१७ मंजिला अस्पताल का जनवरी में प्रधानमंत्री करेंगे लोकार्पण

१७ मंजिला अस्पताल का जनवरी में प्रधानमंत्री करेंगे लोकार्पण

Omprakash Sharma | Publish: Sep, 16 2018 10:10:43 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

सीएम रूपाणी ने किया निरीक्षण

अहमदाबाद. महानगरपालिका संचालित शहर के वीएस अस्पताल परिसर में निर्माण के अंतिम चरण में चल रहे सरदार वल्लभभाई पटेल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल सायंस एंड रिसर्च सेंटर का लोकार्पण अगले वर्ष जनवरी माह में प्रधानमंत्री नरेन्द्रमोदी करेंगे। रविवार को मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने १७ मंजिला इस आधुनिक अस्पताल का निरीक्षण करने के दौरान यह जानकारी दी।
अहमदाबाद में स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अन्तर्गत ५८२ करोड़ रुपए की सहायता से तैयार हो रहे सरदार वल्लभभाई पटेल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल सायंस एंड रिसर्च सेंटर का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे सीएम रूपाणी ने कहा कि राज्य के गरीब एवं जरूरतमंद मरीजों को श्रेष्ठ उपचार देने के उद्देश्य आधुनिक अस्पताल तैयार किया जा रहा है। अहमदाबाद में सबसे ऊंची (७८ मीटर)अस्पताल की इमारत है। जिसमें १८वें मंजिल पर हेलीपेड भी बनाया गया है। जरूरत के आधार मरीज को वायु मार्ग से लाया और ले जाया भी सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आधुनिक एवं वल्र्ड क्लास स्टेट ऑफ द आर्ट इन्फ्रास्ट्राक्चर वाले अस्पताल का निर्माण अंतिम चरण में चल रहा है। आगामी जनवरी २०१९ में प्रधानमंत्री नरेन्द्रमोदी इसका उद्घाटन करेंगे। सीएम रूपाणी ने अस्पताल की आधुनिक ओपीडी, ऑपरेशन थिएटर, हेलिपेड समेत विविध विभागों का बारीकी से निरीक्षण किया।
१५०० पलंगों की क्षमता
अस्पताल की विशेषताओं के बारे में महानगरपालिका आयुक्त विजय नेहरा ने कहा कि अस्पताल में १५०० पलंगों की क्षमता है। नेहरा के अनुसार आधुनिक अस्पताल में १३९ आईसीयू, ३२ ऑपरेशन थिएटर, बच्चों के लिए नियोनेटल केयर वार्ड्स और न्यूमेटिक ट्यूब के माध्यम से एक मंजिल से दूसरी मंजिल या वार्ड के मरीजों के ब्लड सेंपल रिपोर्ट और दावाइयों को लाया एवं ले जाया जा सकेगा। मनपा आयुक्त नेहरा ने कहा कि १.४९ लाख वर्ग मीटर विस्तार में तैयार हो रहे अस्पताल में सर्जरी, गाइनेक, ऑर्थोपेडिक, टीबी के अलावा कार्डियोलोजी, न्यूरोलोजी जैसी सुपर स्पेशलिटी सुविधाएं हैं। मुख्यमंत्री के साथ विधायक राकेश शाह, जगदीश पंचाल, महानगरपालिका ेके पदाधिकारी व मुख्य सचिव पी.के.परमार मौजूद रहे।

Ad Block is Banned