पुलिस पीपीई किट (PPE Kit) पहनकर पहुंची इस कुख्यात गैंगस्टर के गुर्गे को दबोचने

फरारी काटने में पपला की मदद कर चुका है जोगेंद्र

 

By: tarun kashyap

Published: 16 Apr 2020, 10:33 PM IST

भिवाड़ी. भिवाड़ी जिला पुलिस (Police) ने कुख्यात गैंगस्टर पपला गुर्जर(Gangster Papla Gurjar) की फरारी काटने में मदद करने वाले गुर्गे को गिरफ्तार किया है। पुलिस कोरोना वायरस (Corona Virus)की स्क्रीनिंग करने वाली टीम के वेश में पीपीई किट(PPE Kit) पहन मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में कार्यरत जोगेंद्र बोकन को गिरफ्तार करने यहां उसके बादशाहपुर स्थित घर पहुंची। जोगेंद्र मुम्बई में शॉर्ट मूवी और थियेटर में अभिनय करता है और पपला के नाम से फिल्म इंडस्ट्री में धाक जमाता था। फरारी के दौरान पपला की आर्थिक मदद के लिए अपनी शादी की तीन अंगूठियां और चैन उसे दी थी। दोनों पहले गुरुग्राम में साथ जिम करते थे। गिरफ्तार आरोपी का मुंबई स्थित फ्लैट हरियाणा के बदमाशों की शरणस्थली बना हुआ था।
भिवाड़ी एसपी डॉ. अमनदीपसिंह कपूर ने बताया कि गत ३० नवंबर 19 को मुंडावर थाने में दर्ज एक मामले में गिरफ्तार तिजारा के टिहली निवासी नरेंद्र, खैरोली निवासी दिनेश व रेवाड़ी निवासी आकाश ने पूछताछ के दौरान बताया कि पपला गुर्जर अपनी गैंग के साथ मिलकर मोहनपुर निवासी गैंगस्टर चीकू की हत्या की साजिश रच रहा है। इसके बाद मामले की जांच बहरोड़ डीएसपी अतुल साहू को सौंपी गई। इस दौरान पता चला कि जोगेंद्र मुंबई से फ्लाइट से गुरुग्राम के बादशाहपुर क्षेत्र स्थित अपने गांव दरबारीपुर आया हुआ है। जहां से बादशाहपुर निवासी जोगेंद्र को उसके घर से गिरफ्तार किया।

जिम में हुई दोनों की दोस्ती

पुलिस के अनुसार पपला गुर्जर व जोगेंद्र की कुछ साल पहले गुरुग्राम (Gurugram)के एक जिम में मुलाकात हुई तथा दोनों एक-दूसरे के गहरे दोस्त बन गए। पपला अपराध की दुनिया में आगे बढ़ता गया तथा जोगेंद्र फिल्म इंडस्ट्री में किस्मत आजमाने लगा। बहरोड़ थाने के लॉकअप से फरार होने के बाद पपला ने अचानक जोगेंद्र के पास जाकर आर्थिक मदद मांगी तो उसने अपनी शादी की सोने की तीन अंगूठियां व दो चेन दे दी। फरारी के दौरान पपला (Papla)को जब जब गाड़ी की जरूरत महसूस हुई तो जोगेंद्र ने अपनी महंगी गाडिय़ों में उसे कई राज्यों की सीमा पार कराई। पपला ने जब गैंगस्टर चीकू को मारने की साजिश रची तो जोगेंद्र भी अपने दोस्त पपला की मदद के लिए साजिश में शामिल हो गया। जोगेंद्र कुछ शॉर्ट मूवी और थियेटर में अभिनय कर चुका तथा पपला के नाम से बॉलीवुड में धाक जमाना शुरू कर दिया था। आखिर में चीकू को मारने की साजिश में शामिल होने व पपला की मदद के कारण सलाखों के पीछे पहुंच गया।

घर के बाहर कसरत करता मिला

टीम प्रभारी सुनील जांगिड़ ने जोगेंद्र को पकडऩे के लिए प्लान तैयार किया तथा डीएसटी भिवाड़ी के एएसआई जसवंत सिंह को पीपीई किट पहनाकर चिकित्सक और कांस्टेबल सुनील व योगेश को सहायक बनाकर जोगेंद्र के घर स्क्रीनिंग के बहाने भेजा। बाकी पुलिस टीम कुछ दूरी पर रुक गई। पुलिस टीम जोगेंद्र के घर पहुंचती, उससे पहले ही वह बाहर कसरत करता मिल गया। पुलिस ने जोगेंद्र को मौके से गिरफ्तार कर लिया तथा रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ कर रही है।

टीम में ये थे शामिल

जोगेंद्र को पकडऩे नीमराणा एएसपी सिद्धांत शर्मा के नेतृत्व में टीम गठित की गई थी। टीम में बहरोड़ डीएसपी अतुल साहू, डीएसपी एससी-एसटी सेल महावीरसिंह शेखावत, डीएसटी प्रभारी नीमराणा सुनील जांगिड़, चौपानकी एसएचओ व डीएसटी प्रभारी भिवाड़ी मुकेश कुमार व जसवंत सिंह एएसआई डीएसटी भिवाड़ी सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे।

tarun kashyap Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned