प्रेमी ने की थी हत्या, पुलिस ने पकड़ा

प्रेमी ने की थी हत्या, पुलिस ने पकड़ा

nagendra singh rathore | Publish: Sep, 05 2018 11:04:34 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

माइका के एक मकान में युवती की हत्या की गुत्थी सुलझी,

माता-पिता ने कपड़े, आभूषणों से की शिनाख्त

अहमदाबाद. शहर के बोपल-घुमा रोड पर माइका के एक मकान में बीते महीने युवती की हत्या किए शव की बरामदगी होने के मामले की गुत्थी को बोपल पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने मृतक विवाहित छात्रा के मुस्लिम प्रेमी युवक को गिरफ्तार किया है। शव की शिनाख्त उसके माता-पिता ने उसके कपड़े व आभूषणों से की।
मृतका की शिनाख्त बावला तहसील के कोचरिया गांव निवासी महेश गोलाणी (४०) की पुत्री पायल (१८) के रूप में हुई। पायल उमिया कॉलेज में द्वितीय वर्ष बीए में अध्ययन कर रही थी। उसका विवाह साणंद में रहने वाले सागर से हुआ है। वह कॉलेज के होस्टल में ही रहती थी। नौ अगस्त की सुबह 11 बजे वह अस्पताल जाने का कहकर होस्टल से निकली थी। उसके बाद शाम तक नहीं लौटी। इस पर होस्टल से मनुभाई को फोन किया था।
तीस अगस्त के करीब उसका शव माइका के एक मकान से बरामद हुआ। इस बंगले के चौकीदार को बदबूू आने पर उसने सूचना दी थी, जिस पर पुलिस ने बंगले से युवती का शव बरामद किया था। क्षतविक्षत अवस्था में शव के होने से उसकी शिनाख्त नहीं हो पाई, जिससे शव को सिविल अस्पताल में कोल्ड स्टोरेज में रखा था। पायल के पिता ने सोला थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। इस बीच समाचार पत्र में एक युवती के शव की बरामदगी का पता चलने पर थाने पहुंचने पर मृतका की मां ने उसके आभूषणों से उसकी पहचान पायल के रूप में की। शव लेने पर पायल के पति से महेशभाई को पता चला कि उनके गांव के ही रहने वाले माजिद खान पठान के साथ पायल के प्रेम संबंध थे। माजिद ने फोन करके सागर को कहा भी था कि भले ही उसका विवाह हो गया है, लेकिन उससे प्रेम करता है। पायल संबंध तोडऩा चाहती थी, लेकिन वह परेशान करता था।
माजिद को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने आरोप कबूल लिया। नौ अगस्त को वह माइका के बंद बंगले में पायल को लेकर गया था। पायल माजिद के साथ रहने की जिद कर रही थी। जिसके चलते उसने मकान में रखे डंडे से उसके सिर पर वार करके हत्या कर दी।

Ad Block is Banned