Female students increased in IIT Gandhinagar आईआईटी गांधीनगर में बढ़ी 'आधी आबादी'

Female students increased in IIT Gandhinagar  आईआईटी गांधीनगर में बढ़ी 'आधी आबादी'

nagendra singh rathore | Updated: 22 Jul 2019, 10:58:09 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

इस साल प्रवेश पाने वाले २०९ विद्यार्थियों में से ३६ छात्राएं, बीते साल की तुलना में दो फीसदी का इजाफा

अहमदाबाद. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) गांधीनगर में 'आधी आबादी' की संख्या में इजाफा हुआ है।
इस साल जुलाई में प्रवेश पाने वाले वर्ष २०१९-२३ के बैच में २०९ विद्यार्थियों को प्रवेश मिला है। इनमें १७ फीसदी (36) छात्राएं हैं। गत वर्ष यह संख्या 1५ प्रतिशत ही थी। गत वर्ष प्रवेश पाने वाले वर्ष २०१८-२२ के बैच में १९४ विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया था।
सोमवार को आईआईटी गांधीनगर में नए बैच २०१९-२३ के विद्यार्थियों के पांच सप्ताह के फाउंडेशन प्रोग्राम की शुरूआत हुई।
आईआईटी गांधीनगर के पदेन निदेशक प्रो.अमित प्रशांत ने नए बैच के विद्यार्थियों और उनके परिजनों को संबोधित करते हुए कहा कि फाउंडेशन प्रोग्राम विद्यार्थियों को उनके निर्णय करने में मददगार होगा। उन्होंने कहा कि संस्थान में विद्यार्थियों के लिए अपार संभावनाए हैं।
विद्यार्थी मामलों के डीन प्रो.हरीश ने विद्यार्थियों को संस्थान के गुणवत्तापूर्ण कोर्स एवं अन्य प्रोग्राम, गतिविधियों की जानकारी दी। अकादमिक मामलों के डीन प्रो. प्रतीक मूथा ने भी विद्यार्थियों को संस्थान के विविधतापूर्ण कोर्स के बारे में बताया।
आईआईटी की बीटेक द्वितीय वर्ष की छात्रा अर्पिता काबरा ने कहा कि एक साल के दौरान उसे काफी प्रोजेक्ट में काम करने का मौका मिला। बीटेक के छात्र जम्मू के तरुण कुमार ने कहा कि संस्थान में विद्यार्थियों को खुद के निर्णय की काफी स्वतंत्रता है। कम्युनिकेशन स्किल सिखाई जाती है।
इस वर्ष भी राजस्थान के सर्वाधिक विद्यार्थी
इस साल भी सबसे ज्यादा ५० विद्यार्थी राजस्थान के हैं। इस साल २० राज्यों के २०९ विद्यार्थियों ने आईआईटी गांधीनगर में प्रवेश लिया है। जिसमें गुजरात के ४४, महाराष्ट्र के 32, आंध्रप्रदेश के 17, तेलंगाना के १५, मध्यप्रदेश के 12, उत्तरप्रदेश के 11 और बिहार के छह विद्यार्थी शामिल हैं।
वर्ष २०१८-२२ बैच में १८ राज्यों के १९४ विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया था। उसमें भी सर्वाधिक ४५ विद्यार्थी राजस्थान के थे। गुजरात और महाराष्ट्र के ३९-३९ विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया था। इस लिहाज से देखें तो गुजरात मूल के विद्यार्थियों की संख्या आईआईटी गांधीनगर में बढ़ रही है।

Amit Prashant
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned