पीएम मोदी और योगी सरकार की सबसे बड़ी योजना, बिजली के बिल से मुक्ति पाएं, हर महीने ढ़ाई से तीन हजार रुपये भी कमाएं

केन्द्र सरकार आपको 40 फीसद सब्सिडी दे रही है, इसके साथ ही यूपी सरकार भी 15 से 30 हजार रुपये दे रही है।

आगरा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सबसे बड़ी योजना का लाभ उठाकर आप बिजली का बिल ही जीरो नहीं कर सकते, बल्कि हर महीने ढ़ाई से तीन हजार रुपये भी कमा सकते हैं। ग्रिड कॉम सोलर पॉवर प्लांट के लिए केन्द्र सरकार आपको 40 फीसद सब्सिडी दे रही है, इसके साथ ही यूपी सरकार भी 15 से 30 हजार रुपये दे रही है।

ये भी पढ़ें - पति के मोबाइल पर पार्किंग मिलने का मैसेज देख पत्नी ने किया पीछा, कार में पति के साथ बैठी थी युवती, जब देखा चेहरा तो उड़ गए होश

इस तरह होती है कमाई
इस सिस्टम में बैटरी नहीं होती है, जिसके कारण इस सिस्टम की कीमत काफी कम आती है। ये सिस्टम शहरी क्षेत्रों में ज्यादा कारगर साबित होते हैं, जहां बिजली की सप्लाई लगातार होती है। बिजली आपूर्ति के दौरान सिस्टम बिजली पैदा कर वापस ग्रिड को भेजता रहता है। इस तरीके से नियमानुसार आप 80 फीसदी बिजली का बिल कम कर सकते हैं। इसके साथ ही यदि आप का कंजप्शन बहुत अधिक कम है, तो आप बची हुई बिजली को बेच भी सकते हैं। इसके लिए आपको प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान होगा।

ये भी पढ़ें - ड्राइविंग लाइसेंस धारकों को मिलने जा रही बड़ी राहत, बढ़ाया जा रहा रिन्यूवल का समय

छत के एक कोने पर लग जाता है सिस्टम
नेडा के जेई प्रवीन नाथ पांडे ने बताया कि यूं तो ये सोलर सिस्टम आपके पूरे घर में बिजली पहुंचाएगा लेकिन आपको ये जानकर हैरत होगी कि ये पूरा प्लांट आपके घर की छत के एक कोने के हिस्से में लग सकता है। सामान्य तौर पर एक किलोवाट के लिए 100 स्क्वायर फीट की जगह चाहिए होती है। जिससे एक आम परिवार की जरूरत भर की पूरी बिजली पैदा हो जाती है।

ये भी पढ़ें - CM Help line पर आ रही समस्याओं के निस्तारण में यूपी के ये दो जिले फिसड्डी

सोलर की कीमत पर मिलने वाली सब्सिडी
कुल भार प्लांट की कुल कीमत केन्द्र की सब्सिडी यूपी सरकार की सब्सिडी
3 किलोवाट 1 लाख 50 हजार 60 हजार 30 हजार
1 किलोवाट 50 हजार 20 हजार 15 हजार
10 किलोवाट 5 लाख 40 फीसद 30 हजार

इस तरह होता है भुगतान
यदि आपके घर का हर माह का कंजप्सन 250 यूनिट है, तो भी तीन किलोवाट के सिस्टम पर आप कमाई कर सकते हैं। एक किलो वाट का सिस्टम प्रतिदिन चार से पांच यूनिट बनाता है। यदि चार यूनिट मान ली जाए, तो प्रतिदिन आप 12 यूनिट सिस्टम के माध्यम से बनाते हैं, इस हिसाब से माह के 360 यूनिट आप के तैयार होंगे। 250 यूनिट खर्च करने के बाद आप 110 यूनिट बचाते हैं। 110 यूनिट का आपको प्रति यूनिट 2 रुपए के हिसाब से बिजली विभाग पेमेंट करेगा। तो हो गया ना बिजली का बिल शून्य और शुरू हो गई कमाई।

ये भी पढ़ें - राशिद मियां की जिदंगी में आया भूचाल, प्रेमिका से बेगम बनी जीवनसाथी के बारे में बताई ऐसी बात, रात होते ही..., पुलिस अधिकारी भी हैरान

250 से अधिक लोग उठा रहे योजना का लाभ
अभी तक जिले में 250 से अधिक लोग अपने घरों में ग्रिड कनेक्ट सोलर पावर प्लांट के लिए आवेदन कर चुके हैं। इसमें एक यह शर्त है कि जितने किलोवाट का बिजली का कनेक्शन होगा। उतने किलोवाट का ही सोलर पावर ग्रिड प्लांट लगा सकेंगे।

ये भी पढ़ें - मर्चेंट नेवी में नौकरी का सपना दिखाकर भेज दिया दुबई, इसके बाद की कहानी जानकर रह जाएंगे हैरान

नेडा कार्यालय में करें आवेदन
सोलर पैनल लगवाने के लिए आपको विकास भवन स्थित नेडा के कार्यालय में आवेदन करना होगा। वहां से सब्सिडी और कनेक्शन के बारे में जानकारी भी दी जाएगी।

धीरेंद्र यादव
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned