सवाल पूछने नहीं देने के बाद हुआ बवाल

सवाल पूछने नहीं देने के बाद हुआ बवाल

Uday Kumar Patel | Publish: Mar, 14 2018 11:50:31 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

दूधात ने माइक उखाड़ भाजपा विधायक पर किया हमला

डेर पर भाजपा विधायकों ने लात-घूंसे चलाए

गांधीनगर. गुजरात विधानसभा में बुधवार को लोकतंत्र के लिए काला दिन रहा। विधानसभा में प्रश्नकाल के बाद सवाल नहीं पूछे दिए जाने की घटना को लेकर विधानसभा के भीतर लात-घूंसे चले।

प्रश्नकाल के बाद आसाराम आश्रम में रहस्यमय तरीके से गुम होने के बाद दो बच्चों की हत्या के मामले को लेकर कांग्रेस विधायक विक्रम माडम ने सवाल पूछना चाहा, लेकिन स्पीकर ने उन्हें ऐसा करने से मना कर दिया। उधर कांग्रेस विधायक डेर ने स्पीकर को माडम को सवाल पूछने की बात कही। इस पर स्पीकर ने उन्हें भी बैठने को कहा। सवाल नहीं पूछने के विरोध को लेकर माडम व डेर वेल तक पहुंचने की कोशिश की। इसके बाद स्पीकर ने दोनों विधायकों को पहले दिन भर की कार्यवाही से निलंबित कर दिया।
इस घटना से गुस्साए विधायक दूधात ने अचानक तेजी से अपनी सीट से दौड़ते हुए आए और माइक उखाड़ते हुए भाजपा विधायक जगदीश पंचाल पर हमला किया। पंचाल पर हमले को लेकर स्पीकर ने दूधात को पहले पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया। इसके बाद स्पीकर ने दस मिनट के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी।

सदन की कार्यवाही स्थगित किए जाने के बाद डेर अचानक दूसरे दरवाजे से सदन में पहुंचे और पंचाल पर हमला किया। इसे देखते हुए वहां उपस्थित अन्य भाजपा विधायकों ने डेर के साथ मारपीट की व उन पर लात-घूंसे भी बरसाए। इसके बाद मार्शल तथा भाजपा व कांग्रेस के अन्य विधायकों की समझाइश के बाद मामला किसी तरह शांत हुआ। उधर दस मिनट के लिए स्थगित किए जाने के बाद सदन की कार्यवाही करीब तीन घंटे बाद फिर से आरंभ हुई।

14वीं विधानसभा के पहले ही सत्र (बजट सत्र) में गुजरात की छवि को धुमिल करने वाली घटना घटी। विधानसभा अध्यक्ष ने जहां इसे राज्य के विधानसभा इतिहास के लिए कलंकित घटना बताया वहीं सदन के उपनेता नितिन पटेल व विपक्ष के नेता परेश धानाणी ने भी इसे दु:खद करार दिया।

Ad Block is Banned