ओखा-वाराणसी ट्रेन का भी बदला लुक

पश्चिम रेलवे-राजकोट मंडल में पहली बार उत्कृष्ट रैक

By: Pushpendra Rajput

Published: 29 Mar 2019, 10:37 PM IST

राजकोट. पश्चिम रेलवे-राजकोट मंडल में पहली बार उत्कृष्ट रैक के साथ ओखा-वाराणसी ट्रेन और जामनगर-बांद्रा सौराष्ट्र जनता को अपग्रेड किया गया। ये ट्रेनें नए लुक के साथ रवाना होंगी। ओखा-वाराणसी ट्रेन ओखा स्टेशन से गुरुवार दोपहर १.45 बजे रवाना हुई। इससे प्रत्येक गुरुवार को ओखा से छूटनेवाली ट्रेन संख्या 22969/22970 ओखा-वाराणसी एक्सप्रेस तथा इसी ट्रेन के पैरींग रैक से प्रत्येक सोमवार को ओखा से छूटनेवाली गाड़ी संख्या 19573/19574 ओखा-जयपुर एक्सप्रेस के यात्री बेहतर यात्रा अनुभव के साथ अपग्रेडेड सुविधाओ का लाभ उठा सकेंगे । साथ ही गाड़ी संख्या 19218/19217 जामनगर-बांद्रा सौराष्ट्र जनता एक्स्प्रेस को भी उत्कृष्ट रैक से अपग्रेड कर दिया गया है। इस मौके पर राजकोट स्टेशन पर मंडल रेल प्रबंधक पी बी निनावे, अपर मंडल रेल प्रबंधक एस एस यादव, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर एस टी राठोड़, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक रवीन्द्र श्रीवास्तव, सहायक वाणिज्य प्रबंधक राकेश कुमार पुरोहित तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने इस नए उत्कृष्ट रैक का अवलोकन किया।
रैक की प्रमुख विशेषताएं: कोच का बाहरी भाग गहरा पीला तथा भूरे लाल रंग वाली उत्कृष्ट कलर स्कीम के अंतर्गत पीयू पेंट से रंगा गया है। कोच में प्रकाश स्तर को दुगुना करने के लिए एनर्जी सक्षम एल ई डी लाइटें लगाई गई हैं। . वातानुकूलित डिब्बों के गेंग-वे तथा शौचालयों के आसपास के क्षेत्र में दीवारों पर कलर विनायल फिल्म लगाई गयी है। हाई रेजोलुशन वाले छापे गए स्थानिक मनोहर दृश्यों वाले पोस्टर लगाए गए हैं। फ्लशिंग को बेहतर बनाने के लिए अच्छी क्वालिटी के ब्रांडेड डुअल फ्लश वाल्व लगे हुए हैं। पानी की बचत करने वाली प्रणाली वाले टू-वे लॉन्ग बॉडी टोटियां लगाई गयी हैं। अनारक्षित डिब्बों सहित सभी डिब्बों के शौचालयों में ह़ेल्थ फॉसेट लगाए गए हैं। शौचालयों में वायु के बेहतर आवागमन तथा बदबू रोकने के लिए अनूठी वेंटिलेशन प्रणाली लगाई गयी है। वातानुकूलित डिब्बों के शौचालयों में स्वचालित हाइजीन एवं गंध कंट्रोल प्रणाली लगाई गयी है। वातानुकूलित डिब्बों के शौचालयों में पानी के फोम निर्गमन का नल लगाया गया है। सभी डिब्बों के पाश्चात्य शैली के शौचालयों में अच्छी गुणवत्ता की सीट एवं सीट कवर लगाए गए हैं। वातानुकूलित डिब्बों के पाश्चात्य शैली के शौचालयों में स्वचालित सीट कवर डिस्पेंसर लगाए गए हैं। रात में चमकने वाले गुण के रेट्रो रिफ्लेक्टिव गंतव्य ***** बोर्ड तथा डिब्बों के नम्बर ***** बोर्ड लगाए गए हैं। बायो शौचालयों में 'क्या करें क्या न करेंÓ जागरूकता सम्बन्धी स्टीकर लगाए गए हैं।

 

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned