पेशी से लौट रहे डकैत को छुड़ाने का प्रयास विफल

बस में सवार आरएसी जवान ने दिखाया हौसला

यहां बुधवार दोपहर धौलपुर न्यायालय से पेशी से लौटने के दौरान एक बंदी डकैत को छुड़ाने के लिए हमलावरों ने रोडवेज बस पर हमला बोल दिया। वारदात के दौरान हमलावरों ने मिर्च पाउडर फेंक चालानी गार्ड से हथियार छुड़वाने का प्रयास किया, फायरिंग करते हुए बस में दहशत फैला दी। बस में सवार आरएसी जवान ने हौसला दिखाते हुए बंदी डकैत को दबोच लिया, जबकि बस यात्रियों ने हमलावरों पर पलटवार कर दिया।

By: Dilip

Published: 04 Mar 2021, 12:01 AM IST

सैपऊ (धौलपुर). यहां बुधवार दोपहर धौलपुर न्यायालय से पेशी से लौटने के दौरान एक बंदी डकैत को छुड़ाने के लिए हमलावरों ने रोडवेज बस पर हमला बोल दिया। वारदात के दौरान हमलावरों ने मिर्च पाउडर फेंक चालानी गार्ड से हथियार छुड़वाने का प्रयास किया, फायरिंग करते हुए बस में दहशत फैला दी। बस में सवार आरएसी जवान ने हौसला दिखाते हुए बंदी डकैत को दबोच लिया, जबकि बस यात्रियों ने हमलावरों पर पलटवार कर दिया। इसके बाद हमलावर पार्वती नदी के पुल से छंलाग लगा कर फरार हो गए। जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने इलाके को घेर लिया है और हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है।

धौलपुर शहर के कोतवाली थाना इलाके के गांव देवपुरा मारौली निवासी कुख्यात आरोपी धर्मेन्द्र उर्फ लुक्का पुत्र विजय सिंह, जो कि भरतपुर सेवर जेल में बंद है, उसे बुधवार को भरतपुर पुलिस के हैड कांस्टेबल राजेन्द्र सिंह व तीन कांस्टेबलों की टीम पेशी के लिए रोडवेज बस से धौलपुर न्यायालय लाए थे। बंदी डकैत की पेशी के बाद चालानी गार्ड का दल बंदी डकैत को लेकर धौलपुर से भरतपुर के लिए रवाना हुए। इस दौरान रास्ते में गांव जाकी के समीप बस के रूकने पर पांच हथियारबंद युवक बस में चढ़ गए और पार्वती नदी पुल पर पहुंचने पर बंदी डकैत धर्मेन्द्र उर्फ लुक्का को छुड़ाने के प्रयास में चालानी गार्ड की आंखों में मिर्च पाउडर फैंक दिया और बस में फायरिंग करना शुरू कर दी।

आरएसी जवान ने दिया साहस का परिचय

इस बीच बस में सवार भरतपुर आरएसी छठी बटालियन के जवान कुमर सिंह ने फरार होने का प्रयास कर रहे बंदी धर्मेन्द्र उर्फ लुक्का को बस के आगे के बोनट पर दबोच लिया। बंदी के दबोचे जाने पर यात्रियों की हिम्मत भी बढ़ गई और उन्होंने भी हमलावरों को पकडऩे की कोशिश करने लगे। इस दौरान मौका पाकर हमलावर पार्वती नदी के पुल से कूद कर फरार हो गए।

एक बस यात्री भी हुआ घायल

चालानी गार्ड से हथियारों की छीना-छपटी के दौरान बस में सवार मध्य प्रदेश के जगतपुरा क्षेत्र निवासी राजन पुत्र अमर सिंह घायल हो गए। जिसे इलाज के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
यात्रियों में खौफ का माहौल

फायरिंग व मिर्च पाउडर उठाने की वारदात को लेकर रोडवेज बस में सवार यात्रियों में खौफ का माहौल बन गया। पुलिस के पहुंचने के बाद भी यात्रियों के चेहरे पर खौफ साफ नजर आ रहा था।
३५ हजार का इनामी रहा है बंदी

पुलिस पड़ताल में सामने आया है कि जिस बंदी धर्मेन्द्र उर्फ लुक्का को छुड़ाने का प्रयास किया गया, वह धौलपुर पुलिस का ३५ हजार इनामी रह चुका है। आरोपी को गत वर्ष पुलिस ने गिरफ्तार किया गया था। आरोपी की ओर से गत वर्ष बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा व पूर्व मंत्री रमेश मीणा पर अभ्रद टिप्पणी करने का मामला भी सामने आया था।
पहले भी हो चुकी है ऐसी वारदात

पुलिस सूत्रों ने बताया कि कुछ साल पहले भी धौलपुर जिले में बंदी को छुड़ाने का सफल प्रयास हो चुका है। यह वारदात भी सैप ऊ थाना इलाके में घटित हुई थी, इस दौरान रोडवेज बस पर हमला करते हुए कुख्यात डकैत मुकेश ठाकुर को छुड़ा लिया था और चालानी गार्ड से हथियार भी छीन कर ले गए थे।
व्यवस्था पर खड़े हुए सवाल

सैपऊ में बंदी को छुड़ाने के प्रयास के मामले के बाद सरकार की व्यवस्थाओं पर एक बार फिर से सवाल खड़े हो गए है। हार्डकोर अपराधियों को इस प्रकार कुछ जवानों के साथ राजस्थान रोडवेज की रोडवेज बस में सवार होकर लम्बी यात्रा पर पेशी पर लाना आमजन के लिए खतरा बन गया है।

इनका कहना....
बंदी को छुड़ाने के मामले में हमलावरों को पकडऩे के लिए पुलिस ने प्रयास तेज कर दिए है। पुलिस ने पीछा करते हुए एक आरोपी को दबोच लिया है, जबकि अन्य को पकडऩे के प्रयास जारी बने हुए है।

केसर ङ्क्षसह शेखावत, जिला पुलिस अधीक्षक, धौलपुर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned