कोरोना ने रोकी राह : अजमेर के दस मेडिकोज यूक्रेन में फंसे

सांसद चौधरी ने गृह और विदेशमंत्री को लिखा पत्र, अभिभावकों में बढ़ी चिंता

Baljeet Singh

27 Mar 2020, 05:01 AM IST

अजमेर. कोरोना संकट के कारण दुनिया भर के देशों में हुए लॉकडाउन के चलते यूक्रे न में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे अजमेर के 10 युवा भी फंस गए हैं। इन्हें यूक्रेन से एयरलिफ्ट कराकर भारत लाए जाने के लिए अजमेर के सांसद भागीरथ चौधरी ने गृहमंत्री अमित शाह और विदेश मंत्री एस.जयशंंकर को पत्र लिखकर हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है। उधर, अभिभावकों में बच्चों को लेकर बेतहाशा चिंता है।

पूर्वी यूरोप स्थित देश यूक्रेन की ब्यूकोवेनियन स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी में अजमेर के फॉयसागर रोड स्थित शिवनगर निवासी धर्मराज जैतावत के पुत्र गौरव जैतावत, टीटी कॉलेज की लायब्रेरियन सिविल लाइंस निवासी वंदिता माथुर के पुत्र सिद्धित उदावत व गल्र्स स्कूल क्रिश्चियनगंज की प्राचार्य मंजू चैनानी की पुत्री ऋचा सहित धोलाभाटा निवासी खान मोहम्मद फरहान, हर्षिता सिंह बायस, आशी ज्योतियाना, फ्रेजर रोड का साहिल मीतावन, माकड़वाली रोड की रवीना टिलवानी, शास्त्री नगर की पर्ली राठौड़ व क्रिश्चियनगंज का ऋतिक सांखला शामिल हैं।


प्रदेश के हैं तीन सौ छात्र

ब्यूकोवेनियन मेडिकल यूनिवर्सिटी में अजमेर के 10 युवाओं सहित राज्य के अलग-अलग शहरों से गए 300 विद्यार्थी पढ़ रहे हैं। जबकि देशभर से तकरीबन डेढ़ हजार छात्र उस यूनिवर्सिटी में हैं। अजमेर से गए बच्चे एमबीबीएस कोर्स में सैकंड ईयर से लेकर फिफ्थ ईयर तक के स्टूडेंट हैं। इनमें से ऋतिक सांखला का पांचवां साल है, जबकि ऋचा चैनानी चौथे, खान मोहम्मद और साहिल सैकंड एवं शेष एमबीबीएस थर्ड ईयर के छात्र हैं।


रह रहे हैं हॉस्टल में

गौरव जैतावत के पिता धर्मराज जैतावत ने बताया कि इंटरनेशनल फ्लाइट बंद होने से बच्चों का भारत आना भी संभव नहीं हो पा रहा है। जैतावत के अनुसार बच्चों से बातचीत किए जाने पर उन्होंने गत 3 मार्च से यूक्रेन में सभी कॉलेज बंद होने के बाद लॉकडाउन होने की जानकारी दी। सभी विदेशी स्टूडेंट को हॉस्टल में ही रखा गया है। जहां अब खाने-पीने की भी भारी समस्या हो रही है। लॉकडाउन के कारण आसपास के सभी मार्केट-रेस्टोरेंट और मॉल्स भी बंद हैं। पैसा भी उन तक नहीं पहुंच पा रहा है।

baljeet singh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned