15,000 फीट पर विमान में तकनीकी खामी, उड़ान रद्द

15,000 फीट पर विमान में तकनीकी खामी, उड़ान रद्द

Pushpendra Rajput | Updated: 31 Dec 2018, 09:46:11 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

सर्तकता से कई जान बची..., अहमदाबाद से जोधपुर के लिए भरी थी उड़ान

अहमदाबाद. अहमदाबाद स्थित सरदार पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से जोधपुर के लिए विमान ने उड़ान भरी थी, लेकिन बाद में तकनीकी खामी से विमान की लैण्डिंग कराकर उसे रद्द कर दिया गया। इस विमान में 83 यात्री सवार थे।
अहमदाबाद एयरपोर्ट से स्पाइस जेट एयरलाइंस के विमान एसईजे 2976 बोम्बारडियर ने सोमवार अपराह्न 3.09 बजे जोधपुर के लिए उड़ान भरी थी। करीब 3.15 बजे जब विमान में 15 हजार फीट की ऊंचाई पर था तभी पायलट अहमदाबाद एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) को सूचित किया कि एयरक्रॉफ्ट का प्रेशराइजेशन (फेलर है) काम नहीं कर रहा। यात्रियों और एयरक्राफ्ट की सुरक्षा को देखते हुए एटीसी ने तुरंत ही एयरक्राफ्ट के लैण्डिंग की तुरंत स्वीकृति दे दी। अपराह्न 3.29 बजे विमान ने सुरक्षित लैण्डिंग की। हवाईअड्डा प्रशासन के मुताबिक इस विमान में 83 यात्री सवार थे। सभी यात्रियों को सुरक्षित उतारकर हवाईअड्डे पर उनको चाय, कॉफी और नाश्ता कराया गया। बाद में यात्रियों को जोधपुर भेजने की वाया दिल्ली या मुंबई से व्यवस्था की गई। कई यात्रियों को सड़क मार्ग से भी जाने का भी ऑफर किया गया। वहीं ऐसे यात्री जिन्होंने यात्रा रद्द कर दी थी उनको विमान भाड़ा लौटा दिया गया।

अहमदाबाद की सैर कराएगी 'होप ओन-ओन होप बसÓ
अहमदाबाद. अहमदाबाद के हेरिटेज स्थलों की 'होप ऑन-होन ऑफÓ बस सैर कराएगी। अहमदाबाद महानगरपालिका, गुजरात टूरिज्म और अक्षर ग्रुप ने मंगलवार से इस बस का प्रारंभ किया। यह वातानुकूलित बस गांधी आश्रम, हठीसिंह देरा, दिल्ली दरवाजा, सिदी सैयद की जाली, भद्रकिला, भद्रकाली मंदिर, तीन दरवाजा, सुलतान अहमद शाह की मस्जिद, सीएनआई चर्च, राणी सिप्री की मस्जिद, आस्टोडिया दरवाजा, रायपुर दरवाजा, कांकरिया तालाब, झूलता मिनारा, दादा हरि नी वाव, सरदार पटेल मेमोरियल, रिवरफ्रंट समेत 32 से ज्यादा स्थलों की सैर कराई जाएगी। अक्षर टूर्स एंड ट्रैवल्स के संचालक मनीष शर्मा के मुताबिक इस अत्याधुनिक बस में एलईडी, ओडियो गाइड, मोबाइल चार्जिंग प्वाइन्ट तथा आरामदायक सीटें होंगी। हर बीस मिनट में प्रत्येक प्वाइन्ट से सैलानी इस बस में बैठ सकेंगे। इसके लिए सिर्फ एक ही बस मान्य रहेगी। यह बस प्रारंभ होने से पर्यटन को नई गति मिलेगी। प्रथम चरण में छह होप ऑन-होप ऑफ बस की फ्रिक्वेंसी रहेगी। बस में गाइड उपलब्ध होंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned