आपने भी नहीं देखी होगी ऐसी क्लास, कुछ यूं पढ़ाया टीचर्स ने स्टूडेंट्स को

आपने भी नहीं देखी होगी ऐसी क्लास, कुछ यूं पढ़ाया टीचर्स ने स्टूडेंट्स को

raktim tiwari | Publish: Aug, 10 2018 10:15:00 AM (IST) Ajmer, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

 

अजमेर. कॉलेज व्याख्याता भर्ती-2014 के साक्षात्कार परिणाम जारी करने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों का बेमियादी धरना जारी है। गुरुवार को अभ्यर्थियों ने धरना स्थल पर लॉ कॉलेज के विद्यार्थियों को पढ़ाया।

संघर्ष समिति के अध्यक्ष ने बताया कि कॉलेज व्याख्याता भर्ती परीक्षा-2014 पिछले पांच साल से लंबित है। साक्षात्कार के बाद भी राजस्थान लोक सेवा आयोग परिणाम जारी नहीं कर रहा है। इसके चलते अभ्यर्थियों को नौकरियां नहीं मिल पाई हैं। वहीं कॉलेज में भी विषयवार व्याख्याताओं की कमी बनी हुई है। विरोध स्वरूप विधि संकाय के विद्यार्थियों को पढ़ाया गया। इसके तहत उन्हें मूल अधिकार, प्राकृतिक अधिकार और मानवधिकारों की जानकारी दी गई। आयोग के जल्द फैसला नहीं करने पर जल्द क्रमिक अनशन शुरू किया जाएगा।

ढूंढना है नया कुलपति, आए कराएं सर्च कमेटी के लिए मीटिंग

कार्यवाहक कुलपति के बगैर संचालित महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय को जल्द प्रबंध मंडल (बॉम) की बैठक करानी होगी। राजभवन ने कुलपति सर्च कमेटी में विश्वविद्यालय का प्रतिनिधि नियुक्त करने के लिए बॉम की बैठक कराने को कहा है।

प्रो. विजय श्रीमाली के देहान्त के बाद विश्वविद्यालय में कुलपति पद रिक्त है। सरकार और राजभवन ने 18 दिन से कार्यवाहक कुलपति नियुक्त नहीं किया है। इस बीच राजभवन ने विश्वविद्यालय को पत्र भेजकर तत्काल प्रबंध मंडल (बॉम) बैठक बुलाने को कहा है।बनेगी कुलपति सर्च कमेटीनियमानुसार विश्वविद्यालय का स्थाई कुलपति तलाशने के लिए सर्च कमेटी का गठन करना होगा। इसमें विश्वविद्यालय के प्रबंध मंडल (बॉम) द्वारा नामित सदस्य, यूजीसी, राज्य सरकार और राजभवन के सदस्य शामिल होंगे। लिहाजा राजभवन ने विश्वविद्यालय को बॉम की बैठक बुलाने को कहा है। इसमें विश्वविद्यालय अपने प्रतिनिधि का नाम तय कर राजभवन और सरकार को भेजेगा।

कौन करेगा बॉम की अध्यक्षता?

कुलपति पद रिक्त होने से बॉम की अध्यक्षता पर सवाल खड़ा हो गया है। विश्वविद्यालय के एक्ट ७ (१) के तहत प्रबंध मंडल का गठन किया गया है। इसके अध्यक्ष कुलपति (स्थाई या कार्यवाहक) होते हैं। इसमें विश्वविद्यालय के दो प्रोफेसर, राजभवन और सरकार के प्रतिनिधि, दो विधायक, वित्त, योजना और उच्च शिक्षा के शासन सचिव, कॉलेज शिक्षा आयुक्त सदस्य होते हैं। विवि के कुलसचिव सदस्य सचिव के बतौर शामिल होते हैं। कुलपति के बगैर प्रबंध मंडल बैठक नहीं हो सकती है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned