एयरफोर्स में नौकरी दिलाने के झांसे में ५६ लाख की ठगी

Gyan Prakash Sharma

Publish: Jun, 14 2018 03:57:16 PM (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
एयरफोर्स में नौकरी दिलाने के झांसे में ५६ लाख की ठगी

आरोपी गिरफ्तार

वडोदरा. एयरफोर्स में नौकरी दिलाने के झांसे में छह युवकों से ५६ लाख रुपए ऐंठने वाले ठग को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार किया है।
पुलिस के अनुसार आरोपी का नाम मांजलपुर क्षेत्र स्थित श्रीजी एपार्टमेंट निवासी नीरज जयंतीलाल सुथार है, जिसने खुद को एयरफोर्स कर्मचारी बताकर छह लोगों को ठगा था।
जानकारी के अनुसार कारेलीबाग स्थित कलाकुंज सोसायटी निवासी नीरव ठाकोर पटेल सहित पांच उम्मीदवारों ने एयरफोर्स में नौकरी दिलाने के लिए नीरज सुथार का सम्पर्क किया था। नीरज ने खुद को एयरफोर्स कर्मी बताते हुए कहा कि एयरफोर्स के अधिकारियों के साथ उसके अच्छे संबंध हैं। बाद में एयरपोर्ट के फर्जी एपोइनमेंट लेटर बनाकर सभी को दे दिए और नीरव से १९ लाख व अन्य लोगों से ३६ लाख रुपए ले लिए थे। इस संबंध में नीरव ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी, जिसमें आरोप लगाया था कि नीरज ने एक वर्ष तक कीर्ति स्तंभ स्थित एनसीसी की ऑफिस में मजदूरी काम कराया था। इस बीच मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिस ने बुधवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

 

एक ही रात में छह दुकानों के ताले टूटे
वडोदरा. शहर में मकरपुरा एसटी डिपो के निकट स्थित सोनापार्क एपार्टमेंट में एक ही रात में छह दुकानों के ताले टूटने से खलबली मच गई है। चोरी की वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। दुकानों के ऊपर रहने वाले लोगों ने बुधवार सुबह देखा कि छह दुकानों के ताले टूटे थे। इस संबंध में दुकान मालिकों को जानकारी दी। सूचना मिलने पर पुलिस व दुकान मालिक पहुंचे और एक दुकान में लगे सीसीटीवी की फुटेज देखी, जिसमें चोर कैद हो गए हैं।

 

आवास गैर कानूनी देने वालों के विरुद्ध मनपा की कार्रवाई
जामनगर. शहर के गैर कानूनी रूप से आवास में रहने वाले लोगों के विरुद्ध महानगर पालिका ने कार्रवाई शुरू की है। शहर के मयूरनगर एवं दिग्जाम रोड स्थित आवास किराये पर देने से मनपा ने दस मकानों के ताले खोलकर कार्रवाई शुरू की है।
जानकारी के अनुसार दिग्जाम रोड स्थित बॉम्बे आवास योजना के तहत ५१२ मकानों के ५० प्रतिशत लोग रहने लगे हैं, लेकिन कुछ लोगों ने मकान किराये पर दे दिए थे। इस योजना में ४३० लोगों के फ्लैट बन गए हैं, जिसमें लगभग १०० से अधिक लोग किरायेदार के रूप में रहते हैं। नियमानुसार आवास के मकानों को किराये पर नहीं दे सकते हैं, इसके बावजूद कुछ मकान किराये पर देने से १० मकानों के ताले खोले गए।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned