Ahmedabad News : एआईएमआईएम का धमाकेदार प्रवेश, विरोध पक्ष की भूमिका

मोडासा नगर पालिका में एआईएमआईएम को नौ सीट मिली है। पार्टी ने कांग्रेस से विरोध पक्ष का पद भी छिन लिया है। कांग्रेस ने आठ सीट जीत कर किसी तरह मैदान में रह गई।

By: Binod Pandey

Published: 03 Mar 2021, 09:03 AM IST

अरवल्ली. जिले में स्थानीय स्वराज की जिला पंचायत, छह तहसील पंचायत और मोडासा समेत बायड नगर पालिका की 28 फरवरी को हुए मतदान के बाद मंगलवार को पुलिस बंदोबस्त में मतगणना शुरू की गई। इसमें अरवल्ली जिले में भाजपा की जीत हुई है। जिला पंचायत में कांग्रेस ने सत्ता खो दिया। मालपुर, मोडासा तहसील पंचायत में भी भाजपा विजय पताका फहराने में सफल रही। मोडासा और बायड नगर पालिका में भी भगवा लहराया है। मोडासा नगर पालिका में एआईएमआईएम को नौ सीट मिली है। पार्टी ने कांग्रेस से विरोध पक्ष का पद भी छिन लिया है। कांग्रेस ने आठ सीट जीत कर किसी तरह मैदान में रह गई। मोडासा नगर पालिका के वार्ड संख्या 4 में निर्दलीय उम्मीदवार भरत कडिया ने भाजपा को खूब छकाया। हालांकि आठ मत से भाजपा का प्रत्याशी यहां से जीते। मोडासा और बायड में भाजपा का भगवा लहराने के बाद कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाल कर जश्न मनाया।


मोडासा नगर पालिका में भाजपा का दबदबा यथावत रहा। नगर पालिका में स्पष्ट बहुमत के साथ भाजपा ने सत्ता पर कब्जा बरकरार रखा है। वार्ड नंबर 5 में भाजपा की पैनल टूट गई। वार्ड नंबर 5 में कांग्रेस के उम्मीदवार खाता खोलने के कारण भाजपा को तीन और कांग्रेस के एक सीट पर जीत हासिल हुई है। वार्ड नंबर एक से चार में भाजपा की पैनल विजेता बनी है। पालिका में भाजपा ने कुल 19 सीटों पर जीत हासिल कर बहुमत का आंकड़ा प्राप्त कर लिया। भाजपा पिछले 25 साल से नगर पालिका में सत्ता पर है। फिर से वह सत्ता हासिल करने में सफल रही। बायड में भी भाजपा ने कांग्रेस का सूपड़ा साफ कर दिया। मोडासा में असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इतेहाद-उल मस्लिमिन एआईएमआईएम ने आश्चर्यजनक प्रदर्शन कर सबको चकित कर दिया।

Show More
Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned