scriptUttarayan, Gujarat, Ahmedabad, threads, injured birds, animal, karun | उत्तरायण पर आम दिनों से 52.50 फीसदी ज्यादा जख्मी हुए पशु-पक्षी | Patrika News

उत्तरायण पर आम दिनों से 52.50 फीसदी ज्यादा जख्मी हुए पशु-पक्षी

Uttarayan, Gujarat, Ahmedabad, threads, injured birds, animal,
karuna abhiyan, emergency calls increased -अहमदाबाद में सबसे ज्यादा पशु, सूरत में पक्षी हुए जख्मी

-करुणा हेल्पलाइन 1962 पर एक ही दिन में मिले 1371 इमरजेंसी कॉल

अहमदाबाद

Published: January 15, 2022 09:48:26 pm

अहमदाबाद. उत्तरायण पर्व पर लोग बेशक पतंग के आसमान में ऊंचाई छूने और सामने वाले व्यक्ति की पतंग काटने पर काफी खुश होते हों। लेकिन कटकर जाने वाली यह पतंग जब किसी पेड़, तार, ब्रिज, रोड पर जाकर फंसती है तो उसकी डोर कई पशु-पक्षियों के लिए जानलेवा बन बैठती है।
इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उत्तरायण पर्व (14 जनवरी 2022) के दिन करुणा हेल्पलाइन (पशु-पक्षियों की इमरजेंसी एंबुलेंस सेवा) को एक ही दिन में 1371 पशु-पक्षियों के जख्मी होने के इमरजेंसी कॉल मिले हैं। इसमें 731 पशु जबकि 640 पक्षी के घायल होने के कॉल मिले।
आम दिनों की तुलना में पशु-पक्षियों के जख्मी होने (इमरजेंसी कॉल) के यह मामले 52.50 फीसदी ज्यादा हैं। आम दिन में 899 पशु-पक्षियों के ही जख्मी होने के कॉल आते हैं।
उत्तरायण पर सबसे ज्यादा 101 पशु अहमदाबाद में जख्मी हुए। सूरत में 86, वडोदरा में 64, गांधीनगर में 40, महेसाणा 36, पोरबंदर 34 , बनासकांठा 31, राजकोट 29, कच्छ में 28 पशु जख्मी हुए हैं। जबकि सूरत में सबसे ज्यादा 155 पक्षी जख्मी हुए हैं। अहमदाबाद में 147 पक्षी, राजकोट में 57, गांधीनगर में 36, पाटण-पोरबंदर में 31-31 और वडोदरा में 28 तथा साबरकांठा में 25 पक्षी जख्मी हुए।
यह जानकारी करुणा हेल्पलाइन नंबर की ओर से जारी किए आंकड़ों में सामने आई है।
इसमें यह भी बताया गया कि करुणा एनिमल हेल्पलाइन की ओर उत्तरायण के दिन जो इमरजेंसी की घटनाओं में इजाफे का पूर्वानुमान जताया गया था। उससे भी 9.68 फीसदी ज्यादा घटनाएं रिकॉर्ड की गई हैं। 1250 इमजेंसी घटनाओं का पूर्वानुमान व्यक्त कियागया था। जबकि रिकॉर्ड हुईं 1371 घटनाएं। इसमें से ज्यादातर डोर की चपेट में आने के चलते जख्मी हुए हैं।
उत्तरायण पर आम दिनों से 52.50 फीसदी ज्यादा जख्मी हुए पशु-पक्षी
उत्तरायण पर आम दिनों से 52.50 फीसदी ज्यादा जख्मी हुए पशु-पक्षी
731 पशुओं में सर्वाधिक 487 श्वान
उत्तरायण के दिन राज्यभर में जख्मी हुए 731 पशुओं में सबसे ज्यादा 487 श्वान (डॉग) जख्मी हुए हैं। 141 मवेशी, 38 बिल्लियां, 8 भैंस, 6 बकरियां, 49 अन्य पशु जख्मी हुए हैं।
640 पक्षियों में 618 अकेले कबूतर
उत्तरायण पर्व के दिन 14 जनवरी को जख्मी होने वाले 640 पक्षियों में अकेले कबूतरों की संख्या ही 618 है। 7 तोता, चार कौआ, 4 मुॢगयां, 2 गिद्ध, दो मोर, एक चमगादड़, एक बाज, एक चिडिय़ा शामिल है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Election 2022: भाजपा सरकार ने नौजवानों को सिर्फ लाठीचार्ज और बेरोजगारी का अभिशाप दिया है: अखिलेश यादवतमिलनाडु सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा नाईट कर्फ्यू और 1 फरवरी से खुलेंगे सभी स्कूल और कॉलेजपीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे नेशनल कैडेट कॉर्प्स की रैली को संभोधित, दिल्ली के करियप्पा ग्राउंड में होगा कार्यक्रम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.