उलटे बोल पर मणि की छुट्टी

Mukesh Sharma

Publish: Dec, 08 2017 05:40:23 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
उलटे बोल पर मणि की छुट्टी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करना वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मणिशंकर अय्यर को भारी पड़ गया। गुजरात में प्रचार कर रहे प्रधानम

अहमदाबाद/सूरत/नई दिल्ली।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करना वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मणिशंकर अय्यर को भारी पड़ गया। गुजरात में प्रचार कर रहे प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी के तंज और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की नाराजगी के बाद कांग्रेस ने गुरुवार शाम अय्यर को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया।

इससे पहले अय्यर ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए उनके लिए नीच शब्द का इस्तेमाल किया था। इसी बयान में अय्यर ने कहा, इनमें सभ्यता नहीं है, ऐसे मौके पर ऐसी गंदी राजनीति की क्या आवश्यकता है। इस पर सूरत के लिंबायत में पलटवार करते हुए पीएम ने कहा, मुझे भले ही नीच कहा गया हो लेकिन मेरे संस्कार और काम ऊंचे हैं। वहीं, राहुल गांधी ने अय्यर पर नाराजगी जताते हुए कहा, उन्हें प्रधानमंत्री के खिलाफ ऐसे शब्दों के लिए तुरंत माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस ऐसी भाषा स्वीकार नहीं करती। कांग्रेस उपाध्यक्ष के ट्वीट और चौतरफा घिरने के बाद अय्यर ने सफाई देते हुए माफी मांग ली। अय्यर ने कहा कि पीएम ने उनके शब्द का गलत अर्थ लगाया है।

इस पूरे विवाद के लिए मेरी कमजोर हिंदी जिम्मेदार है। गुजरात में चुनाव प्रचार नहीं करेंगे सिब्बल राम मंदिर के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई को टालने की कपिल सिब्बल की दलील उन पर भारी पड़ती दिख रही है। सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस ने उन्हें गुजरात चुनाव प्रचार से दूर रहने को कह दिया है। बता दें कि बीजेपी इस मुद्दे पर आक्रामक हो गई है और गुजरात चुनाव में इसे जमकर भुनाती दिख रही है। ऐसे में कांग्रेस किसी भी तरह की धु्रवीकरण को रोकना चाहती है। इसे ही देखते हुए सिब्बल को प्रचार से दूर करने का निर्णय लिया गया है।

अय्यर निलंबित, कांग्रेस ने मोदी को दी चुनौती

गुजरात चुनाव में अय्यर का बयान भारी न पड़ जाए इस आशंका से कांग्रेस ने दिन के इस बयान पर रात होते होते कड़ी कार्रवाई की। कार्रवाई की जानकारी देते हुए गुरुवार रात कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सूरजेवाला ने बताया कि अय्यर की प्राथमिक सदस्यता निलंबित कर दी गई है। उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है। यही कांग्रेस का गांधीवादी तरीका है, क्या मोदी जी भी कभी ऐसा साहस दिखाएंगे?

मुगलई मानसिकता

&श्रीमान मणिशंकर अय्यर ने कहा कि मोदी तो नीच जाति का है। मोदी तो नीच है। यह गुजरात का अपमान है, भारत की महान परंपरा का अपमान है। अरे ये तो मुगलई मानसिकता है, ऊंच नीच का संस्कार हिंदुस्तान में नहीं है।नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

मुझे हिंदी नहीं आती

&मैं हिंदी भाषी नहीं हूं। मैं अंग्रेजी में सोचता हूं और उसका तर्जुमा कर हिंदी में बोलता हंू। अगर इसका दूसरा अर्थ निकलता है, तो माफी चाहता हूं। यदि कांग्रेस को गुजरात में इससे नुकसान हो तो मुझे अफसोस होगा। मणिशंकर अय्यर

भोले बाबा की याद

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दिल्ली स्थित इंटरनेशनल बाबा साहब अंबेडकर सेंटर का उद्घाटन करते हुए कहा कि कांग्रेस ने एक परिवार को बढ़ाने के लिए बाबा साहब के योगदान को दबा दिया। बाबा साहब के नाम पर वोट मांगने वाले लोग... खैर क्या कहें... वो लोग अंबेडकर को भूलकर आज कल भोले बाबा को याद कर रहे हैं। पीएम के इस बयान से नाराज अय्यर ने आपत्तिजनक टिप्पणी की।

अय्यर ने ही भाजपा को दिया था चायवाला मुद्दा

2014 के लोकसभा चुनाव के पहले दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में कांग्रेस अधिवेशन के दौरान अय्यर ने पीएम कैंडिडेट को चायवाला बताकर मोदी का मजाक उड़ाया था। उन्होंने कहा था, "21वीं सदी में नरेंद्र मोदी कभी भी देश के प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे, नहीं बनेंगे, नहीं बनेंगे। यहां आकर चाय बांटना चाहें तो हम उनके लिए जगह दे सकते हैं।

क्या हुआ था असर

चायवाला बयान के बाद भाजपा के चुनाव प्रचार की दिशा बदल गई। मोदी ने भी खुद के चायवाला होने का मुद्दा खूब भुनाया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned