25 दिसंबर को ही क्यों मनाते हैं ​Christmas, पढ़िये ये सत्य, जो इन बच्चों को बताया गया

25 दिसंबर को ही क्यों मनाते हैं ​Christmas, पढ़िये ये सत्य, जो इन बच्चों को बताया गया
Christmas 2018

Dhirendra yadav | Updated: 24 Dec 2018, 07:21:33 PM (IST) Agra, Agra, Uttar Pradesh, India

Christmas 2018 की शहर में धूम, इस तरह हो रहा सेलिब्रेशन।

आगरा। Christmas की तैयारी शहर में जोर शोर से चल रही है। स्कूलों में विशेष आयोजन हो रहे हैं। आज आरबीएस किड्स पैराडाइस स्कूल ताजनगरी फेस-2 में क्रिसमस डे बड़े जोर-शोर से मनाया गया। स्कूल के फाउंडर हरिओम और एमड़ी जिंतेंद्र कुमार ने बताया कि जीसस क्रिस्ट के जन्म की खुशी में इस विशेष दिन को मनाया जाता है। जीसस क्रिस्ट को भगवान का बेटा कहा जाता है। क्रिसमस का नाम भी क्रिस्ट से ही पड़ा।

25 दिसबंर को क्यों मनाते हैं क्रिसमस
उन्होंने बताया कि बाइबल में जीसस की कोई बर्थ डेट नहीं दी गई है, लेकिन फिर भी 25 दिसंबर को ही हर साल क्रिसमस मनाया जाता है। इस तारीख को लेकर कई बार विवाद भी हुआ, लेकिन 336 ई. पूर्व में रोमन के पहले ईसाई रोमन सम्राट के समय में सबसे पहले क्रिसमस 25 दिसंबर को मनाया गया। इसके कुछ सालों बाद पोप जुलियस ने आधिकारिक तौर पर जीसस के जन्म को 25 दिसंबर को ही मनाने का ऐलान किया।

इस तरह समझाई गई कहानी
इस अवसर पर प्रभु ईशु की ये कहानी बच्चों को LED के माध्यम से वीडियो दिखाकर समझाई गई। उसके बाद बच्चों को नृत्य, खेलकूद और गिफ्ट देकर सभी स्कूल स्टाफ ने क्रिसमस की बधाई दी। इस अवसर पर रवि, मेघा, रेखा, रखी, सोनू आदि अध्यापिकाएं उपस्थित रहीं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned