शादी का झांसा देकर देहशोषण

आरोपी से युवती के एक पुत्र भी, पुलिस कर रही है मामले में पड़ताल

By: manish Singh

Published: 10 Oct 2021, 02:52 AM IST

अपराध संक्षिप्त

अजमेर. शादी का झांसा देकर देहशोषण करने का मामला सामने आया है। देहशोषण के आरोपी से पीडि़ता के पुत्र भी हो गया लेकिन आरोपी ने शादी नहीं की। पीडि़ता ने अब आरोपी के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया।
पुलिस के अनुसार पीडि़ता ने हरियाणा भिवाड़ी निवासी अरुण चुग के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया। पीडि़ता ने रिपोर्ट में बताया कि कुछ साल पहले उसकी अरुण से पहचान हुई। दोनों में दोस्ती बढ़ी तो आरोपी ने उसको शादी का सब्जबाग दिखा शारीरिक संबंध बनाए। आरोपी लगातार उसका देहशोषण करता रहा। जिससे वह गर्भवती हो गई। पुत्र होने के बाद आरोपी ने उससे शादी नहीं की। पीडि़ता ने अब उसके खिलाफ रामगंज थाने में बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराया।
ट्रांसफार्मर से कॉपर वायर चोरी

खबर-2

नाबालिग को बालश्रम से कराया मुक्त

अजमेर. मानव तस्करी विरोधी शाखा व चाइल्ड लाइन संस्था ने किशनगढ़ में संयुक्त कार्रवाई कर एक बालक को बालश्रम से मुक्त कराया।
पुलिस अधीक्षक जगदीशचन्द्र शर्मा ने बताया कि 8 अक्टूबर रात एएसपी परामर्श एवं सहायता केन्द्र सुनीलकुमार तेवतिया के निर्देशन में मानव तस्करी विरोधी यूनिट व चाइल्ड लाइन टीम ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए किशनगढ़ से एक १२ वर्ष के नाबालिग को बालश्रम से मुक्त कराया। बालक को बहुत कम पारिश्रमिक देकर उसे 8 से 10 घंटे काम कराया जाता था। मानव तस्करी विरोधी इकाई से प्रभारी कल्पना राठौड़, उप निरीक्षक अशोक विश्नोई, हैड कांस्टेबल हरभानसिंह, सिपाही रामस्वरूप व चाइल्ड लाइन से कुशालसिंह रावत व वनिता पंवार टीम में शामिल थे। उसके पुनर्वास के लिए बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया।

18 साल से कम से काम लेना अपराध

एसपी शर्मा ने बताया कि 18 साल से कम उम्र के बालकों को किसी भी प्रकार का काम कराना बालश्रम के दायरे में ही आता है। बालश्रम कराना व बाल श्रमिक को रखना कानूनी अपराध है। जिला पुलिस बच्चों की सुरक्षा, स्वास्थ्य व भविष्य को देखते हुए आगामी दिनों में भी रेस्क्यू ऑपरेशन लगाचार चलाएगी।

खबर-3

ट्रांसफार्मर से कॉपर वायर चोरी

अजमेर.बिजली के ट्रांसफार्मर से कॉपर वायर चोरी का मामला सामने आया है। टाटा पावर के जोनल मैनेजर व एईएन ने मामले में गंज थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है।
एएसआई प्रेम सिंह ने बताया कि टाटा पावर के जोनल मैनेजर व एईएन विकास फौजदार ने 5 अक्टूबर को थाने पर दी रिपोर्ट में बताया कि अजयपाल रोड अजयसर में खातून बानों के खेत पर कृषि कनेक्शन के लिए विद्युत ट्रांसफार्मर लगाया गया था। गतदिनों अज्ञात चोर खेत में लगे ट्रांसफार्मर से कॉपर वायर चोरी कर ले गए। पुलिस ने फौजदार की रिपोर्ट पर राजस्थान विद्युत अधिनियम में प्रकरण दर्जकर अनुसंधान शुरू कर दिया।

खबर-4

फर्जी हस्ताक्षर कर बेच दी साझा सम्पत्ति

अजमेर. फर्जी हस्ताक्षर कर साझा सम्पत्ति के बेचान का मामला पता चला है। खरीदार ने फर्जी हस्ताक्षर से सम्पत्ति के बेचान का इकरारनामा कर अग्रिम भुगतान प्राप्त करने पर विक्रेता के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पड़ताल शुरू की है।
सहायक उप निरीक्षक चांद सिंह ने बताया कि ८ अक्टूबर को इस्तगासा से परिवादी जोंसगंज निवासी रिषभ सिंह पुत्र महेन्द्र सिंह ने रिपोर्ट देकर बताया कि उसने ललित कुमार, चित्रा शर्मा और कृष्ण कुमार से रामगंज स्थित सम्पत्ति की खरीद के लिए इकरार किया। आरोपियों ने उसको स्वयं की सम्पत्ति बताकर बेचान के बदले अग्रिम भुगतान कुल साढ़े ७ लाख रुपए प्राप्त कर इकरारनामा निष्पादित करवाया। जब उसने सम्पत्ति को स्वयं के नाम कराना चाहा तो इकरारनामे पर चौथे साझेदार वाणी शर्मा के हस्ताक्षर फर्जी होना पता चले। जबकि सम्पत्ति ललित कुमार, चित्रा शर्मा व कृष्ण कुमार ने अपनी होना बताकर बेचान किया था। पुलिस ने रिषभ सिंह की रिपोर्ट पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्जकर जांच शुरू कर दी है।

खबर-5

महिला सफाईकर्मी से मारपीट के आरोपी गिरफ्तार

अजमेर. अलवर गेट थाना पुलिस ने नगर निगम की महिला सफाई कर्मी से मारपीट के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उन्हें अदालत में पेश किया। जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। पुलिस के अनुसार 8 अक्टूबर शाम को धोलाभाटा इन्द्रा नगर निवासी पवन सोनकर, रीना सोनकर, नेहा सोनकर पत्नी सागर सोनकर को गिरफ्तार किया। आरोपियों ने मई में नगर निगम की महिला सफाईकर्मी के साथ मारपीट कर अभद्र व्यवहार किया था।

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned