी उम्मीद

locationआगराPublished: Nov 26, 2023 10:18:50 pm

Submitted by:

Suvesh shukla

कतर में जिन 8 पूर्व नौसेना के अधिकारियों को मृत्युदंड की सजा मिली थी। उनके वापसी की उम्मीद बढ़ गई है। कतर की अदालत ने मामले पर विचार के लिए जल्द ही सुनवाई शुरू करने का निर्णय लिया है।

8 former naval officers were given death sentence in Qatar now there is hope of returning home
कतर की सेना से जुड़ी एक कंपनी में काम कर रहे आठ पूर्व नौसेना अधिकारियों को मौत की सजा सुनाई गई है। उन आठ लोगों में से एक कमांडर आगरा के हैं। जब उनको मौत की सजा होने की खबर आई तो परिवार पूरी तरह से टूट गया। लेकिन उनके वापस लौटने की आस जगने के बाद सबके चेहरों पर फिर से मुस्कान लौट आई है। हाल ही में खबर आई की मृत्युदंड के विरुद्ध अपील स्वीकार कर ली गई है।
पत्नी और बेटी ने लगा दी है जान
जिन 8 लोगों को कतर में जासूसी करने के आरोप में मौत की सजाई सुनाई गई थी। उनमें से एक आगरा के गांधी नगर निवासी पूर्व कमांडर संजीव गुप्ता भी हैं। पूर्व कमांडर की अधिवक्ता बेटी और पत्नी ने उनकी वापसी के लिए अपनी जी-जान लगा दी है।
पिता की आंखें डबडबा आईं
वहीं पूर्व कमांडर के पिता ने जब बेटे के वापसी की उम्मीद जगने की बात पता चली तो खुशी के आंसुओं से उनकी आंखें डबडबा आईं। वो बोले, मेरा बच्चा जरूर वापस आएगा। भगवान ने मेरी प्रार्थना सुन ली। मुझे सरकार पर पूरा भरोसा है।
1 साल से कतर में कैद हैं सभी
बता दें कि कतर में जासूसी के आरोप में आठ पूर्व नौसैनिकों के घर वापसी की उम्मीद जगने के बाद परिवारजन खुश हैं। गुरुवार को सुनवाई के समय कतर की अदालत ने मामले पर विचार के लिए जल्द ही सुनवाई शुरू करने का निर्णय लिया है। ये सभी भारतीय नौसेना के अधिकारी थे। जिन्होंने अपनी इच्छा से रिटायरमेंट लेकर कतर की एक कंपनी अल दहरा में काम कर रहे थे।


प्रमोद कुशवाहा की रिपोर्ट

ट्रेंडिंग वीडियो