वीडियो में देखिए सपाइयों ने साधु संतों की सरकार के बारे में क्या कहा

suchita mishra

Publish: Dec, 08 2017 09:16:53 (IST) | Updated: Dec, 08 2017 10:31:24 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
वीडियो में देखिए सपाइयों ने साधु संतों की सरकार के बारे में क्या कहा

आगरा में सपा ने बढ़ी बिजली दरों को लेकर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया।


पीलीभीत।
समाजवादी पार्टी ने बिजली की बढ़ी दरों के विरोध में जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ नारे लगाए। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ भी नारे लगाए। सपाइयों ने साधु संतों की सरकार के बारे में भी बातें कहीं।

 

किसान को समाप्त करने की साजिश
समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर जिलाध्यक्ष आनंद सिंह यादव के नेतृत्व में एक सभा हुई। सभा में जिलाध्यक्ष ने कहा कि नगर निकाय के चुनाव के तुरंत बाद भाजपा की योगी सरकार ने बिजली के दामों में बेहताशा वृद्धि आम आदमी की कमर तोड़ दी है। विशेषकर ग्रामीण क्षेत्र में विद्युत दरों में 63 प्रतिशत वृद्धि कर किसान को समाप्त करने के लिए साजिश रच दी। जिलाध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि हम आज अपने नेता के आह्वान पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

ये लगाए नारे
पार्टी कार्यालय से कार्यकर्ता योगी-मोदी की सरकार नहीं चलेगी। बिजली पानी दे न सके- वो सरकार निकम्मी है। बिजली के बढ़े दामों को वापस लो-वापस लो, साधु-संतों की सरकार नहीं चलेगी-नहीं चलेगी, के नारे लगाते हुए कार्यकर्ता कलक्ट्रेट पहुंचे। कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठ गए। कलक्ट्रेट में जिलाधिकारी के प्रतिनिधि के रूप में सिटी मजिस्ट्रेट अवधेश मिश्र ने धरनास्थल पर आकर राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन प्राप्त किया। जिलाध्यक्ष ने ज्ञापन पढ़कर सुनाया। ज्ञापन में समाजवादी पार्टी ने कहा है कि प्रदेश में भाजपा सरकार बिजली दरों में वृद्धि को तत्काल वापस लें, अन्यथा समाजवादी पार्टी बाध्य होकर सड़कों पर संघर्ष करेगी।

 

ये रहे उपस्थित
ज्ञापन एवं मार्च में नगरपालिका बीसलपुर के अध्यक्ष नूर अहमद अंसारी, पूर्व विधायक पीतमराम, अकबर अंसारी, असलम जावेद, इम्तियाज अल्वी, श्यामाचरण गंगवार, मोहम्मद बहाबुद्दीन अंसारी, चंचल लोधी, वीडी प्रजापति, वीरेंद्र सिंह यादव, चरन सिंह यादव, रियाज खां, मुजाहिद इस्लाम बबलू, अरुण वर्मा, सद्दीक अहमद, अशरफी लाल, सुरेश कुमार, रूपराम कश्यप, महेश यादव, संजीव वाजपेयी, आनंद पासवान, अयूब खां, मोहम्मद जाहिद, इरशाद खां, रामप्रताप गंगवार, मोहम्मद यासीन, रामनाथ वर्मा, हरिओम गंगवार, अजय भारती, अमरसिंह, आलोक कुमार, राजाराम यादव, अतर सिंह, ममता सक्सेना, रामगुनी, गोमती, इश्तयाक मंसूरी, राकेश प्रताप सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता शामिल थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned