पुस्तक मेल में बच्चों को सुनाई कहानियां, दिए पुरस्कार

पुस्तक मेल में बच्चों को सुनाई कहानियां, दिए पुरस्कार

Dhirendra yadav | Publish: Mar, 14 2018 08:56:41 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

आगरा कॉलेज खेल मैदान पर चल रहे आगरा पुस्तक मेला में बच्चों के कहानी वाचन का कार्यक्रम आयोजित किया गया।

आगरा। आगरा कॉलेज खेल मैदान पर चल रहे आगरा पुस्तक मेला में बच्चों के कहानी वाचन का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके अंतर्गत डॉ. राजेन्द्र मिलन, डॉ. उषा यादव, डॉ. शशि गोयल ने बच्चों को देशभक्ति के हालातों से जूझने संबंधित कहानियां सुनाई। बच्चों ने बहुत रोचकता से सुना। इसी के साथ सूरकुटी, अग्रसेन इंटर कॉलेज व घुमंतू पाठशाला के ब्च्चों ने अपनी सहभागिता दी। बच्चों ने गीत, ग़ज़ल, कहानी तथा कोरस के माध्यम से अपनी प्रस्तुतियां दीं।

बच्चों का उत्साह बढ़ाया
बच्चों के बढ़ते उत्साह को देख कवि सुशील सरित ने भी तुरंत लिखा गीत व कुंवर अनुराग ने भी अपनी कविता से बच्चों का उत्साह बढ़ाया। कार्यक्रम के दौरान ही संकल्प जल सेवा समिति के संस्थापक ब्रजेश पंडित ने सभी बच्चों को उपहार स्वरूप ज्योमेटरी बॉक्स व एक पेपर पैड प्रदान कर उनके उज़्ज़्वल भविष्य की कामना की। आगरा के वरिष्ठ समाज सेवी अनिल मेहरोत्रा ने भी सपत्नीक मौजूद रहकर अपनी प्रस्तुतियां देने वाले सभी बच्चों को केक और चॉकलेट प्रदान किया। कार्यक्रम में पवन आगरी, दीपक सरीन, सुशील सरित इकरा, नूतन अग्रवाल, श्रुति सिन्हा, डॉ. हृदेश चौधरी, रजनी सिंह, अनिल जैन, राजीव गुप्ता आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत से श्री आमिर जिलानी व स्थानीय संयजक कवि दीपक सरीन ने किया।

श्रोताओं के मन में गुदगुदी
शाम को व्यंग्य पाठ हुआ। आगरा और दिल्ली से आए तेजतर्रार व्यंग्यकारों ने अपनी चटपटी रचनाओं से श्रोताओं के मन में गुदगुदी पैदा कर दी। आलोक पुराणिक, श्रीकृष्ण, अंशु प्रधान, कुंवर अनुराग, डॉ. अनुज त्यागी, नीरज जैन, लालित्य ललित ने अपनी बेहतरीन रचनाओं का पाठ करते रहे और श्रोता आनंदित होते रहे। बता दें कि व्यंग्य आज तेजी से सामाजिक विडंबनाओं पर प्रहार कर रहा हैं। व्यंग्य समाचारपत्रों में पहले फिलर के तौर पर उपयोग में ले लिया जाता था, लेकिन अब पत्र-पत्रिकाओं में उसे स्थान दिया जाने लगा है।व्यंग्य की कई पत्रिकाएं निकलने लगी है, जिसमें व्यंग्य यात्रा, अट्टहास, हेलो इंडिया आदि प्रमुख हैं। राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत ने भी हास्य व्यंग्य की पुस्तकों का प्रकाशन किया है,जिसमें हरिशंकर परसाई, ज्ञान चतुर्वेदी, हरीश नवल, प्रेम जनमेजय, सुभाष चंदर, डॉ. अनुज त्यागी की व्यंग्य पुस्तकों का प्रकाशन किया है। व्यंग्य पाठ की धूम आगरा पुस्तक मेले में नजर आई।

Ad Block is Banned