Bribe case: एसीबी ने एचपीसीएल के डीजीएम और दलाल को दबोचा

आरोपियों से दो लाख रुपए की घूस राशि बरामद। एसीबी की जयपुर,निवाई, अलीगढ़ और अजमेर में कार्रवाई।

By: raktim tiwari

Published: 21 Jun 2021, 09:01 AM IST

अजमेर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपॉरेशन लिमिटेड के कोटा में तैनात डिप्टी जनरल मैनेजर सहित दलाल को दो लाख रुपए की राशि सहित गिरफ्तार किया। राशि निवाई के एक पेट्रोल पम्प संचालक के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने की एवज में मांगी गई थी। एसीबी ने अजमेर में भी सेल्स ऑफिसर की भूमिका को संदिग्ध मानते हुए उसके मकान को सीज कर दिया है।

एसीबी को हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपॉरेशन लिमिटेड में भ्रष्टाचार की शिकायतें मिली थी। महानिदेशक बी.एल. सोनी और एडीजी दिनेश. एम.एन के निर्देश पर लम्बे अर्से से कम्पनी के अफसरों के मोबाइल सर्विलांस पर थे।

दो लाख रुपए सहित गिरफ्तार
एचपीसीएल के कोटा डिपो स्थित डिप्टी जनरल मैनेजर राजेश कुमार सिंह ने टोंक के निवाई स्थित दीक्षा पेट्रोल पम्प संचालक प्रदीश वर्मा से कार्रवाई नहीं करने की एवज में दो लाख रुपए रिश्वत मांगी। प्रदीश ने यह राशि सिंह के दलाल सवाई माधोपुर खंडार निवासी पेट्रोल पम्प संचालक किशन विजय को सौंपी। किशन ने रिश्वत राशि में से 1 लाख रुपए खुद रखे। जबकि 1 लाख रुपए लेकर जयपुर पहुंचा। यहां एसीबी की टीम ने सिंह और किशन को दो लाख रुपए राशि सहित गिरफ्तार कर लिया।

राज्य में यूं चली कार्रवाई
घूसकांड का नेटवर्क बड़ा होने के चलते एसीबी की जयपुर और अजमेर टीम ने चार जगह कार्रवाई अंजाम दी। इसमें राजेश कुमार सिंह और किशन को जयपुर में पकड़ा। जबकि टोंक निवाई स्थित दीक्षा पेट्रोल पम्प, टोंक अलीगढ़ स्थित बजरंग फिलिंग स्टेशन पर पड़ताल की गई। एसीबी ने पेट्रोल पम्प संचालकों से पेट्रोल के लाइसेंस, अनापत्ति प्रमाण पत्र और अन्य मामलों में पूछताछ की। इसके अलावा दलाल किशन के सवाई माधोपुर खंडार स्थित आवास पर भी तलाश ली गई।

अजमेर में सीज किया मकान
अजमेर में एसीबी की टीम सीआई मीरा बेनीवाल के नेतृत्व में एचपीसीएल के सेल्स ऑफिसर के आवास पर पहुंची। यहां मकान पर ताला लगा मिला। अधिकारियों ने अधिकारी की भूमिका को संदिग्ध मानते हुए मकान को सीज कर दिया। मालूम हो कि अधिकारी लम्बे समय से अजमेर में तैनात था।


एचपीसीएल के डीजीएम और दलाल को जयपुर में दो लाख रुपए रिश्वत राशि के साथ गिरफ्तार किया है। टोंक में पेट्रोल पम्प संचालकों और सवाई माधोपुर-अजमेर में भी विभिन्न मामलों में तफ्तीश जारी है। एसीबी की जयपुर और अजमेर टीम कार्रवाई में जुटी है।
समीर कुमार सिंह, एसपी एसीबी अजमेर

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned