पोरबंदर : समुद्रतट पर बंधी २५ से अधिक बोट लहर के साथ समुद्र में

पोरबंदर : समुद्रतट पर बंधी २५ से अधिक बोट लहर के साथ समुद्र में

Gyan Prakash Sharma | Updated: 14 Jun 2019, 04:17:50 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

'वायु' चक्रवात

राजकोट. 'वायु' चक्रवात का प्रभार पोरबंदर के समुद्र में भी देखने को मिला। समुद्रतट पर बंधी २५ से अधिक छोटी बोट समुद्र की लहरों के साथ बह गई। जूनी दीवादांठी के सामने किनारे पर २५ फीट ब्रेक वाटर दीवाल से ऊंची उछलती लहरों का पानी गुरुवार सुबह रोड पर आ गया। नजदीक में इन्द्रेश्वर मंदिर की जमीन से लहरें टकराने के बाद मंदिर के शिखर तक पहुंंच गई।
जानकारी के अनुसार चक्रवात के चलते तेज हवा चली और बूंदाबांदी भी हुई। डिजास्टर कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के अनुसार समुद्र में पवन की गति गुरुवार सुबह १३५ से १६० किलोमीटर प्रति घंटा रही। पोरबंदर के निकट कुछडी एवं जावर के किनारे पर लहरें टकराने के कारण पाल टूट गई हैं। पोरबंदर के निकट पुराने दीवादांड़ी के पास स्थित भूतेश्वर महादेव मंदिर धराशायी हो गया। समुद्र की लहरों के कारण मंदिर टूट गया और अधिकतर हिस्सा समुद्र में बह गया।


कंडला पोर्ट खाली कराया
भुज. 'वायु' चक्रवात समुद्र से अन्य दिशा में जाने के कारण कच्छ में बड़ी चिन्ता दूर हुई है, लेकिन चक्रवात के चलते सुबह से ही तेज हवा चल रही है और अंजार, कुकमा व रतनाल आदि स्थलों पर बूंदाबांदी हुई। दूसरी ओर, कंडला बंदरगाह को प्रशासन की ओर से खाली कराया गया और सभी कार्य बंद रखे गए। समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं।
दिनभर कच्छ के लोग चक्रवात को लेकर चिन्तित दिखाई दिए। प्रशासन अभी भी तैनात है और जिले के प्रत्येक गांव के पटवारी को संबंधित गांव में २४ घंटे उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं। कच्छ जिले के प्रत्येक गांव के प्राथमिक स्कूलों में भी शिक्षकों को उपस्थित रहने और स्कूलों को लोगों के लिए आश्रय स्थल के रूप में खुला रखने के निर्देश दिए गए।
दूसरी ओर, तेज हवा के चलते अनेक स्थलों पर पेड़ टूटने व खंभे गिरने की जानकारी मिली।


एसटी के ३६ मार्ग रद्द
राजकोट. संभवित चक्रवात के चलते समुद्र तटीय क्षेत्रों से गुजरने वाले एसटी के ३६ मार्ग रद्द किए गए हैं।
राजकोट डिवीजन के तहत राजकोट-वेरावल के १० मार्ग, राजकोट-दीव के ८ व राजकोट-भुज के १८ मार्ग रद्द किए गए हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned