तीनों कृषि बिल निरस्त कराने के बाद ही घर लौटेंगे किसान,केन्द्र सरकार हठधर्मिता छोड़ें: टिकैत

किसान महापंचायत में राकेश टिकैत ने केन्द्र सरकार को पूंजीपतियों का हितैषी बताया,पीएम मोदी पर छोटे व बड़े किसान के नाम पर धरतीपुत्रों को बांटने का लगाया आरोप

By: suresh bharti

Published: 03 Mar 2021, 12:30 AM IST

झुंझुनूं. जिले के किसानों को दिल्ली सीमा स्थित शाहजहांपुर बुलाने, नए कृषि कानूनों के नुकसान बताने तथा आमजन को जागरूक करने के लिए भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत मंगलवार को झुंझुनूं आए।

बस डिपो के निकट कर्बला मैदान में आयोजित किसान महापंचायत में उन्होंने कहा कि किसान तीनों कानून वापस करा तथा एमएसपी पर खरीद का कानून बनावाकर ही घर लौटेंगे। राजस्थान के किसानों के गेहूं अगर यहां अच्छे दामों में नहीं बिके तो ट्रैक्टरों में भरकर दिल्ली ले आओ।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अब छोटे किसान व बड़े किसानों का नाम लेकर बांटने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन किसान अब समझ चुका है। झुंझुनूं के किसान गांवों में कमेटियां बनाएं। ज्यादा से ज्यादा संख्या में दिल्ली सीमा पर जाएं। आपके सहयोग से ही जीत होगी। झुंझुनूं वीरों की धरा है। राष्ट्रीय महासचिव युद्धवीर सिंह ने कहा कि मोदी सरकार ने पांच राज्यों का किसान आंदोलन तो मान लिया है, लेकिन यह आंदोलन कश्मीर से कन्याकुमारी तक फैलेगा। केन्द्र सरकार को घुटने टेकने के लिए बाध्य करेंगे।

गोदाम पहले बने, कानून बाद में आया : अमराराम

अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमराराम ने कहा कि यह कानून व्यापारियों के लिए बने हैं। इसका बड़ा उदाहरण है कि हरियाणा व पंजाब में अडानी के गोदाम कानून आने से पहले ही बन गए थे।

23 को पूरा भारत बंद

अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष गुरुनाम सिंह ( पंजाब)ने कहा कि 5 मार्च को सीमा पर महिला दिवस मनाया जाएगा। इसके बाद 23 मार्च को शहीद भगत सिंह के शहादत दिवस पर पूरा भारत बंद रखा जाएगा। इसकी तैयारियां की जा रही है।

मुख्यमंत्री गहलोत को भी कोसा

राजस्थान किसानसभा के राज्य महासचिव तारासिंह सिद्धू ने कहा कि राज्य की कांग्रेस की गहलोत सरकार को हरियाणा व पंजाब के बराबर डीजल के दाम करने चाहिए। पचास वर्ष से सुन रहे हैं कि यमुना का पानी आएगा,लेकिन कांग्रेस अभी तक यमुना का पानी लेकर नहीं आई।

भाजपा नेताओं को गांव में मत घुसने दो : राजाराम

राजस्थान जाट महासभा के अध्यक्ष राजाराम मील ने कहा कि तीनों कृषि कानूनों को संसद में पास करवाने वाले भाजपा के नेताओं को गांव में मत घुसने दो। उनके झंडे छीन लो। गुलाम नबी आजाद और मोदी ने झूठे आसंू बहाए हैं। मैं आज कह रहा हूं कि गुलाम नबी भाजपा के टिकट पर राज्यसभा में जाएगा।
प्रतिभा ङ्क्षसह ने दोनों दलों को कोसा

नवलगढ़ की पूर्व विधायक प्रतिभा सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार व्यापारियों के हितों के लिए काम कर रही है। इसे किसानों की ङ्क्षचता नहीं है। कांग्रेस का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि इससे पहले जो सरकार थी, उसने भी किसानों के लिए घोषणा क्यों नहीं की? उसे किसने रोका था?

इन्होंने भी किया सम्बोधित

महापंचायत को कंडेला खाप जींद के टेकराम कंडेला, किसानसभा के राज्य महासचिव छगनलाल, अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय सचिव रामचंद्र कुलहरि, फूलचंद बर्बर, राहुल चौधरी, एसएफआई के महासचिव सोनू जिलोवा, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के पंकज धनखड़, राजस्थान युवा जाट महासभा के कुलदीप ढेवा,ओमप्रकाश झारोड़ा, दिलीप सिंह, मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट के इब्राहिम, सलीम चौहान, शेरसिंह नेहरा, कैलाश यादव,सुमेर सिंह बुड़ानिया, गजराज कटेवा आदि ने भी संबोधित किया।

माल्यार्पण कर चांदी का मुकुट पहनाया

मुस्लिम समाज की तरफ से 101 किलो की माला व अशोक मिठारवाल की तरफ से 51 किलो की माला पहनाकर टिकैत का स्वागत किया । सलीम चौहान झुंझुनू ने राकेश टिकैत व युद्धवीर सिंह को चांदी का मुकुट पहनाया। जिला परिषद सदस्य राज अहलावत ने मंच पर 21 हजार रुपए संयुक्त किसान मोर्चा को भेंट किए।

विधायक चंदेलिया व पूनिया को बोलने नहीं दिया

महापंचायत में पिलानी से कांग्रेस के विधायक जेपी चंदेलिया व महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष तारा पूनिया भी मौजूद रही,लेकिन दोनों को ही मंच से बोलने नहीं दिया गया। इस बारे में प्रवक्ता रामचंद्र कुल्हरी व फूलचंद बर्बर ने बताया कि हमने किसी वर्तमान विधायक तथा भाजपा/कांग्रेस नेता को नहीं बुलाया था। यह कार्यक्रम केवल किसानों के लिए था। चंदेलिया व पूनिया बिना बुलाए आए थे।

भाजपा के टिकट पर चुनाव नहीं लडूंगा : टिकैत

पत्रकार वार्ता में एक सवाल के जवाब में टिकैत ने कहा कि वह भाजपा के टिकट पर कभी िचुनाव नहीं लड़ेंगे। अभी राजनीति की नहीं केवल किसानों की बात करने आया हूं। उनसे पूछा कि पहले भी तो आप चुनाव लड़ चुके हैं। इस पर टिकैत ने कहा कि चुनाव तो भारत का कोई भी नागरिक लड़ सकता है।

चिड़ावा में खाया हलवा, सब्जी में डाला पानी

चिड़ावा. किसान नेता टिकैत स्टेशन रोड पर करीब आधा घंटा तक रुके। यहां जयङ्क्षसह डूडी के घर पर भोजन किया। उन्होंने आलू-मटर की सब्जी, सीरा (हलवा), दाल, गेंहू की रोटी, रायता खाया। टिकैत ने सब्जी में नमक और मिर्च कम करने के लिए उसमें पानी डाल लिया। बाद में सब्जी में मिले पानी को गिलास में खाली कर दिया। इसके बाद सब्जी खाई। टिकैत ने बताया कि ऐसा करने से सब्जी ठंडी हो जाती है। सब्जी में नमक और मिर्च की मात्रा भी ठीक हो जाती है।

फोटो : ट्रैक्टर और ट्रक का तालमेल जरूरी

चिड़ावा. टिकैत ने कहा कि जिस दिन ट्रैक्टर और ट्रक का तालमेल होगा, उस दिन सब ठीक हो जाएगा। ट्रैक्टर और ट्रक का साथ आना जरूरी है। इस मौके पर प्रधान इंद्रा डूडी, पालिकाध्यक्ष सुमित्रा सैनी, उप प्रधान विपिन नूनियां, सुरेश भूकर, संजय नूनियां, सुनील झाझडिय़ा, निरंजनलाल सैनी, राजेश गोदारा, दिनेश डूडी, पार्षद मिंटू देवी, चरणसिंह, वीरप्रकाश झाझडिय़ा, अमित कुल्हरी, सुनील कुमार बारी का बास, अजीत चनानिया बिल्लू, मोनू बलौदा, सीताराम कुमावत, रमेश कटेवा, रोबिन शर्मा, खादिम हुसैन, अनिल मान, कपिल कटेवा कासी, राकेश सेही, सुमेर झाझडिय़ा आदि मौजूद रहे।

suresh bharti Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned